केरल और लद्दाख तक सेनेटाइजर बेच रहा है यह राज्य, बीते साल कमाए थे 137 करोड़ रुपये

उत्‍तर प्रदेश में हर दिन 6 लाख लीटर सैनेटाइजर का उत्‍पादन किया जा रहा है.

उत्‍तर प्रदेश में हर दिन 6 लाख लीटर सैनेटाइजर का उत्‍पादन किया जा रहा है.

उत्‍तर प्रदेश (UP) का आबकारी विभाग सिर्फ अपने राज्‍य में ही नहीं दूसरे राज्यों में भी कोरोना वायरस की चेन तोड़ने का काम कर रहा है. दरअसल, यूपी की चीनी मिलों और दूसरी छोटी इकाइयों में रोजाना छह लाख लीटर सेनेटाइजर का उत्‍पादन (Sanitizer Production) किया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 7:51 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की पहल पर आबकारी विभाग ने एक बार फिर नया कीर्तिमान रचा है. मार्च तक सिर्फ तीन महीनों में ही 2 करोड़ लीटर सेनेटाइजर (Sanitizer) का उत्पादन कर उसे बाजार में सप्लाई किया है. खास बात यह है कि यूपी (UP) के बने सेनेटाइजर की सप्लाई केरल और लद्दाख तक की जा रही है. यह सेनेटाइजर यूपी की चीनी मिलों में तैयार किया जा रहा है. बीते साल भी आबकारी विभाग ने पौने दो करोड़ लीटर के करीब सेनेटाइजर का उत्पादन किया था. इसमे से आधा सेनेटाइजर बाजार में बेचा गया था, तो आधा सरकारी विभागों को भेजा गया था.

गौरतलब रहे यूपी का आबकारी विभाग सिर्फ यूपी में ही नहीं दूसरे राज्यों में भी कोरोना की चेन को तोड़ने का काम कर रहा है. इसी के चलते यूपी की चीनी मिलों और दूसरी छोटी इकाईयों में रोजाना छह लाख लीटर सेनेटाइजर का उत्‍पादन किया जा रहा है, जबकि सेनेटाइजर उत्‍पादन की क्षमता 6.5 लाख लीटर तक है. अपर मुख्‍य सचिव संजय भूसरेड्डी के मुताबिक सरकारी और निजी संस्‍थानों के साथ-साथ आबकारी विभाग द्वारा तैयार किया गया सेनेटाइजर आम जनता के लिए बाजार में भी मौजूद है.

आबकारी विभाग का सेनेटाइजर इस्तेमाल कर रहे यह विभाग

आबकारी विभाग द्वारा तैयार किए गए सेनेटाइजर से नगर निगम, स्वास्‍थ्‍य विभाग समेत अन्‍य संस्थाएं सेनेटाइजेशन का काम कर रही हैं. खासतौर पर न‍गर निगम की ओर से प्रदेश में युद्ध स्‍तर पर सेनेटाइजेशन अभियान चलाया जा रहा है. प्रदेश के 17 नगर निगमों और 48 बड़ी नगर महापालिकाओं द्वारा प्रदेश के प्रमुख संस्‍थान, बाजारों और अस्‍पताल समेत शहर की प्रमुख सड़कों और गलियों को सेनीटाइज करने का काम चल रहा है.
Noida में अब वाजिब रेट पर मिलेगी एम्बुलेंस, पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

बीते साल बनाया था 1.77 करोड़ लीटर सेनेटाइजर

बीते साल कोरोना काल में आबकारी विभाग ने राज्य की चीनी मिलों और छोटी इकाइयों ने मिलकर 24 मार्च से 15 नवंबर 2020 तक 1.77 करोड़ लीटर सेनेटाइजर का रिकॉर्ड मात्रा में उत्पादन किया था. इससे सरकार को 137 करोड़ रुपए का राजस्व मिला था. इसमें यूपी के बाहर 78.38 लाख लीटर सेनीटाइजर की बिक्री की गई थी. वहीं यूपी में कुल 87.01 लाख लीटर सेनेटाइजर बेचा गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज