Budget 2019: इनकम टैक्स देने वालों के लिए बड़ा ऐलान, रिटर्न भरना होगा आसान

Indian Union Budget 2019 in Hindi: मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में इनकम टैक्स देने वालों को बड़ी राहत दी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में घोषणा की कि अब इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने वालों को पहले से भरा हुआ टैक्स फॉर्म उपलब्ध होगा.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 2:59 PM IST
Budget 2019: इनकम टैक्स देने वालों के लिए बड़ा ऐलान, रिटर्न भरना होगा आसान
Indian Union Budget 2019 in Hindi: मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में इनकम टैक्स देने वालों को बड़ी राहत दी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में घोषणा की कि अब इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने वालों को पहले से भरा हुआ टैक्स फॉर्म उपलब्ध होगा.
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 2:59 PM IST
मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में इनकम टैक्स देने वालों को बड़ी राहत दी है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में घोषणा की कि अब इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) भरने वालों को पहले से भरा हुआ टैक्स फॉर्म उपलब्ध होगा. आईटीआर फाइल करना ज्यादा-से-ज्यादा आसान बनाने की दिशा में यह नई पहल है. सरकार इसके लिए सरकार बैंक, स्टॉक एक्सचेंजों, म्युचुअल फंडों से सूचना जुटाएगी. ITR फॉर्म 1 सैलरी, फिक्सिड डिपॉजिट (FD) से हुई आमदनी और TDS डीटेल्स भरे हुए मिलेंगे. पहले आईटीआर भरने वालों को ये जानकारियां फॉर्म में खुद भरनी होती थी.

सिर्फ ITR-1 फॉर्म में मिलेगी ये सुविधा
यह सुविधा सिर्फ आईटाई फॉर्म 1 भरने योग्य टैक्सपेयर्स को ही मिलेगी है जो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की ई-फाइलिंग वेबसाइट www.incometaxindiaefiling.gov.in पर जाकर आईटीआर भरते हैं. अगर आप एक्सेल या जावा के जरिए आईटीआर 1 फॉर्म भरेंगे तो आपको ये आंकड़े खुद भरने होंगे.

ये भी पढ़ें: पेट्रोल-डीज़ल होगा इतने रुपये तक महंगा, जानें बजट का सबसे बड़ा फैसला

आईटीआर फॉर्म में भरी मिलेंगी या जानकारी

1- पैन, नाम, जन्म तिथि

2- पता, आधार नंबर, मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी
Loading...

3- टैक्स पेमेंट, टीडीएस और टीसीएस डीटेल्स

4- मकान का प्रकार

5- हाउस प्रॉपर्टी से इनकम

6- डिपॉजिट, म्युचुअल फंड, शेयर से हुई आमदनी

7- ब्याज से हुई आमदनी की जानकारी

8- सेक्शन 89 के तहत मिली टेक्स छूट

9- बैंक अकाउंट डिटेल

पैन नहीं होने पर आधार के जरिये रिटर्न भरें
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कि जिन लोगों के पास पैन नहीं है, वे आधार के जरिये इनकम टैक्स रिटर्न भर सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय पासपोर्ट रखने वाले प्रवासी भारतीयों को भारत पहुंचने के के बाद आधार कार्ड जारी किया जाएगा. इसके लिये उन्हें 180 दिनों का अनिवार्य प्रतीक्षा अवधि का इंतजार नहीं करना होगा.

ये भी पढ़ें: सरकार जारी करेगी 20 रुपये का सिक्का, होंगे ये स्पेशल फीचर्स

अमीरों पर ज्यादा टैक्स
मोदी सरकार ने ज्यादा कमाई करने वालों को झटका दिया है. अब 2 से 5 करोड़ रुपये सालाना कमाने वालों पर 3 फीसदी अतिरिक्त टैक्स लगेगा और साथ ही 5 करोड़ रुपये से अधिक कमाने पर 7 फीसदी अतिरिक्त टैक्स देना होगा. इसके अलावा अगर कोई बैंक से एक साल में एक करोड़ से अधिक की राशि निकालता है तो उसपर 2% का TDS लगाया जाएगा. यानी सालाना 1 करोड़ रुपये से अधिक निकालने पर 2 लाख रुपये टैक्स में ही कट जाएंगे.

 
First published: July 5, 2019, 2:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...