• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • रतन टाटा के नाम पर वायरल हो रहा था ये फेक मैसेज, अब उन्होंने दिया ये जवाब

रतन टाटा के नाम पर वायरल हो रहा था ये फेक मैसेज, अब उन्होंने दिया ये जवाब

रतन टाटा (File Photo)

रतन टाटा (File Photo)

सोशल मीडिया पर रतन टाटा के नाम पर एक फेक न्यूज तेजी से वायरल हो रही है. इस न्यूज में उनके हवाले से कई बाते कही गई हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोविड-19 आउटब्रेक (COVID-19 Outbreak) के बीच इस समय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर तेजी से कई मैसेज वायरल हो रहे हैं. सरकार और सोशल मीडिया कंपनियों द्वारा लगातार उठाये जा रहे कई कदम के बाद भी फेक न्यूज वायरल हो रही है. भारतीय उद्योगपति और टाटा संस के पूर्व चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) को लेकर भी इस समय सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा. इस मैसेज में रतन टाटा के हवाले से कोविड-19 को लेकर अर्थव्यवस्था पर कुछ बातें कही गई हैं.

    रतन टाटा के हवाले से क्या कहा जा रहा है?
    रतन टाटा के नाम पर वायरल हो रहे इस मैसेज में उनकी फोटो है और एक न्यूजपेपर आर्टिकल है. इस आर्टिकल में कथित तौर उन एक्सपर्ट पर निशाना साधा गया है जो कोविड-19 की वजह से भारतीय अर्थव्यवस्था में भारी गिरावट का अनुमान लगा रहे हैं. इस में लिखा गया है, 'मैं एक्सपर्ट्स के बारे में बहुत कुछ नहीं जानता. लेकिन मैं मानवीय प्रेरणा और कड़ी मेहनत के बारे में निश्चत तौर पर जानता हूं.'

    यह भी पढ़ें: PM-Kisan: मोदी सरकार ने देश के 8.7 करोड़ किसानों को दिए 17,400 करोड़ रुपये

    रतन टाटा ने क्या कहा?
    शनिवार को इस 82 वर्षीय रतन टाटा ने इस बारे में स्पष्टीकरण जारी करते हुए सोशल मीडिया पर लिखा, 'मैं आपसे आग्रह करता हूं कि व्हाट्सऐप व अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सर्कुलेट होने वाली जानकारी को ​वेरिफाई कर लें'



    उनके नाम पर वायरल हो रहे इस फेक न्यूज का खंडन करते हुए उन्होंने कहा कि अगर मुझे कुछ कहना होगा या कोई जानकारी देनी होगी तो मैं किसी आधिकारिक चैनल के जरिये ये जानकारी दूंगा.

    यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस: IMF प्रमुख के बाह्य सलाहकार समूह में शामिल हुए रघुराम राजन

    500 करोड़ रुपये देने का ऐलान कर चुके हैं रतन टाटा
    आपको बता दें कि बीते 28 मार्च को रतन टाटा ने एक ट्वीट के जरिये जानकारी दी थी कि वो पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विमेंट के डेवलपमेंट के ​लिए 500 करोड़ रुपये की प्रतिबद्धता देते हैं. इस PPE का इस्तेमाल मेडिकल स्टाफ द्वारा किया जायेगा. साथ ही वेंटिलेटर्स, टेस्टिंग किट्स ओर मॉड्यूलर ट्रीटमेंट सुविधाओं मुहैया कराने के बारे में भी जानकारी दी थी.

    यह भी पढ़ें: मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर पाने के लिए जरूरी है ये नंबर रजिस्टर्ड करना, जानें यहां

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज