लाइव टीवी

5 लाख रुपये हो सकती है इनकम टैक्स छूट की सीमा- अंतरिम बजट में ऐलान संभव

News18Hindi
Updated: January 15, 2019, 8:37 AM IST
5 लाख रुपये हो सकती है इनकम टैक्स छूट की सीमा- अंतरिम बजट में ऐलान संभव
10 साल पीछे चली जाएगी इकॉनमी: युद्ध के चलते दोनों देशों की अर्थव्यवस्था एक दशक पीछे चली जाएगी. साथ ही बड़ी संख्या में जानमाल का नुकसान हो सकता है. भारत की डबल डिजिट ग्रोथ का सपना टूट सकता है. साथ ही नुकसान के क्षतिपूर्ति पर आने वाले खर्च देश की अर्थव्यवस्था पर अतिक्त दबाव पड़ेगा.

Indian Union Budget 2019 in Hindi: मौजूदा टैक्स स्लैब में फिलहाल 2.5 लाख रुपये तक की सालाना आय कर मुक्त है, जबकि 2.5 से 5 लाख रुपये की आय पर 5 प्रतिशत की दर से कर लगता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2019, 8:37 AM IST
  • Share this:
चुनावी साल में सरकार नौकरी नौकरीपेशा लोगों को इनकम टैक्स में बड़ी राहत दे सकती है. CNBC-TV18 के मुताबिक, केंद्र सरकार 5 लाख रुपये की सलाना कमाई करने वाले लोगों को इनकम टैक्स के दायरे से बाहर रखने पर विचार कर रही है. 1 फरवरी को पेश होने जा रहे मोदी सरकार के अंतरिम बजट में इसकी घोषणा हो सकती है. (ये भी पढ़ें: 20 लाख रुपये से ज्यादा कमाने वालों पर लगे 30% इनकम टैक्स: फिक्की)

मौजूदा टैक्स स्लैब में फिलहाल 2.5लाख रुपये तक की सालाना आय कर मुक्त है, जबकि 2.5 से 5 लाख रुपये की आय पर 5 प्रतिशत की दर से टैक्स लगता है. इसके बाद 5 से 10 लाख रुपये की आय पर 20 फीसदी और 10 लाख रुपये से अधिक की आय पर 30 फीसदी दर से टैक्स देना होता है.

सूत्रों के मुताबिक, इस बार कॉरपोरेट टैक्स में बदलाव की कोई संभावना नहीं है. फिलहाल कॉरपोरेट टैक्स एक फीसदी लगता है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार दे रही हैं सस्ते में सोना खरीदने का मौका, जानें इस स्कीम के बारे में सब कुछ

सरकार छोटे टैक्सपेयर्स को रियात और राहत है वो अप्रत्यक्ष तौर पर नहीं बल्कि सीधे देगी दिया जाएगा. इसके लिए सरकार कई अलग-अलग विकल्पों पर विचार कर रही है. विकल्प के तहत स्टैंडर्ड डिडक्शन बढ़ सकता है, अभी 40,000 रुपये का सालाना स्टैंडर्ड डिडक्शन मिलता है. पहले स्लैब में टैक्स दरें घटाने का विकल्प भी है. सूत्रों के मुताबिक 5 फीसदी, 20 फीसदी, 30 फीसदी के बीच की एक नई दर भी आ सकती है.

80C के तहत छूट बढ़कर हो 3 लाख रु
फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) ने व्यक्तिगत इनकम टैक्सपेयर्स को विनिर्दिष्ट निवेश योजनाओं में निवेश पर धारा 80C के तहत मिलने वाली छूट को बढ़ा कर 3 लाख रुपये करने की भी सिफारिश की है. फिक्की का कहना है कि इससे व्यक्तिगत बचत को प्रोत्साहन मिलेगा.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2019, 6:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...