लाइव टीवी

UPI इस्तेमाल करने वालों के लिए बड़ी खबर! इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो खाली हो जाएगा खाता

News18Hindi
Updated: January 16, 2020, 4:45 PM IST
UPI इस्तेमाल करने वालों के लिए बड़ी खबर! इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो खाली हो जाएगा खाता
डिजिटल ट्रांजैक्शन

करीब 3 साल पहले UPI पेमेंट सिस्टम (UPI Payment System) के लॉन्च के बाद इसका इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है. लेकिन, इसके साथ ही आए दिन फ्रॉड के मामले भी सामने आने लगे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2020, 4:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देशभर में डिजिटल ट्रांजैक्शन (Digital Transaction) को बढ़ावा देने के लिए यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) शुरू किया गया था. करीब 3 साल पहले शुरू किए गए इस पेमेंट सिस्टम का इस्तेमाल लगातार तेजी से बढ़ रहा है. कई देसी-विदेशी कंपनियां भी भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NCPI) के साथ मिलकर यह पेमेंट सुविधा मुहैया करा रही हैं. लेकिन, UPI के बढ़ते इस्तेमाल के साथ ही आए दिन फ्रॉड के मामले भी सामने आने लगे हैं. ऐसे में आपको UPI पेमेंट सिस्टम (UPI Payment System) का लाभ लेने के साथ ही कुछ जरूरी बातों को ध्यान में रखना चाहिए ताकि आप किसी संभावी फ्रॉड से बच सकें.

UPI इस्तेमाल करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

>> किसी से शेयर न करें ये जरूरी जानकारी: किसी के साथ कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट, UPI पिन, OTP सहित विवरण यदि आपको अपने बैंक या किसी तीसरे पक्ष के मोबाइल ऐप से आधिकारिक प्रतिनिधि होने का नाटक करने वाले किसी व्यक्ति द्वारा ऐसा विवरण देने के लिए कहा जाता है, तो उन्हें एक आधिकारिक ईमेल भेजने के लिए कहें. अपनी ईमेल आईडी को बैंक या तीसरे पक्ष के ऐप से पहले से ही साझा नहीं करें.

यह भी पढ़ें: नई शुरुआत: अमेरिका-चीन की हुई दोस्ती, ट्रेड डील के पहले चरण पर दस्तखत

>> स्पैम चेतावनी पर ध्यान दें: विभिन्न भुगतान संबंधी एप्लिकेशन आपको स्पैम नंबर के बारे में चेतावनी देते हैं. यदि आप किसी अज्ञात खाते से भुगतान का अनुरोध प्राप्त कर रहे हैं, तो स्पैम वार्निंग पर नज़र रखें. यदि आप किसी भी संदिग्ध खाते को देखते हैं, तो उसे अपने बैंक को रिपोर्ट करें और उस खाते को स्पैम के रूप में चिह्नित करें.

>> केवल विश्वसनीय और प्रमाणित ऑनलाइन व्यापारियों के साथ लेनदेन: हमेशा प्रतिष्ठित ऑनलाइन व्यापारियों और बाज़ार से उत्पाद खरीदें. विश्वसनीय ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर लेन-देन सुनिश्चित करता है कि आपके भुगतान सुरक्षित हैं. किसी भी वित्तीय डेटा से छेड़छाड़ से बचने के लिए गोप​नीयता नीति को पढ़ें.

>> लेन-देन पूरा करने पर पुष्टिकरण ईमेल की भी जांच करें: अपने लेन-देन, विवरण, सुरक्षा निर्देश और महत्वपूर्ण घोषणाओं पर बैंक से अपने सभी SMS/ ईमेल और अन्य आधिकारिक संचार चैनलों का ध्यान रखें.>> लेनदेन से निपटने के दौरान अपने भुगतान ऐप पर प्राप्त होने वाले हर संदेश, पॉपअप या अनुरोधों को सावधानीपूर्वक देखें.

यह भी पढ़ें: 16 मार्च से बदलेंगे SBI के ATM कार्ड से पैसे निकालने के नियम, फटाफट जानें

>> पासवर्ड, पिन और एक OTP के बीच अंतर को जानें और संरक्षित रहने के लिए संदेश की सावधानीपूर्वक जांच करें

>> यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप अपने खाते से सभी लेन-देन के बारे में जानते हैं, बैंक से सभी मैसेज का ध्यान रखें. अगर आप अपना फोन खो देते हैं, तो फोन पर मौजूद किसी भी यूपीआई ऐप से जुड़े खाते को ब्लॉक कर दें.

यह भी पढ़ें: FASTag लगाना भूल गए तो भी नहीं देना होगा दोगुना टैक्स, सरकार ने दी बड़ी राहत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 4:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर