अपना शहर चुनें

States

पर्सनल लोन लेना चाह रहे हैं, इन दो बैंकों की ब्याज दरें हैं सबसे कम

सिस्टम में ब्याज दरों में नरमी की वजह से ब्याज दरें तुलनात्मक रूप से कम दिख रही हैं, लेकिन इसके बावजूद ये गोल्ड लोन और टॉपअप लोन के मुकाबले भी ज्यादा हैं.
सिस्टम में ब्याज दरों में नरमी की वजह से ब्याज दरें तुलनात्मक रूप से कम दिख रही हैं, लेकिन इसके बावजूद ये गोल्ड लोन और टॉपअप लोन के मुकाबले भी ज्यादा हैं.

Bankbazaar.com के मुताबिक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 5 साल के लिए 5 लाख का पर्सनल लोन लेने पर ब्याज दरें 8.9 प्रतिशत से शुरू होती है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी की इस मुश्किल घड़ी में अगर पैसे की किल्लत हो जाए तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. पसर्नल लोन लेने वालों के लिए यह काम की खबर है. इस कठिन दौर में अगर आप भी पसर्नल लोन लेना चाहते हैं तो सार्वजनिक क्षेत्र को कई बैंकों ने खास पहल शुरू की है. पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India) कम ब्याज दरों पर पर्सनल लोन की सुविधा दे रहे हैं.

Bankbazaar.com के मुताबिक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में 5 साल के लिए 5 लाख का पर्सनल लोन लेने पर ब्याज दरें 8.9 प्रतिशत से शुरू होती है. इसके बाद पंजाब नेशनल बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में ब्याज दरें 8.95 प्रतिशत से शुरू हैं.

ये भी पढ़ें- World Bank का अनुमान! वित्‍त वर्ष 2021 के दौरान Indian economy में आएगी 9.6% की गिरावट



पर्सनल लोन लेने बचें, अन्य विकल्प हैं सस्ते
सिस्टम में ब्याज दरों में नरमी की वजह से ब्याज दरें तुलनात्मक रूप से कम दिख रही हैं, लेकिन इसके बावजूद ये गोल्ड लोन और टॉपअप लोन के मुकाबले भी ज्यादा हैं. बता दें कि गोल्ड पर ब्याज दरें 7 फीसदी से शुरू होती हैं. इसलिए आपको सलाह दी जाती हैं कि पर्सनल लोन लेने तब बचें जब तक कि आपके पास लोन के दूसरे ऑप्शन बचे हुए हैं. अगर आपके पास Loans against endowment insurance policies, एम्पलाई प्रोविडेंट फंड (EPF), पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF), स्टॉक्स और म्यूचुअल फंड्स (stocks and mutual funds) जैसे विकल्प न बचे हों तभी दांव लगाएं.

ये भी पढ़ें- Aadhaar कार्ड में कौन सा नंबर कराया है रजिस्टर्ड, इस तरह मिनटों में लगाएं पता

अगर आपने पिछले साल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा दी गई सहूलियत के चलते 6 महीने का मोरेटोरियम लिया है या पर्सनल लोन लिया है तो सबसे पहले आपको अपना लोन का बोझ कम करने के लिए तुंरत कदम उठाने होंगे. अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आपके जल्द ही कर्ज के जाल में फंसने की पूरी संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज