Home /News /business /

unable to log in to itr e filing portal you may have to link pan aadhaar first prdm

आईटीआर भरने के लिए ई-फाइलिंग पोर्टल पर नहीं हो रहा लॉग इन, हम बताते हैं पहले आपको क्‍या करना होगा?

आईटीआर भरने की डेडलाइन 31 जुलाई को बीत चुकी है.

आईटीआर भरने की डेडलाइन 31 जुलाई को बीत चुकी है.

अगर आप आयकर रिटर्न की डेडलाइन बीतने के बाद आईटीआर भरने की सोच रहे लेकिन ई-फाइलिंक पोर्टल पर आपका लॉग इन नहीं हो पा रहा तो सबसे पहले चेक करें कि आपका पैन व आधार लिंक है या नहीं. ध्‍यान रहे कि अब पैन और आधार लिंक कराने के लिए आपको मोटी फीस भी चुकानी होगी.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

30 जून, 2022 तक पैन-आधार लिंक कराने के लिए 500 रुपये देने पड़ते थे.
अब पैन-आधार लिंक कराने के लिए 1,000 रुपये की लेट फीस देनी होगी.
80 साल से ज्‍यादा उम्र के नागरिकों के लिए भी यह सुविधा निशुल्‍क है.

नई दिल्‍ली. आयकर विभाग ने इस साल लाखों करदाताओं की उम्‍मीदों पर पानी फेरते हुए रिटर्न भरने की डेडलाइन बढ़ाने से इनकार कर दिया और 31 जुलाई की तय सीमा बीत जाने के बाद भी कुछ लोग अपना आईटीआर नहीं भर सके. लिहाजा कई करदाता लेट फीस के साथ आईटीआर भरना चाह रहे लेकिन उनका ई-फाइलिंग पोर्टल नहीं खुल रहा.

दिल्‍ली की रहने वाली रुचि एक निजी कंपनी में काम करती हैं, लेकिन पिछले कुल साल से उन्‍होंने अपना आईटीआर नहीं भरा. इस बार भी डेडलाइन बीत जाने के बाद वे अपना आईटीआर भरना चाह रहीं, लेकिन अब मुश्किल ये है कि आयकर विभाग का ई-फाइलिंग पोर्टल नहीं खुल रहा. रुचि का पासवर्ड भी अब पुराना हो गया है. अब जब वे अपना पासवर्ड बदलना चाहती हैं तो उन्‍हें पैन और आधार लिंक करने का एसएमएस आ रहा है. सबसे चिंताजनक बात ये है कि उनका पैन और आधार भी लिंक नहीं हो रहा. ऐसी समस्‍या कई करदाताओं के साथ आ रही होगी तो हमने एक्‍सपर्ट से इसका जवाब जानने की कोशिश की.

ये भी पढ़ें – डिजिटल कर्ज के संबंध में आरबीआई ने जारी के नए नियम, केवल रेगुलेटेड इकाई ही दे पाएगी अब लोन

क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट
टैक्‍स मामलों के जानकार अतुल जैन का कहना है कि सीबीडीटी की ओर से 30 मार्च, 2022 को जारी सर्कुलर के अनुसार, जिन व्‍यक्तियों को 1 जुलाई, 2017 से पहले पैन अलॉट किए गए हैं, उन्‍हें अपना पैन और आधार 31 मार्च, 2022 तक लिंक कराना जरूरी है. ऐसा नहीं करने पर करदाताओं को 30 जून, 2022 तक पैन-आधार लिंक कराने के लिए 500 रुपये देने पड़ेंगे. अगर यह अवधि भी बीत गई तो पैन-आधार लिंक कराने के लिए 1,000 रुपये की लेट फीस देनी होगी.

इसका मतलब हुआ कि रुचि को पहले 1,000 रुपये का भुगतान कर अपना पैन और आधार लिंक कराना होगा, उसके बाद ही आईटीआर फाइल किया जा सकेगा. चूंकि, आईटीआर भरने की डेडलाइन भी बीत चुकी है, लिहाजा यहां भी 500 रुपये की लेट फीस भरकर ही रिटर्न दाखिल किया जा सकेगा.

पैन-आधार लिंक कराने के लिए कैसे करें भुगतान
-सबसे पहले NSDL के ऑफिशियल पोर्टल पर जाएं और चालान नंबर ITNS 280 को सेलेक्‍ट कर आधार-पैन लिंक का रिक्‍वेस्‍ट डालें.
-यहां सिंगल चालान के जरिये 1,000 रुपये की फीस जमा करनी होगी.
-इसके बाद आप 4-5 दिन का इंतजार करें जब तक NSDL से भुगतान होने की कंफर्मेशन आ जाएगी फिर आप ई-फाइलिंक पोर्टल पर पैन-आधार लिंक करने की रिक्‍वेस्‍ट डालेंगे.
-अगर आपका भुगतान सही रहा तो इस पोर्टल के जरिये पैन-आधार लिंक हो जाएगा.

अगर 4-5 दिन बाद भी आप पैन-आधार लिंक करने की रिक्‍वेस्‍ट नहीं डाल पा रहे तो अपने भुगतान के चेक करें कि क्‍या वह माइनर हेड कोड 500 में हुआ है कि नहीं. अगर भुगतान सही है तो आप हेल्‍पडेस्‍क से संपर्क कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं. अगर भुगतान गलत हेड पर चला गया है तो आप चालान करेक्‍शन की रिक्‍वेस्‍ट भी डाल सकते हैं.

इन्‍हें नहीं देना होगा कोई शुल्‍क
आयकर विभाग ने कुछ खास मामलों में पैन-आधार लिंक करने पर फीस माफ कर दी है. ऐसे करदाताओं को पैन-आधार लिंक कराने से पहले कोई शुल्‍क नहीं देना होगा. आयकर विभाग के अनुसार, एनआरआई और गैर भारतीय नागरिकों को इस काम के लिए कोई शुल्‍क नहीं देना पड़ेगा. इसके अलावा 80 साल से ज्‍यादा उम्र के नागरिकों के लिए भी यह सुविधा निशुल्‍क है, जबकि असम, मेघालय, जम्‍मू एवं कश्‍मीर राज्‍यों के नागरिकों के लिए भी पैन-आधार लिंक करने पर शुल्‍क से छूट मिल रही है.

Tags: Business news in hindi, Income tax return, ITR, ITR filing, PAN-Aadhaar linking

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर