उत्तराखंड इंवेस्टर्स समिट-2018: देवभूमि को डिजिटल देवभूमि बनाएगा 'जियो'

जियो राज्‍य के 2185 सरकारी स्‍कूलों और 200 से ज्‍यादा सरकारी कॉलेजों को अगले दो साल में जोड़ने की योजना बना रहा है. वहीं 100 से ज्‍यादा रिलायंस रिटेल स्‍टोर्स को उचित दामों पर चलाने और इनकी संख्‍या बढ़ाने का भी प्लान बना रहा है.

News18Hindi
Updated: October 7, 2018, 5:29 PM IST
News18Hindi
Updated: October 7, 2018, 5:29 PM IST

देहरादून में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड इंवेस्टर्स समिट-2018 का उद्घाटन किया. इस मौके पर वीडियो जारी कर रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्‍टर मुकेश अंबानी ने जियो के माध्‍यम से देवभूमि को डिजिटल देवभूमि बनाने की बात कही.


मुकेश अंबानी ने उत्‍तराखंड सरकार को पहली इन्‍वेस्‍टर समिट पर बधाई देते हुए कहा कि डिजिटल उत्‍तराखंड बनाने के लिए जियो पूरी तरह प्रतिबद्ध है. इससे राज्‍य के हर एक नागरिक को सर्वश्रेष्‍ठ क्‍वालिटी की डिजिटल कनेक्टिविटी और डिजिटल सेवाएं मिल सकती हैं.

जियो राज्‍य के 2185 सरकारी स्‍कूलों और 200 से ज्‍यादा सरकारी कॉलेजों को अगले दो साल में जोड़ने की योजना बना रहा है. वहीं 100 से ज्‍यादा रिलायंस रिटेल स्‍टोर्स को उचित दामों पर चलाने और इनकी संख्‍या बढ़ाने का भी प्लान बना रहा है.

डिजिटल सेवाएं देने के साथ ही जियो पर्यावरण को सुरक्षित रखने वाली इंडस्‍ट्रीज और बिजनेस को बढ़ावा देगा. इसके साथ ही पर्यटन, स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की डिलीवरी, शिक्षा और सरकारी सेवाओं को हर नागरिक तक पहुंचाने में भी मदद करेगा. रिलायंस पिछले कुछ सालों में 4 हजार करोड़ रुपये का निवेश कर राज्‍य के सबसे ज्‍यादा निवेश करने वालों में से है. वहीं बड़ी संख्‍या में रोजगार भी दिया है.

अंबानी ने कहा कि राज्‍य सरकार की प्रो-बिजनेस पॉलिसी और जियो का निवेश मिलकर हाईटेक इंडस्‍ट्रीज की तरक्‍की के नए दरवाजे खोलेंगे. उन्‍हें भरोसा है कि इन्‍वेस्‍टर्स समिट भविष्‍य में राज्‍य की तरक्‍की के लिए जमीन तैयार करेगी. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज राज्‍य के सहयोग और वातावरण से पूरी तरह संतुष्‍ट है.

अंबानी ने वीडियो में कहा कि मुंबई में वे उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मिले और उत्‍तराखंड को लीडिंग स्‍टेट बनाने के उनके विजन से काफी प्रभावित हुए. उत्‍तराखंड प्राकृतिक संपत्ति से ओत-प्रोत राज्‍य है. साथ ही वहां के लोग भी मेहनती हैं.

बता दें कि 7 और 8 अक्टूबर को चलने वाले इस इंवेस्टर्स समिट में देश विदेश की कंपनियां हिस्सा ले रही हैं. इंवेस्टर्स समिट में अबतक 70 हजार करोड़ से ज्यादा के निवेश किये जाने की बात सामने आई है. सरकार ने 12 सेक्टरों में निवेश की संभावनाएं तलाशने की कोशिश की है. सरकार का खास जोर फूड प्रोसेसिंग, टूरिज्म, हॉर्टिकल्चर पर है. सरकार ने निवेशकों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम के साथ ही उन्हें सस्ती बिजली देने की बात कही है.

(डिस्क्लेमर: हिंदी न्यूज़ 18 डॉट कॉम रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर