अकेले सिंगापुर खा गया यूपी का खास 20 टन काला नमक चावल, जानिए क्यों

काला नमक चावल

काला नमक चावल

गोरखपुर का टेराकोटा, लखनऊ (Lucknow) की चिकनकारी और सिद्धार्थनगर का काला चावल (Black Rice) देश ही नहीं इंटरनेशनल बाजार में भी पहचान बना रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2021, 5:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogiadityanath) सूबे के सभी 76 जिलों के खास उत्पाद को एक पहचान और बाजार दिलाने के लिए एक जनपद, एक उत्‍पाद योजना पर काम कर रहे हैं. इस योजना के तहत ही गोरखपुर का टेराकोटा, लखनऊ (Lucknow) की चिकनकारी और सिद्धार्थनगर का काला चावल (Black Rice) देश ही नहीं इंटरनेशनल बाजार में भी पहचान बना रहा है. इसी योजना की बदौलत देश की खादी ने हाल ही में कायरो फैशन वीक में जलवा बिखेरा था. हांगकांग के हैंडलूम फेयर से लेकर तुर्की के इस्‍तांबुल के टेक्‍सटाइल एक्‍सपो में भी ओडीओपी (ODOP) से जुड़े उत्पाद छाए हुए हैं.

सिंगापुर ने मंगाया 20 टन काला नमक चावल

यूपी का सिद्धार्थनगर एक ऐसा जिला है जहां काला नमक चावल की फसल पैदा होती है. ध्यान रहे कि यह चावल की कोई नई किस्म नहीं है. इतिहास में भी काला नमक चावल के बारे में बताया गया है. कहते हैं कि काला नमक चावल को बुद्ध का महाप्रसाद भी कहा जाता है. लेकिन कुछ तकनीकी कारण और बारिश के पानी की कमी के चलते काला नमक चावल की पैदावार उतनी नहीं हो रही है जितनी जरूरत है.

Youtube Video

एक साल में अमेजन पर बिक गए 24 करोड़ के ओडीओपी

यूपी सरकार की जानकारी के मुताबिक दिसंबर 2020 तक अकेले अमेजन के जरिए 24 करोड़ रुपए से ज्यादा के 50 हजार से अधिक ओडीओपी की बिक्री हुई है. लखनऊ में ‘वोकल फॉर लोकल’ की थीम पर आयोजित ‘हुनर हाट’ में 75 जिलों के बेहतरीन कारीगर और शिल्‍पकार अपना हुनर लेकर आए थे. इस हाट में महज 14 दिनों में ओडीओडीपी स्‍टॉलों पर लगभग साढ़े तीन करोड़ रुपये से ज्यादा की बिक्री हुई.

Noida News: आज से 6.5 लाख वाहनों को देना पड़ सकता है 5500 रुपये का जुर्माना, जानिए क्यों



वाराणसी के बड़ालालपुर स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय हस्तकला संकुल में आयोजित 'उत्तर प्रदेश के जी.आई.प्रोडक्ट्स एक्सपो 2021' में कोरोना काल के बाद चार दिनों में करीब 25 लाख रूपए की बिक्री हुई थी.

ओडीओपी वेबसाइट के मुताबिक मार्च 2020 से 2021 तक राष्‍ट्रीय स्‍तर की 23 प्रदर्शनियों का आयोजन किया जा चुका है. इसमें कई अन्‍तर्राष्‍ट्रीय कंपनियों ने भी हिस्‍सा लिया था. इसके अलावा अमेरिका, ब्रिटेन, हांगकांग, तुर्की, मिस्र, जर्मनी समेत करीब 19 देशों में अन्‍तर्राष्‍ट्रीय स्‍तर की प्रदर्शनियां भी आयोजित की जा चुकी है. कायरो फैशन वीक से लेकर कई नामी आयोजन भी शामिल है. इसके अलावा प्रदेश स्‍तर पर आयोजित फेयर व मेले भी ओडीओपी को नई पहचान दिलाने में बेहतरीन रोल अदा कर रहे हें. इसके अलावा ऑनलाइन शापिंग वेबसाइट अमेजन, फिल्‍मकार्ट समेत अन्‍य कंपनियां भी अन्‍तर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर ओडीओपी को पहचान दिला रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज