Vodafone Idea ने बनाया घाटे का सबसे बड़ा रिकार्ड, वित्त वर्ष 2019-20 में हुआ 73878 करोड़ रुपये का नुकसान

 Vodafone Idea ने बनाया घाटे का बड़ा रिकार्ड, हुआ 73878 करोड़ रुपये का नुकसान
Vodafone Idea ने बनाया घाटे का बड़ा रिकार्ड, हुआ 73878 करोड़ रुपये का नुकसान

देश की तीसरी सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया ने बुधवार को कहा कि उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार सांविधिक बकाए का प्रावधान करने के बाद मार्च 2020 को समाप्त वित्त वर्ष के दौरान उसकी शुद्ध हानि 73,878 करोड़ रुपये रही.

  • Share this:
नई दिल्ली. देश की तीसरी सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने बुधवार को कहा कि उच्चतम न्यायालय के निर्देशों के अनुसार सांविधिक बकाए का प्रावधान करने के बाद मार्च 2020 को समाप्त वित्त वर्ष के दौरान उसकी शुद्ध हानि 73,878 करोड़ रुपये रही. यह किसी भी भारतीय कंपनी को हुई अब तक की सबसे बड़ी वार्षिक हानि है.

न्यायालय ने आदेश दिया था कि सांविधिक बकाए की गणना में गैर-दूरसंचार आय को भी शामिल किया जाएगा, जिसके बाद कंपनी को 51,400 करोड़ रुपये चुकाने हैं. कंपनी ने कहा कि इस देनदारी के कारण कंपनी का कामकाम जारी रहने को लेकर गंभीर संदेह पैदा हुए.

ये भी पढ़ें:- 1 जुलाई से बदल गया Aadhaar से जुड़ा ये बड़ा नियम, इन कामों के लिए हुआ जरूरी



वोडाफोन आइडिया (वीआईएल) ने शेयर बाजार को बताया कि मार्च तिमाही के दौरान उसका शुद्ध नुकसान 11,643.5 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की समान तिमाही के दौरान 4,881.9 करोड़ रुपये था और अक्टूबर-दिसंबर 2019 तिमाही में 6,438.8 करोड़ रुपये था.
कंपनी ने बताया कि मार्च 2020 तिमाही के दौरान परिचालन से आय 11,754.2 करोड़ रुपये रही. बीते वित्त वर्ष के दौरान कंपनी को 73,878.1 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ. वोडाफोन आइडिया को वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान 14,603.9 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था.

ये भी पढ़ें:- भारत में सामान बेचने और इन्वेस्टमेंट करने के लिए चीन कर रहा जबरदस्त प्लानिंग

ग्राहकों की संख्या में भी गिरावट 
कंपनी का सब्सक्राइबर बेस मार्च तिमाही में 291 मिलियन हो गया. दिसंबर में यह 304 मिलियन था.एजीआर बकाए पर कंपनी ने कहा कि उसने कुल 46,000 करोड़ रुपए की अनुमानित देनदारी को मान्यता दी है. गौरतलब है कि वोडाफोन आइडिया ने इंडस-इंफ्राटेल विलय के पूरा होने पर इंडस टावर्स में अपनी 11.15 प्रतिशत हिस्सेदारी से कमाई करने की योजना बनाई है. कंपनी ने कहा कि अपने समग्र प्रदर्शन पर महामारी का सामग्री पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है, लेकिन यह स्थिति पर बारीकी से नजर बनाये हुए है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज