चीन नहीं बल्कि ​अमेरिका के साथ भारत ने पिछले साल सबसे ज्यादा व्यापार किया

चीन नहीं बल्कि ​अमेरिका के साथ भारत ने पिछले साल सबसे ज्यादा व्यापार किया
भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापार 88.75 अरब अमेरिकी डॉलर रहा.

भारत के व्यापार साझेदार (Trade Partner) के तौर पर लगातार दूसरे साल भी अमेरिका ही टॉप पर रहा है. वित्त वर्ष 2019-20 में भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय व्यापार 88.75 अरब अमेरिकी डॉलर रहा, जो 2018-19 में 87.96 अरब डॉलर था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 12, 2020, 10:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिका लगातार दूसरे साल 2019-20 में भी भारत का सबसे बड़ा व्यापार साझेदार बना रहा, जो दोनों देशों के बीच बढ़ते आर्थिक संबंधों को दर्शाता है. वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, 2019-20 में अमेरिका और भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार 88.75 अरब अमेरिकी डॉलर रहा, जो 2018-19 में 87.96 अरब डॉलर था.

अमेरिका उन चुनिंदा देशों में एक है, जिनके साथ भारत का व्यापार अधिशेष है. आंकड़ों के अनुसार 2019-20 में दोनों देशों के बीच व्यापार अंतर बढ़कर 17.42 अरब डॉलर भारत के पक्ष में रहा . 2018-19 में अधिशेष 16.86 अरब डॉलर था. अमेरिका 2018-19 में चीन को पीछे छोड़कर भारत का शीर्ष व्यापारिक साझेदार बन गया था.

यह भी पढ़ें: FD पर चाहिए 9 फीसदी तक ब्याज तो इन बैंकों में करें निवेश, पैसा रहेगा सेफ



भारत और चीन के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2019-20 में घटकर 81.87 अरब डॉलर रह गया, जो 2018-19 में 87.08 अरब डॉलर था. दोनों देशों के बीच व्यापार अंतर भी 53.57 अरब डॉलर से घटकर 48.66 अरब डॉलर रह गया.
आंकड़ों के मुताबिक चीन 2013-14 से 2017-18 तक भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार था. चीन से पहले, यूएई देश का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार था.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के बाद कितना बढ़ा आपके किचन का बजट? जानिए कैसे रहे भाव

चीनी सामानों का बहिष्कार
गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख में बीते पिछले महीने चीन की सेना के साथ हिंसक झड़प के बाद देश में चीनी सामानों का​ बहिष्कार किया जा रहा है. व्यापारी वर्ग में भी चीनी सामानों के बहिष्कार को लेकर कई तरह के मुहिम चलाये जा रहे हैं. हाल ही में, सरकार ने 59 ​चीनी ऐप्स को बैन भी किया है. हालांकि, सरकार ने इन ऐप्स को बैन करने का कारण भारत के संपुभता व अखंडता को खतरा बताया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading