वेदांता ने 37.2 करोड़ शेयरों के लिए पेश किया ओपन ऑफर

वेदांता लिमिटेड

वेदांता लिमिटेड

वेदांता लिमिटेड (Vedanta Ltd) के प्रमोटरों ने शनिवार को 160 रुपए प्रति शेयर यानी बाजार में मौजूदा कीमत से 12 फीसदी की छूट पर कंपनी के 37.2 करोड़ शेयरों के लिए एक ओपन ऑफर शुरू करने की घोषणा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 9, 2021, 11:35 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. माइनिंग क्षेत्र की दिग्गज कंपनी वेदांता लिमिटेड (Vedanta Ltd) के प्रमोटरों ने शनिवार को 160 रुपए प्रति शेयर यानी बाजार में मौजूदा कीमत से 12 फीसदी की छूट पर कंपनी के 37.2 करोड़ शेयरों के लिए एक ओपन ऑफर शुरू करने की घोषणा की है. इस ओपन ऑफर में कंपनी के 10 फीसदी इक्विटी स्टेक आते हैं.

वहीं शुक्रवार को एनएसई पर कंपनी का शेयर 178.85 रुपए के साथ 3.5 फीसदी कम पर बंद हुआ. अक्टूबर 2020 में कंपनी की डीलिस्टिंग की कोशिश नाकाम रही थी.

कंपनी ने एक स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में कहा कि वो अपनी इच्छा से ये ओपन ऑफर लेकर आई है, जिसके तहत कंपनी के 371,750,500 इक्विटी शेयर्स आते हैं और जो वेदांता लिमिटेड के शेयर कैपिटल का 10 फीसदी है. साथ ही इसमें आगे कहा गया है कि ये सार्वजनिक घोषणा जेपी मॉर्गन इंडिया प्राइवेट ने की है, जो इस ऑफर की मैनेजर कंपनी है.  इसके अलावा इसमें ये जानकारी भी दी गई है इसमें कौन-कौन कंपनी शेयर खरीदेगी.

स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग के मुताबिक, PAC 1 में स्टार होल्डिंग, PAC 2 वेदांत होल्डिंग  और PAC 3 में  वेदांता होल्डिंग्स मॉरिशस शामिल है.
ये भी पढ़ें- Union Budget 2021: अर्थशास्त्रियों ने दी निजीकरण तेज करने की सलाह, इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी दिया जोर

BPCL में हिस्सेदारी खरीदने के लिए वेदांता लगा चुकी है 59 हजार करोड़ की बोली

गौरतलब है कि देश की दूसरी सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) में सरकार की 52.98 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए सरकार को तीन बोलियां मिली हैं. इसमें वेदांता ने 59 हजार करोड रुपए की बोली लगाई है. केंद्र सरकार को उम्मीद है कि उसे बीपीसीएल के प्राइवेटाइजेशन से 45,000 करोड़ रुपये का रेवेन्यू मिलेगा.



ये भी पढ़ें- पीयूष गोयल का दावा, स्ट्रक्चरल रिफॉर्म्स से 2025 तक हासिल कर लेंगे 5000 अरब डॉलर की इकोनॉमी का लक्ष्य

वेदांता ग्रुप ने बीपीसीएल में सरकार की 52.98 फीसदी हिस्सेदारी के अधिग्रहण के लिए EoI दिया है. बिजनेसमैन अनिल अग्रवाल की कंपनी वेदांता को बीपीसीएल को खरीदने का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज