होम /न्यूज /व्यवसाय /फिर अमेरिका से शुरू होगी मंदी! दिग्‍गज निवेशक डैलियो ने कहा- उल्‍टा पड़ सकता है फेड रिजर्व का दांव

फिर अमेरिका से शुरू होगी मंदी! दिग्‍गज निवेशक डैलियो ने कहा- उल्‍टा पड़ सकता है फेड रिजर्व का दांव

डैलियो, ब्रिजवाटर के ऑपरेटिंग बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में अपने पद पर बने रहेंगे. (आभार: सीएनबीसी)

डैलियो, ब्रिजवाटर के ऑपरेटिंग बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में अपने पद पर बने रहेंगे. (आभार: सीएनबीसी)

अरबपति निवेशक रे डैलियो (Ray Dalio) का कहना है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व बैंक जिस तरह से लगातार ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

महंगाई को रोकने के लिए अमेरिकी फेडरल रिजर्व आगे भी ब्याज दरों में बढ़ोतरी जारी रखेगा.
उन्होंने कहा, ब्याज दर बढ़ाने से जाहिर सी बात है कि लोगों को वास्तव में तकलीफ पहुंचेगी.
ब्याज दरों के 4.5 फीसदी से ऊपर जाने पर अर्थव्यवस्था में गिरावट आनी शुरू हो सकती है.

नई दिल्ली. दुनिया में बढ़ती महंगाई को काबू में करने के लिए हर बैंक अपनी तरफ से प्रयास कर रहे हैं. इस लिस्ट में अमेरिकी फेडरल रिजर्व बैंक सबसे आगे है. वह लगातार ब्याज दरों में बढ़ोतरी करके महंगाई को कम करने की कोशिश कर रहा है. भारतीय रिजर्व बैंक भी महंगाई को कंट्रोल करने के लिए समय-समय पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर रहा. लेकिन महंगाई को काबू करने के तमाम प्रयासों के बावजूद ग्लोबल मार्केट में अस्थिरता और गिरावट जारी है.

इस पर अरबपति निवेशक रे डैलियो (Ray Dalio) का कहना है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व बैंक जिस तरह से लगातार ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर रहा है, उससे एक ‘बड़ा तूफान’ बन रहा है, जो अपने साथ आर्थिक दर्द लेकर आएगा. रे डैलियो को ब्रिजवाटर एसोसिएट्स (Bridgewater Associates) को दुनिया के सबसे बड़े हेज फंड में से एक बनाने के लिए जाना जाता है.

इस वजह से आएगा तूफान
डेलियो ने इसी महीने 150 अरब डॉलर की इस फर्म का कंट्रोल नई पीढ़ी के निवेशकों को ट्रांसफर किया है. उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान सरकारी प्रोत्साहन कार्यक्रमों ने एक बुलबुला बनाया है. आगे उन्होंने कहा कि ‘कभी दूर न होने वाले मतभेदों’ और संपत्ति में असमानता के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय संघर्षों के चलते अमेरिकी आबादी में एक तनाव की स्थिति है, जो कई तरह की दिक्‍कतें पैदा कर सकता है.

ये भी पढ़ें – बाजार की गिरावट में इस सेक्टर में निवेश का गोल्डन चांस, 20% से ज्यादा टूटे ये दिग्गज स्टॉक तेजी के लिए तैयार

अर्थव्यवस्था में गिरावट की क्या है वजह?
डैलियो ने कहा कि अमेरिकी फेड और सरकार ने मिलकर भारी मात्रा में डेबिट और क्रेडिट दिए, जिससे अचानक अर्थव्यवस्था में बहुत पैसा आ गया. इस पैसे ने एक बुलबुला बनाया कि सब कुछ ठीक है. लेकिन अब वे इस पर लगाम लगा रहे अब अचानक से अर्थव्यवस्था को पीछे खींच रहे हैं.

आगे उन्होंने बताया कि महंगाई को रोकने के लिए अमेरिकी फेडरल रिजर्व आगे भी ब्याज दरों में बढ़ोतरी जारी रखेगा और जाहिर सी बात है कि इससे लोगों को वास्तव में तकलीफ पहुंचेगी. उन्होंने कहा कि ब्याज दरों के 4.5 फीसदी से ऊपर जाने पर अर्थव्यवस्था में गिरावट आनी शुरू हो सकती है.

150 अरब डॉलर के फर्म की अगुवाई करते हैं डैलियो 
ब्रिजवाटर एसोसिएट्स ने पिछले हफ्ते एक बयान में बताया कि डैलियो ने 150 अरब डॉलर के हेज फंड फर्म का कंट्रोल नई पीढ़ी के निवेशकों को ट्रांसफर कर दिया है, हालांकि अभी वह इसके महत्वपूर्ण ओनर में से एक बने रहेंगे. 73 वर्षी डैलियो, ब्रिजवाटर के ऑपरेटिंग बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में अपने पद पर बने रहेंगे और फर्म के चीफ इनवेस्ट में ऑफिसर्स को अहम मुद्दों पर सलाह देंगे.

Tags: Business news in hindi, Economic growth, Federal Reserve meeting, Inflation

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें