होम /न्यूज /व्यवसाय /Uniparts India Ipo: यूनिपार्ट्स इंडिया के शेयरों की ग्रे मार्केट में धूम, निवेशकों को होगा जबरदस्त मुनाफा!

Uniparts India Ipo: यूनिपार्ट्स इंडिया के शेयरों की ग्रे मार्केट में धूम, निवेशकों को होगा जबरदस्त मुनाफा!

यूनिपार्ट्स इंडिया के शेयर 12 दिसंबर को हो सकते हैं लिस्ट. (फोटो- न्यूज18)

यूनिपार्ट्स इंडिया के शेयर 12 दिसंबर को हो सकते हैं लिस्ट. (फोटो- न्यूज18)

Uniparts India Ipo: कंपनी के शेयरों का जीएमपी मंगलवार को 60 रुपये चल रहा है. यूनिवार्ट्स ने आईपीओ का प्राइस बैंड 548-57 ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

कंपनी के शेयरों का अलॉटमेंट 7 दिसंबर को सकता है.
यूनिपार्ट्स इंडिया का आईपीओ 2 दिसंबर को बंद हुआ था.
आईपीओ को 25 गुना से अधिक सब्सक्राइब किया गया है.

नई दिल्ली. इंजीनियरिंग सिस्टम्स एंड सॉल्यूशंस प्रोवाइडर यूनिपार्ट्स इंडिया (Uniparts India) का आईपीओ सफल रहा. 2 दिसंबर को बंद हुए आईपीओ को 25.32 गुना अधिक बोलियां मिलीं. अब लोगों को इसके शेयर अलॉटमेंट का इंतजार हैं. संभव है कि 7 दिसंबर यानी बुधवार को कंपनी पात्र निवेशकों को शेयर अलॉट कर देगी. कंपनी की आईपीओ के जरिए 835.61 करोड़ रुपये जुटाने की योजना थी जो इसे सफलतापूर्वक जुटा लिए. कंपनी ने आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 548-577 रुपये प्रति शेयर तय किया था.

बता दें कि यह पूरा आईपीओ ओएफएस (ऑफर फोर सेल) के तहत लाया गया था. इसका मतलब है कि इसमें कोई भी नया शेयर नहीं था. कंपनी ने मौजूदा शेयरधारकों और प्रमोटर्स ने 1.44 करोड़ से अधिक शेयर बेचे हैं. इसमें करन सोनी, मेहर सोनी, पामेला सोनी, अशोका इन्‍वेस्‍टमेंट होल्डिंग्‍स एंड अंबादेवी मॉरीशस होल्डिंग कंपनी शामिल हैं. निवेशक अधिकतम 13 लॉट खरीद सकते थे और 1 लॉट में 25 शेयर थे.

ये भी पढ़ें- फर्जी मार्केट गुरुओं के हाथ फंसे निवेशकों के सैकड़ों करोड़, कहीं आप भी तो नहीं इनके चक्‍कर में

क्या है ग्रे मार्केट की स्थिति
मिंट के अनुसार, यूनिपार्ट्स इंडिया के शेयर मंगलवार को ग्रे मार्केट में 60 रुपये के प्रीमियम पर मिल रहे हैं. अगर यह स्थिति बनी रहती है तो ये शेयर 637 रुपये तक लिस्ट हो सकते हैं. ये शेयर 8-9 दिसबंर को निवेशकों के डीमैट अकाउंट में दिखने लगेंगे. कंपनी के शेयर 12 दिसंबर को मार्केट में लिस्ट हो सकते हैं.

किसने कितना किया सब्सक्राइब
आईपीओ में 50 फीसदी हिस्‍सा क्‍वालिफाइड इंस्‍टीट्यूशनल बायर्स (क्यूआईबी) के लिए आरक्षित था और यह हिस्सा 67 गुना सब्सक्राइब किया गया. वहीं, एनआईआई के लिए आरक्षित 15 फीसदी हिस्से को 17.86 गुना सब्सक्राइब किया गया. खुदरा निवेशकों को 35 फीसदी दिया गया था और उन्होंने इसे 4.63 गुना सब्सक्राइब किया.

ये भी पढ़ें- शेयर बाजार में विदेशी निवेशकों की खरीदारी बढ़ी, FPI ने नवंबर में किया ₹36,329 करोड़ का निवेश

क्या करती है कंपनी
यूनिपार्ट्स इंजीनियर्ड सिस्टम्स और सॉल्यूशन की एक अंतरराष्ट्रीय विनिर्माताहै. यह एग्रीकल्चर, कंस्ट्रक्शन, फॉरेस्ट्री और माइनिंग मार्केट के लिए सिस्टम और कॉम्पोनेंट मुहैया कराती है. इसका कारोबार 25 देशों में फैला है. कंपनी के पास 6 निर्माई ईकाइयां हैं. इनमें से 5 भारत में और 1 अमेरिका में है.

ब्रोकरेज की राय
आईसीआईसीआई के अनुसार, बेहद जरूरी वाहन प्रणाली और कॉम्पोनेंट क्षेत्र में इसकी उपस्थिति जबरदस्त है. कंपनी का अपने ग्राहकों के साथ लंबा रिश्ता है. इसकी कुल सेल का 80 फीसदी हिस्सा देश के बाहर है. कंपनी का एबिटडा मार्जिन करीब 22 फीसदी है. ब्रोकरेज ने कहा है कि कंपनी की वित्तीय स्थिति काफी मजबूत है.

Tags: IPO, Share market, Stock market

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें