अपना शहर चुनें

States

Union Budget 2021: कोरोना के इलाज में हुए खर्च पर इनकम टैक्स में दी जा सकती है छूट, जानें इस बारे में सबकुछ

केंद्रीय बजट 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा.
केंद्रीय बजट 1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा प्रस्तुत किया जाएगा.

केंद्र सरकार कोरोना वायरस (Coronavirus) को विशेष बीमारी (Specific Disease) में शामिल करने पर विचार कर रही है. इससे टैक्‍सपेयर्स (Taxpayers) को कोविड-19 के इलाज (Covid-19 Treatment) पर हुए खर्च पर इनकम टैक्‍स छूट (Income Tax Exemption) का फायदा मिल सकता है. केंद्र (Central Government) बजट में 80DDB के तहत इस राहत का ऐलान कर सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 11, 2021, 9:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. केंद्र सरकार बजट 2021 (Union Budget 2021) में टैक्‍सपेयर्स के लिए कोविड-19 के इलाज (Covis-19 Treatment) में हुए खर्च पर इनकम टैक्स से राहत (Income Tax Exemption) का ऐलान कर सकती है. CNBC-Awaaz की रिपोर्ट के मुताबिक, बजट में ऐसे टैक्सपेयर्स (Taxpayers) के लिए छूट का ऐलान हो सकता है, जिनके पास किसी तरह का हेल्थ या मेडिकल इंश्योरेंश (Health Insurance) नहीं है. कोरोना के इलाज के खर्च पर छूट के लिए बजट में आयकर अधिनियम (Income Tax Act) की धारा-80DDB के तहत राहत का ऐलान किया जा सकता है.

1 लाख रुपये तक के खर्च पर मिलेगी टैक्‍स छूट
सूत्रों के मुताबिक, कोरोना को विशेष बीमारी (Specific Disease) में शामिल करने पर विचार किया जा रहा है. यहां ये स्‍पष्‍ट कर दें कि इनकम टैक्‍स में ये छूट सिर्फ उन्हें ही मिलेगी, जिनके पास कोई हेल्थ पॉलिसी नहीं है. माना जा रहा है कि कोरोना के इलाज पर टैक्स छूट मौजूदा वित्त वर्ष से ही शुरू की जा सकती है. इलाज पर अधिकतम 1 लाख रुपये के खर्च पर टैक्‍स डिडक्शन (Tax Deduction) मिल सकता है. सूत्रों के मुताबिक इस छूट का फायदा अपने (Self) और आश्रित (Dependent) दोनों के लिए किया जा सकता है. अभी ये छूट कैंसर समेत दो दर्जन से ज्यादा बीमारियों पर लागू होती है.

ये भी पढ़ें- PFRDA का पेंशनर्स को तोहफा! NPS से ऑनलाइन भी कर सकते हैं Exit, जानें कैसे करें नई सुविधा का इस्‍तेमाल
कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम की तैयारियां हुईं पूरी


देश में कोरोना वैक्‍सीनेशन प्रोग्राम (Vaccination Program) 16 जनवरी 2021 से शुरू हो रहा है. इसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में इसकी रणनीति पर चर्चा कर ली है. इसके बाद उन्‍होंने घोषणा की है कि पहले चरण के वैक्‍सीनेशन का खर्च राज्‍य नहीं केंद्र सरकार उठाएगी. इस बीच देश और दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है. भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 16,311 नए मामले सामने आए हैं. देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,04,66,595 हो गई है. वहीं, एक्टिव केस की कुल संख्या 2,22,526 है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज