सिर्फ 8 घंटे में दिल्ली से कटरा पहुंची वंदे भारत एक्सप्रेस, जानिए इसकी खासियत के बारे में...

देशी सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत का नई दिल्ली से कटरा के बीच सफल ट्रायल रन सोमवार को हुआ. ट्रेन 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से निर्धारित समय दोपहर 12:38 बजे जम्मू रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई.

News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 4:34 PM IST
सिर्फ 8 घंटे में दिल्ली से कटरा पहुंची वंदे भारत एक्सप्रेस, जानिए इसकी खासियत के बारे में...
सिर्फ 8 घंटे में दिल्ली से कटरा पहुंची वंदे भारत एक्सप्रेस, जानिए इसकी खासियत के बारे में...
News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 4:34 PM IST
हवाई जहाज जैसी सुविधाओं वाली भारत की सबसे तेज ट्रेन वंदे भारत अब नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से वैष्णो देवी के रूट पर दौड़ेगी. अपनी ट्रायल यात्रा में वंदे भारत एक्सप्रेस (Vande Bharat Express) सिर्फ 8 घंटे में नई दिल्ली से जम्मू के कटरा तक पहुंच गई. स्वदेशी सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत का नई दिल्ली से कटरा के बीच सफल ट्रायल रन सोमवार को हुआ. ट्रेन 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से निर्धारित समय दोपहर 12:38 बजे जम्मू रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई. दो मिनट के स्टॉप के बाद 12:40 बजे कटरा के लिए रवाना हो गई.

सिर्फ 8 घंटे में दिल्ली से कटरा पहुंची वंदे भारत एक्सप्रेस

>> वंदे भारत एक्सप्रेस ( Train-18) सोमवार को सुबह नई दिल्ली से कटरा रेलवे स्टेशन के लिए सुबह 6:00 बजे प्लेटफॉर्म नंबर- 10 से रवाना हुई.

>> नई दिल्ली से लुधियाना के बीच ट्रेन की रफ्तार 130 किलोमीटर प्रतिघंटा रही. ये ट्रेन अपने तय समय से 5 मिनट पहले ही लगभग 8:05 बजे अंबाला रेलवे स्टेशन पर पहुंच गई.

>> शेड्यूल के मुताबिक, इस ट्रेन को 8.10 बजे अंबाला पहुंचना था. अम्बाला से ये ट्रेन लगभग 8:12 बजे रवाना हुई.



>> लुधियाना रेलवे स्टेशन पर भी ये ट्रेन अपने तय समय सुबह 9:19 बजे पहुंची और 2 मिनट के ठहराव के बाद ट्रेन जम्मू के लिए रवाना हो गई.
Loading...

>> यह ट्रेन लगभग 4 मिनट की देरी से सोमवार दोपहर 2.04 बजे कटरा रेलवे स्टेशन पर पहुंची.

>> वापसी में इस ट्रेन को सोमवार दोपहर ही 03 बजे बजे श्री माता वैष्णों देवी कटरा से चला दिया गया. वापसी में इस ट्रेन को शाम 4.13 बजे जम्मू पहुंचना था. दो मिनट के स्टॉपेज के बाद इस ट्रेन को लुधियाना के लिए रवाना कर दिया गया.

>> लुधियाना में ये ट्रेन 7.32 बजे पहुंचनी थी. इस ट्रेन को मंगलवार सुबह 11 बजे तक लुधियाना में रोका गया. यहां इस ट्रेन के कई तरह के परीक्षण व प्राप्त आंकड़ों का आंकलन हुआ. 12.14 बजे इस ट्रेन को अम्बाला पहुंचना था.

>> लेकिन यह ट्रेन 12.21 बजे अम्बाला रेलवे स्टेशन पर पहुंची. एक मिनट रुक कर 12.22 बजे यह ट्रेन नई दिल्ली के लिए रवाना हो गई. इस ट्रेन को दोपहर 2.26 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचना है.

जानिए ट्रेन की खासियत...

वंदे भारत के इंजनलेस और बिजली से चलनेवाली ट्रेन होने साथ कई और खासियत भी हैं जो इसे स्पेशल बनाती हैं. ट्रेन में कुल 16 डिब्बे हैं. जिनमें 14 चेयर कार वाले और 2 एग्जिक्युटिव क्लास के हैं. एक चेयर कार कोच में 78 कुर्सियां हैं. वहीं एग्जिक्यूटिव में इनकी संख्या 50 से 52 की है.

(1) ये वही कोच हैं जिनमें पायलट बैठकर ट्रेन चलाएगा. वंदे भारत में कुल दो डीटीसी कोच हैं. सबसे पहला और सबसे आखिरी. ठीक मेट्रो की तरह. 14 में से दो चेयरकार कोच भी यही हैं. यानी जिस कोच में पायलट होगा उसमें ही सवारी भी.

(2) बिजली की मदद से ट्रेन को स्पीड देनेवाली मोटर इन्हीं कोचों के नीचे लगी है. ट्रेन में इनकी संख्या कुल 8 है.

(3) बिजली को ट्रेन के हिसाब से कन्वर्ट करने का काम इन्हीं कोच के नीचे लगे ट्रांसफॉर्मर करते हैं. ट्रेन में इनकी संख्या कुल 4 है.

(4) ट्रेन में इनकी संख्या दो है. यह ट्रेन के बीच में होते हैं. अगर किसी वजह से ट्रेन के डीटीसी कोच काम करना बंद कर देते हैं तो इन कोच में लगे सिस्टम की मदद से ट्रेन को चलाया जा सकता है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2019, 3:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...