अपना शहर चुनें

States

Aaj Ka Budget: 'विश्‍वास वह चिड़िया है...', वित्‍त मंत्री ने बजट भाषण में पढ़ी रवींद्रनाथ टैगोर की पंक्ति

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया बजट.
वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया बजट.

Union Budget 2021-2022: परंपरागत रूप से बजट की प्रतियां वित्त मंत्री के आने से पहले संसद परिसर में लाई जाती हैं, लेकिन इस साल कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते कोई दस्तावेज नहीं छपा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2021, 3:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को देश का आम बजट 2021-2022 (Union Budget 2021-2022) पेश किया. इस बार बजट की कॉपी पारंपरिक तौर पर अलग रही. वित्‍त मंत्री ने इस बार पेपरलेस नीति को बढ़ावा देते हुए टेबलेट से डिजिटलाइज रूप में अपना बजट भाषण पढ़ा. इस बजट भाषण (Budget Speech) में उन्‍होंने इस बार रवींद्रनाथ टैगोर (Rabindranath Tagore) की लिखी पंक्ति का भी इस्‍तेमाल किया है.

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण की शुरुआत में कहा, 'यह बजट ऐसी परिस्थितियों में तैयार किया गया है, जो पहले नहीं थीं. हम उन आपदाओं के बारे में जानते थे, जिन्‍होंने किसी देश या किसी देश के भीतर किसी क्षेत्र को प्रभावित किया है. लेकिन 2020 में हमने कोविड 19 के साथ क्‍या क्‍या सहन किया, उसका कोई उदाहरण नहीं है.' उन्‍होंने अपने बजट भाषण में रवींद्रनाथ टैगोर की पंक्तियां पढ़ीं. उन्‍होंने कहा, 'विश्‍वास वह चिड़िया है, जो प्रकाश की अनुभूति करती है और तब गाती है जब भोर में अंधेरा बना ही रहता है.'

वित्‍त मंत्री ने कहा, 'हम सभी को बार बार यह स्‍मरण हो जाता है कि कोविड 19 के खिलाफ हमारी लड़ाई 2021 में भी जारी रहेगी. ऐसे संकेत हैं कि दुनिया में राजनीतिक, आर्थिक और रणनीतिक संबंध बदल रहे हैं. इतिहास में यह पल नए युग की शुरुआत है.'



वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण की शुरुआत में कहा कि सरकार ने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिये आत्मनिर्भर पैकेज के तहत 27.1 लाख करोड़ रुपये की घोषणा की. वित्त मंत्री ने परंपरा के अनुसार संसद जाने से पहले राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति से मुलाकात की. परंपरागत रूप से बजट की प्रतियां वित्त मंत्री के आने से पहले संसद परिसर में लाई जाती हैं, लेकिन इस साल कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते कोई दस्तावेज नहीं छपा है.

ऑफ-व्हाइट और लाल रंग की रेशमी साड़ी पहने सीतारमण ने बजट भाषण को बहीखाते के रूप में ले जाने की अपनी परंपरा को जारी रखा. इसके लिए उन्होंने लाल रंग के पर्स नुमा बहीखाते का इस्तेमाल किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज