अपना शहर चुनें

States

आम आदमी को मिली राहत! गिरने लगे सब्जियों के दाम, आधे से भी कम रेट पर आई हरी मटर, चेक करें लिस्ट

160 से 60 रुपये प्रति किलो पर आ गई मटर
160 से 60 रुपये प्रति किलो पर आ गई मटर

अब राहत की बात यह है कि दिवाली बीतने के बाद सब्जियों (Vegetable) के भाव नीचे आना शुरु हो गए हैं. मटर आधे से भी कम रेट (Rate) पर बिक रही है. सर्दियों में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होने वाली अदरक भी सस्ती बिक रही है. प्याज (Onion) के रेट भी काफी हद तक काबू में आ गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 9:06 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दीवाली (Diwali) से पहले सब्जियों के दाम इतने ऊपर तक चले गए थे कि उसका असर खुदरा मुद्रास्फीति पर भी दिखाई देने लगा था. खुदरा मुद्रास्फीति सात महीने के सबसे उच्च स्तर पर पहुंच गई थी. लेकिन अब राहत की बात यह है कि दिवाली बीतने के बाद सब्जियों (Vegetable) के भाव नीचे आना शुरु हो गए हैं. मटर आधे से भी कम रेट (Rate) पर बिक रही है. सर्दियों में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होने वाली अदरक भी सस्ती बिक रही है. प्याज (Onion) के रेट भी काफी हद तक काबू में आ गए हैं.

160 से 60 रुपये प्रति किलो पर आ गई मटर-थोक सब्जियों के विक्रेता राजू भाई बताते हैं कि बीते 15 दिन पहले तक एक के बाद एक लगातार त्योहार मनाए जा रहे थे. छठ पर्व भी था. इस दौरान सब्जियों की खासी डिमांड रही. यही वजह है कि 10-15 दिन पहले तक एक बार भी सब्जियों के भाव कम नहीं हुए, लेकिन त्योहार बीतते ही हरी मटर थोक में 60 रुपये किलो पर आ गई है. यही मटर त्योहार के दौरान 160 रुपये किलो तक बिक रही थी.

दिल्ली के बुराड़ी में 6 गज़ में बने चर्चित 3 मंजिला मकान पर MCD चला सकती है बुलडोजर



30 से 32 रुपये किलो बिक रहा अदरक-सर्दियों के मौसम में अगर अदरक का सबसे ज़्यादा कहीं इस्तेमाल है तो वो चाय में होता है. पिछले सीजन की बात करें तो सर्दी में अदरक के भाव खासे ऊपर चढ़े हुए थे. लेकिन अब नवंबर में भी अदरक थोक में 30 से 32 रुपये किलो तक बिक रही थी. जबकि 50 रुपये किलो बिकने के बाद अब 42 से लेकर 45 रुपये किलो तक बिक रही थी. आने वाले एक हफ्ते बाद प्याज के दाम और गिर सकते हैं. इस वक्त मंडी में सबसे महंगा अगर कुछ हैं तो वो है लहसन. लहसन 110 से 120 रुपये किलो तक बिक रहा है. लेकिन खुला हुआ कलियों के रूप में लहसन आज भी 80 रुपये किलो बिक रहा था.

टमाटर-आलू की सब्जी पर आया मामूली असर-रिटेल में सबजी बेचने वाले वसीम का कहना है कि अभी आलू पर से महंगाई का रंग नहीं उतरा है. लेकिन इना जरूर है कि नया आलू आने के बाद अब लोगों को विकल्प मिल गया है. लेकिन अभी नया आलू भी इतना सस्ता नहीं है. हम थोक में नया आलू 38 से 40 रुपये किलो खरीदकर ला रहे हैं. वहीं पुराना आलू अभी 40 से 45 रुपये किलो मिल रहा था. टमाटर में मामूली सुधर आया है. अब टमाटर 28 से 30 रुपये किलो तक बिक रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज