अपना शहर चुनें

States

Personal loan लेना चाहते हैं तो इन बैंकों में मिल रहा है सबसे कम ब्याज दर पर कर्ज

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) इस समय पर्सनल लोन पर अन्य बैंकों (Banks) की अपेक्षा सबसे कम ब्याज (Interest) वसूल रहे हैं.
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) इस समय पर्सनल लोन पर अन्य बैंकों (Banks) की अपेक्षा सबसे कम ब्याज (Interest) वसूल रहे हैं.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB) और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (Central Bank of India) इस समय पर्सनल लोन पर अन्य बैंकों (Banks) की अपेक्षा सबसे कम ब्याज (Interest) वसूल रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 10, 2021, 7:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना महामारी और लॉकडाउन ने लोगों के सामने पैसे की किल्लत बढ़ा दी है. ऐसे में यदि आप कोई छोटा रोजगार शुरू करना चाह रहे है तो आपके पास पर्सनल लोन (Personal Loan) का विकल्प मौजूद है. लेकिन हम आपको पहले ही बता दें पर्सनल लोन अन्य लोन की अपेक्षा काफी महंगा पड़ता है. ऐसे में अगर आप पर्सनल लोन लेना ही चाह रहे हैं तो इस समय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (UBI) और पंजाब नेशनल बैंक (PNB) कम ब्याज दरों (Low Interest Rates) पर पर्सनल लोन ऑफर कर रहे है. आइए जानते है इन बैंकों में पर्सनल लोन पर कितने प्रतिशत ब्याज लिया जा रहा है.

पर्सनल लोन पर ब्याज दर
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (CBI) इस समय पर्सनल लोन पर अन्य बैंकों की अपेक्षा सबसे कम ब्याज वसूल रहे है. Bankbazaar.com के अनुसार यदि आप यूनिय बैंक ऑफ इंडिया से 5 साल के लिए 5 लाख रुपये का लोन लेते हैं तो आपको 8.9 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होगा. वहीं, पंजाब नेशनल बैंक और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की ओर से पर्सनल लोन पर 8.95 प्रतिशत की दर से ब्याज लिया जा रहा है.


यह भी पढ़ें: राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का बड़ा आरोप! सीमेंट और स्टील इंडस्ट्री में है साठगांठ
लोन के लिए अन्य ऑप्शन


सिस्टम में ब्याज दरों में नरमी की वजह से ब्याज दरें तुलनात्मक रूप से कम दिख रही हैं, लेकिन इसके बावजूद ये गोल्ड लोन और टॉप अप लोन के मुकाबले ज्यादा हैं. बता दें कि गोल्ड पर ब्याज दरें 7 फीसदी से शुरू होती हैं. इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि पर्सनल लोन लेने से तब तक बचें जब तक कि आपके पास लोन के दूसरे ऑप्शन बचे हुए हैं. अगर आपके पास Loans against endowment insurance policies, एम्पलाई प्रोविडेंट फंड (employee provident fund -EPF), पब्लिक प्रोविडेंट फंड (public provident fund -PPF), स्टॉक्स और म्यूचुअल फंड्स (stocks and mutual funds) जैसे विकल्प न बचे हों तो ही
पर्सनल लोन लें.    

यह भी पढ़ें: PM किसान योजना में 20 लाख अयोग्य लाभार्थियों को मिला पैसा, RTI से मिली जानकारी

अगर आपने पिछले साल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा दी गई सहूलियत के चलते 6 महीने का मोरेटोरियम (Loan Moratorium) लिया है या पर्सनल लोन लिया है तो सबसे पहले आपको अपना लोन का बोझ कम करने के लिए तुरंत कदम उठाने होंगे. अगर आप ऐसा नहीं कर पाते हैं तो आपके जल्द ही कर्ज के जाल में फंसने की पूरी आशंका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज