• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • चार और रामायण सर्किट ट्रेन चलाएगी IRCTC, अयोध्या से रामेश्वर तक होंगे दर्शन, जानिए किराया

चार और रामायण सर्किट ट्रेन चलाएगी IRCTC, अयोध्या से रामेश्वर तक होंगे दर्शन, जानिए किराया

रामायण सर्किट ट्रेन में 17 दिन की यात्रा के लिए एसी फर्स्ट क्लास की बुकिंग 1,02,095 रुपये और सेकंड क्लास में 82,950 रुपये में होगी.

रामायण सर्किट ट्रेन में 17 दिन की यात्रा के लिए एसी फर्स्ट क्लास की बुकिंग 1,02,095 रुपये और सेकंड क्लास में 82,950 रुपये में होगी.

राम भक्तों की मांग को देखते हुए चार और रामायण सर्किट ट्रेन (Ramayana Circuit Train) स्पेशल ट्रेन पटरी पर दौड़ने वाली है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. राम भक्तों के लिए भारतीय रेलवे (Indian Railway) की सहायक कंपनी आईआरसीटीसी (IRCTC) एक बड़ी खुशखबरी लेकर आया है. दरअसल, राम भक्तों की मांगों को देखते हुए आईआरसीटीसी ने 4 और रामायण सर्किट ट्रेन (Ramayana Circuit Train) चलाने का फैसला किया है.

7 नवंबर से चल रही है ‘रामायण सर्किट ट्रेन’
पहली रामायण सर्किट ट्रेन 7 नवंबर, 2020 से चलाई जा रही है. इस ट्रेन की शेड्यूलिंग काफी पहले हो चुकी है. इस ट्रेन की बुकिंग फुल हो चुकी है और लगातार इस तरह की ट्रेन की मांग श्रद्धालुओं के तरफ से की जा रही है. इसी को ध्यान में रखकर आईआरसीटीसी ने फैसला लिया है कि इस ट्रेन के अलावा 4 और रामायण सर्किट ट्रेन चलाई जाए. पहले दौर के रामायण सर्किट ट्रेन के बाद अब 16 नवंबर को दूसरी ट्रेन, 25 नवंबर को तीसरी ट्रेन, 27 नवंबर चौथी और 20 जनवरी से पांचवीं ट्रेन चलाई जाएगी.

क्या है रामायण सर्किट ट्रेन
रामायण सर्किट ट्रेन के जरिए भगवान राम से जुड़े धार्मिक स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे. इस ट्रेन से 7,500 किमी की यात्रा 17 दिन में पूरी होगी. ये ट्रेन दिल्ली के सफरदरजंग रेलवे स्टेशन से शुरू होगी. ये ट्रेन यात्रियों को श्रीराम से जुड़े सभी धार्मिक स्थलों के दर्शन कराएगी. पूरी यात्रा में कुल 17 दिन लगेंगे. यात्रा का पहला पड़ाव अयोध्या होगा, जहां श्रीराम जन्मभूमि मंदिर, श्रीहनुमान मंदिर के दर्शन कराए जाएंगे. अयोध्या से ये ट्रेन सीतामढ़ी जाएगी, जहां जानकी जन्म स्थान और नेपाल स्थित राम जानकी मंदिर के दर्शन होंगे.

ट्रेन का अगला पड़ाव भगवान शिव की नगरी काशी होगा. फिर चित्रकूट और वहां से नासिक पहुंचेगी. नासिक के बाद प्राचीन किष्किन्धा नगरी हम्पी अगला पड़ाव होगा, जहां अंजनी पर्वत स्थित हनुमान जन्मस्थल के दर्शन कराए जाएंगे. इस ट्रेन का आखिरी पड़ाव रामेश्वरम होगा. रामेश्वरम से चलकर ये ट्रेन 17वें दिन दिल्ली वापस पहुंचेगी. इस यात्रा के लिए एसी फर्स्ट क्लास की बुकिंग 1,02,095 रुपये और सेकंड क्लास में 82,950 रुपये में होगी.

ये भी पढ़ें- 7 दिन के लिए लेह-लद्दाख की वादियों में घूमने का मौका, सिर्फ 15,550 रुपये पड़ेगा खर्च, फटाफट जानें पैकेज डिटेल

रामायण सर्किट ट्रेन में क्या है खास
अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस एसी पर्यटक ट्रेन में यात्री कोच के अतिरिक्त दो रेल डाइनिंग रेस्तरां, एक आधुनिक किचन कार और यात्रियों के लिए फुट मसाजर, मिनी लाइब्रेरी, आधुनिक स्वच्छ शौचालय और शॉवर क्यूबिकल आदि की सुविधा भी उपलब्ध होगी. साथ ही सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड, इलेक्ट्रॉनिक लॉकर और सीसीटीवी कैमरे भी हर कोच में उपलब्ध रहेंगे.

यात्रा की पूरी अवधि के दौरान आईआरसीटीसी की टीम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य संबंधी सभी प्रोटोकॉल का ध्यान रखेगी. सभी पर्यटकों को फेस मास्क, हैंड ग्लव्स और सैनिटाइज़र रखने के लिए एक सुरक्षा किट दी जाएगी. सभी पर्यटकों और कर्मचारियों का तापमान जांच और हॉल्ट स्टेशनों पर बार-बार ट्रेन सेनिटाइजेशन सुनिश्चित किया जाएगा. हर भोजन सेवा के बाद रसोई और रेस्तरां को साफ और सेनिटाइज किया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज