बड़ा झटका- दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका की GDP ग्रोथ 10% गिरी

बड़ा झटका- दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका की GDP ग्रोथ 10% गिरी
दूसरी तिमाही में अमेरिका अर्थव्यवस्था में 9.5 फीसदी की गिरावट

अमेरिका के कॉमर्स डिपार्टमेंट द्वारा जारी आंकड़ों से पता चलता है​ कि दूसरी तिमाही में उसकी जीडीपी 9.5 फीसदी (USA GDP) लुढ़की है. सालाना आधार पर यह आंकड़ा 32.9 फीसदी का है, जोकि अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है.

  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिकी अर्थव्यवस्था (USA Economy) में अप्रैल-जून तिमाही में 33 फीसदी की बड़ी गिरावट आयी है. वृद्धि के लिहाज से यह अब तक की सबसे खराब तिमाही रही. इस दौरान कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के कारण कंपनियों को कामकाज बंद करना पड़ा जिससे बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार से हाथ धोना पड़ा और बेरोजगारी (Unemployment in USA) बढ़कर 14.7 फीसदी पर पहुंच गयी. इससे पहले, आइजनहावर प्रशासन के दौरान 1958 में अर्थव्यवस्था में 10 फीसदी की गिरावट आयी थी.

वाणिज्य मंत्रालय (Commerce Ministry) के दूसरी तिमाही के दौरान सकल घरेलू उत्पाद, सामानों और सेवाओं के कुल उत्पादन में गिरावट के आंकड़े 1947 के बाद से अब तक रिकार्ड में दर्ज सबसे बड़ी गिरावट को दर्शाते हैं.

11 साल के आर्थिक तेजी पर विराम
जनवरी-मार्च में अर्थव्यवस्था में 5 फीसदी की गिरावट आयी थी. इसी दौरान अर्थव्यवस्था ने कोविड-19 संकट के कारण आधिकारिक रूप से मंदी में प्रवेश किया. इसके साथ अमेरिका की 11 साल से जारी आर्थिक वृद्धि पर विराम लग गया.
यह भी पढ़ें: चाइनीज कंपनियों के सामान को रोकने के लिए,सरकार ने इस सामान पर लगाया भारी टैक्स



क्या है सबसे बड़ा कारण?
पिछली तिमाही में गिरावट का मुख्य कारण उपभोक्ता व्यय में कमी है, जिसका आर्थिक गतिविधियों में करीब 70 फीसदी योगदान है. ग्राहकों का खर्च सालाना आधार पर 34 फीसदी गिरा है. इसकी वजह यात्रा पर पाबंदी, ‘लॉकडाउन’ के कारण कई रेस्तरां, बार, मनांरेजन स्थलों और अन्य खुदरा प्रतिष्ठानों का बंद होना है. आंकड़ों के अनुसार व्यापार निवेश और रिहायशी मकान की मांग में भी गिरावट दर्ज की गयी है. कर संग्रह में कमी से सरकार का खर्च प्रभावित हुआ.

लाखों लोग बेरोजगार
इन सबसे अर्थव्यवस्था का मुख्य स्तंभ रोजगार बाजार पर बुरा असर पड़ा है. करोड़ों की संख्या में रोजगार प्रभावित हुए. लगातार 18वें महीने छंटनी के शिकार 10 लाख से अधिक लोगों ने बेरोजगार लाभ के लिये आवेदन किये. अबतक करीब एक तिहाई नौकरियां फिर से सृजित हुई हैं लेकिन संक्रमण के बढ़ते मामले से रोजगार बाजार पर आगे असर पड़ सकता है.

कोरोना वायरस महामारी की वजह से अमेरिका में कई छोटे-बड़े बिजनेस बंद हो गए है.अप्रैल के महीने में वहां की आर्थिक गति​विधियां बड़े स्तर पर कम हुईं. हालांकि, मई और जून में इसमें हल्की तेजी देखने को मिली थी. लेकिन, लॉकडाउन की वजह से हुए नुकसान के लिए इसे काफी नहीं बताया जा रहा है. मार्च और अप्रैल के महीने में अमेरिका में लॉकडाउन की वजह से आर्थिक गतिविधियां प्रभावित हुई थीं.

यह भी पढ़ें: अगले महीने से बदल जाएगा आपकी सैलरी से जुड़ा ये जरूरी नियम, जानिए इसके बारे में

अभी भी तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले
अमेरिका के लिए सबसे बड़ी समस्या एक यह भी है कि वहां अभी भी कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. यह अमेरिका अर्थव्यवस्था में रिकवरी के लिए चुनौती बन सकता है. वहां के कई स्टेट्स में रिओपनिंग प्रोसेस फिर से रोकना पड़ा है. कोविड-19 के मामले बढ़ने की वजह से बेरोजगारी दर भी बढ़ रही है और कंज्यूमर सेंटीमेंट पर भी इसका बुरा असर पड़ रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading