• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Vijaya Diagnostic IPO अगले सप्ताह खुलेगा, निवेश करने से पहले जान लीजिए जरूरी बातें

Vijaya Diagnostic IPO अगले सप्ताह खुलेगा, निवेश करने से पहले जान लीजिए जरूरी बातें

 Vijaya Diagnostic IPO अगले सप्ताह खुलेगा

Vijaya Diagnostic IPO अगले सप्ताह खुलेगा

हेल्थकेयर चेन Vijaya Diagnostic का इनिशियल पब्लिक ऑफर अगले सप्ताह सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. कंपनी ने इसके लिए 522-531 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है. यह IPO पूरी तरह से एक ऑफर फॉर सेल (OFS) है जिसमें प्रमोटर्स और इनवेस्टर्स शेयर्स बेचेंगे.

  • Share this:

    मुंबई . अगले सप्ताह एक और आईपीओ आने के लिए तैयार है. रिकॉर्ड संख्या में आ रहे आईपीओ के बीच हेल्थकेयर चेन Vijaya Diagnostic का इनिशियल पब्लिक ऑफर अगले सप्ताह सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. कंपनी ने इसके लिए 522-531 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है. यह IPO पूरी तरह से एक ऑफर फॉर सेल (OFS) है जिसमें प्रमोटर्स और इनवेस्टर्स शेयर्स बेचेंगे.

    IPO में प्रमोटर एस सुरेन्द्रनाथ रेड्डी और इनवेस्टर्स कराकोरम लिमिटेड और केदारा कैपिटल ऑल्टरनेटिव इनवेस्टमेंट फंड की ओर से 35 प्रतिशत हिस्सेदारी बेची जाएगी. मार्केट के जानकारों के अनुसार, Vijaya Diagnostic के लिए ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) 35-40 रुपये की रेंज में है.

     लिस्टिंग 14 सितंबर को हो सकती है
    कंपनी की योजना अपर प्राइस बैंड पर 1,895 करोड़ रुपये जुटाने की है. इसके शेयर की लिस्टिंग 14 सितंबर को हो सकती है. IPO में 50 प्रतिशत हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) के लिए और 35 प्रतिशत रिटेल इनवेस्टर्स के लिए रखा गया है. बाकी का 15 प्रतिशत नॉन-इंस्टीट्यूशनल बायर्स के लिए होगा.

    यह भी पढ़ें- IPO निवेशकों की संख्‍या में इस साल भारी बढ़ोतरी, जानिए किस राज्य के लोग सबसे ज्यादा पैसा लगा रहे

    केदारा कैपिटल की फंडिंग वाली Vijaya Diagnostic अपने बड़े नेटवर्क के जरिए पैथोलॉजी और रेडियोलॉजी टेस्टिंग सर्विसेज देती है. इसके पास आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कोलकाता और एनसीआर में 80 डायग्नोस्टिक सेंटर और 11 रेफरेंस लैबोरेट्री हैं.

    पिछले फाइनेंशियल ईयर में कंपनी का प्रॉफिट बढ़कर 84.91 करोड़ रुपये रहा था. इसकी कुल इनकम में भी बढ़ोतरी हुई थी और यह 388.59 करोड़ रुपये की थी. IPO के लिए ICICI सिक्योरिटीज, इडलवाइज फाइनेंशियल सर्विसेज और कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी को इनवेस्टमेंट बैंकर्स के तौर पर नियुक्त किया गया है.

    यह भी पढ़ें – शेयर बाजार की चमक देख कर अगर आप भी पैसा लगा रहे हैं तो 5 बातों को जान लें, वरना होगा नुकसान

    आईपीओ निवेश व्यवहार पर टिप्पणी करते हुए एमओएफएसएल में ब्रोकिंग एवं वितरण कारोबार के पूर्ण निदेशक और सीईओ अजय मेनन ने कहा, ‘’वित्त वर्ष के बचे हुए समय में कई सारी कंपनियां प्राथमिक बाजार से पूंजी जुटाने की योजना बना रही है. अर्थव्यवस्था में हो रही रिकवरी और अनुकूल बाजार स्थिति की वजह से वित्त वर्ष 22 में आईपीओ के निवेश का पसंदीदा विकल्प बने रहने की उम्मीद है.’’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज