होम /न्यूज /व्यवसाय /NSO का दावा, अक्टूबर-दिसंबर में शहरी इलाकों में बेरोजगारी दर घटकर 8.7 फीसदी रही

NSO का दावा, अक्टूबर-दिसंबर में शहरी इलाकों में बेरोजगारी दर घटकर 8.7 फीसदी रही

NSO ने कहा- कारोबार में तेजी से अक्तूबर-दिसंबर में दिखा सुधार.

NSO ने कहा- कारोबार में तेजी से अक्तूबर-दिसंबर में दिखा सुधार.

Unemployment in India: नेशनल स्टैटिकल ऑफिस के सर्वे के मुताबिक, शहरी क्षेत्रों में 15 साल और उससे अधिक आयु के व्यक्तियो ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. महामारी के बाद शहरी बेरोजगारी दर में गिरावट आई है. शहरी क्षेत्रों में 15 साल और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों के लिए बेरोजगारी दर (Unemployment Rate) अक्टूबर-दिसंबर 2021 में घटकर 8.7 फीसदी रह गई. यह आंकड़ा इससे एक साल पहले की समान अवधि में 10.3 फीसदी था. नेशनल स्टैटिकल ऑफिस यानी एनएसओ (NSO) के एक निश्चित अवधि पर होने वाले लेबर फोर्स सर्वेक्षण से यह पता चला है.

कुल लेबर फोर्स में बेरोजगार व्यक्तियों के प्रतिशत को बेरोजगारी दर (UR) कहते हैं. देश में कोविड महामारी को काबू में करने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों के चलते अक्टूबर-दिसंबर 2020 में बेरोजगारी दर काफी अधिक थी.

महिलाओं की बेरोजगारी दर में गिरावट
एनएसओ के 13वें पीरियॉडिक लेबर फोर्स सर्वे यानी पीएलएफएस (PFLS) के मुताबिक जुलाई-सितंबर 2021 में शहरी क्षेत्रों में बेरोजगारी दर 9.8 फीसदी थी. सर्वेक्षण के मुताबिक शहरी क्षेत्रों में महिलाओं (15 वर्ष और उससे अधिक आयु) में बेरोजगारी दर भी अक्टूबर-दिसंबर 2021 में घटकर 10.5 फीसदी रह गई, जो इससे एक साल पहले समान अवधि में 13.1 फीसदी थी. यह आंकड़ा जुलाई-सितंबर 2021 में 11.6 फीसदी था.

पुरुषों के मोर्चे पर भी राहत
शहरी क्षेत्रों में पुरुषों में बेरोजगारी दर भी अक्टूबर-दिसंबर 2021 में घटकर 8.3 फीसदी रह गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 9.5 फीसदी थी. यह आंकड़ा जुलाई-सितंबर 2021 में 9.3 फीसदी था.

ये भी पढ़ें- Unemployment in India: बेरोजगारी दर में गिरावट, कर्नाटक और गुजरात में सबसे कम लोग बेरोजगार

शहरी क्षेत्रों में सीडब्ल्यूएस (Current Weekly Status) में लेबर फोर्स पार्टिसिपेशन दर अक्टूबर-दिसंबर 2021 तिमाही में इससे एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में 47.3 फीसदी पर अपरिवर्तित रही. जुलाई-सितंबर 2021 में यह आंकड़ा 46.9 फीसदी था.

Tags: Unemployment Rate

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें