वित्त मंत्री किसानों और मिडिल क्लास लोगों को दे सकती हैं बड़े तोहफे, इन फैसलों पर रहेगी नजर

Indian Union Budget 2019 in Hindi: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का यह पहला बजट है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज लोकसभा में आम बजट पेश करेंगी. बजट में सरकार किसानों और मिडिल क्लास परिवारों को खास तोहफा दे सकती है.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 9:48 AM IST
वित्त मंत्री किसानों और मिडिल क्लास लोगों को दे सकती हैं बड़े तोहफे, इन फैसलों पर रहेगी नजर
वित्त मंत्री किसानों और मिडिल क्लास को दे सकती हैं बड़े तोहफे
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 9:48 AM IST
नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आज पहला बजट है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज लोकसभा में आम बजट पेश करेंगी. सरकार बजट में किसानों और मिडिल क्लास परिवारों को खास तोहफा दे सकती है. एक ओर जहां किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए सरकार नई स्कीम लागू करने के साथ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में मिलने वाली 6000 रुपये की रकम को बढ़ाकर 8000 रुपये कर सकती है. वहीं, आम बजट में व्यक्तिगत आयकरदाताओं के लिए टैक्स छूट की सीमा मौजूदा 2.5 लाख रुपये से बढ़ सकती है. अभी तक जो खबरें आईं हैं, उनमें एक बात साफ है कि इस बजट में मिडिल क्लास लोगों और किसानों के लिए काफी कुछ होगा.

बजट से उम्मीदें-

इनकम टैक्स छूट सीमा में बढ़ोतरी
बजट में टैक्सपेयर्स को बड़ी राहत मिल सकती है. बजट में इंंडिविजुअल इनकम टैक्सपेयर्स के लिए छूट की सीमा मौजूदा 2.5 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये की जा सकती है. वहीं, ईमानदार टैक्सपेयर्स के लिए कुछ ऐलान किए जा सकते है. सर्वाधिक टैक्स चुकाने वालों को राजनयिकों जैसी छूट या उनके नाम पर किसी सड़क का नाम रखा जा सकता है. टैक्सपेयर्स को वीआईपी ट्रीटमेंट देने से लोगों में भी टैक्‍स जमा करने का उत्‍साह पैदा होगा.

8000 रुपये हो सकती है किसान सम्मान निधि की रकम
सरकार बजट में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (PM-Kisan) के तहत किसानों को दी जाने वाली सहायता राशि बढ़ा सकती है. सरकार इस स्कीम के तहत मिलने वाले सालाना 6000 रुपये को बढ़ाकर 8000 रुपये कर सकती है.

अटके प्रोजेक्ट्स के लिए 10 हजार करोड़ का फंड
Loading...

सरकार को आम बजट में देशभर में अटके पड़े रेजिडेंशियल प्रोजक्ट्स को पूरा करने के लिये 10,000 करोड़ रुपये का एक अलग कोष बना सकती है ताकि ऐसे प्रोजेक्ट्स में संपत्ति बुक कराने वाले 5 लाख से अधिक लोगों को राहत पहुंचाई जा सके.

किसानों के लिए पैकेज
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ग्रामीण इलाकों में खर्च को बढ़ावा देने के लिए कुछ उपायों की घोषणा कर सकती हैं. किसानों के लिए ब्याज दरों में कमी की जा सकती है तो खाद के लिए डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर का इस्तेमाल हो सकता है.

NPS में निवेश हो सकता है पूरी तरह टैक्स फ्री
बजट में सरकार नेशनल पेंशन स्कीम (NPS) करने वालों को तोहफा दे सकती है. सरकार NPS को पूरी तरह टैक्स फ्री कर सकती है. NPS को रिटायरमेंट के बाद के बचत स्कीम्स EPF और PPF जैसे आसान बनाया जा सकता है. यानी इससे मिलने वाला रिटर्न टैक्स फ्री हो सकता है.

इन दो स्कीम में निवेश पर टैक्स में मिल सकती है छूट
सरकार सरकार दो एक्सचेंज ट्रेडेड फंड सीपीएसई (CPSE) और भारत-22 ईटीएफ (Bharat-22 ETF) में रिटेल निवेशकों को टैक्स बेनिफिट दे सकती है. इसका ऐलान बजट में हो सकता है.

हाउसिंग और रियल एस्टेट को लेकर हो सकते हैं कई ऐलान
की मोदी सरकार आम बजट में हाउसिंग सेक्टर को बढ़ावा देने के उपाय कर सकती है. वह इसे सुस्त अर्थव्यवस्था में जान फूंकने और रोजगार के ज्यादा मौके बनाने टैक्स बेनिफिट दे सकती है ताकि घरों की खरीदारी को बढ़ावा मिल सके.

70 साल हो सकती है रिटायरमेंट की उम्र
70 साल में रिटायरमेंट का सपना सच हो सकता है. इकोनॉमिक सर्वे 2019 में कहा गया है कि उम्र बढ़ने की वजह से अब रिटायरमेंट की सीमा भी बढ़ाई जा सकती है. इसका ऐलान बजट में हो सकता है.

बुनकरों के मिल सकता ये तोहफा
पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के बुनकरों और शिल्पियों के लिए बजट में घोषणाएं कर सकते हैं. वाराणसी में हैंडीक्राफ्ट के लिए स्पेशल हैंडीक्राफ्ट मेगाक्लस्टर बनाने की घोषणा हो सकती है.

आम बजट 2019 की सही और सटीक खबरों के लिए न्यूज18 हिंदी पर आएं. वीडियो और खबरों  के लिए यहां क्लिक करें
First published: July 5, 2019, 9:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...