होम /न्यूज /व्यवसाय /मौत के बाद PAN, आधार, पासपोर्ट और वोटर आईडी का क्या करें? कैसे हो सकता इनका इस्तेमाल

मौत के बाद PAN, आधार, पासपोर्ट और वोटर आईडी का क्या करें? कैसे हो सकता इनका इस्तेमाल

आधार कार्ड नंबर का उपयोग कई तरह के फ्रॉड में किया जा सकता है.

आधार कार्ड नंबर का उपयोग कई तरह के फ्रॉड में किया जा सकता है.

आज सभी के पास ये दस्तावेज जरूर होते हैं. लेकिन, सवाल उठता है कि किसी के मरने के बाद उसके दस्तावेज का क्या करना चाहिए? क ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

इन दस्तावेज को पहचान के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है.
सरकारी दफ्तर हो गया प्राइवेट कहीं इनके बिना काम नहीं चलता.
कोई भी जालसाज इन दस्तावेज का इस्तेमाल कर फ्रॉड कर सकता है.

नई दिल्ली. आज के समय में आधार कार्ड,  पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी  और पासपोर्ट जैसे दस्तावेज बहुत जरूरी होते हैं. सरकारी दफ्तर हो गया प्राइवेट  ऑफिस, इन दस्तावेज के बिना कोई काम नहीं हो पाता है. इन दस्तावेज को पहचान पत्र के साथ-साथ एड्रेस प्रूफ के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन कभी आपने कभी ये सोचा है कि अगर किसी व्यक्ति की मौत हो गई है तो उसके सभी दस्तावेज को क्या करना है?

जीवन में कभी न भी हर किसी के साथ में ऐसी स्थिति आती है, जब उसका कोई परिजन या करीबी न रहा हो. आज सभी के पास ये दस्तावेज जरूर होते हैं. लेकिन, सवाल उठता है कि किसी के मरने के बाद उसके दस्तावेज का क्या करना चाहिए? क्या उन्हें संभाल कर रख लेना चाहिए? या इन दस्तावेज को संबधित विभाग में जमा करा देना चाहिए? क्या ये सभी दस्तावेज अपने आप कैंसिल हो जाते हैं या इसे लिए एप्लिकेशन देनी होती है?

ये भी पढ़ें- नवरात्रि से पहले सोना हुआ महंगा, चांदी हुई सस्ती, जानें पूरे हफ्ते के सर्राफा बाजार का हाल

पैन कार्ड

किसी भी तरह की फाइनेंसियल एक्टिविटी के लिए पैन कार्ड एक जरूरी दस्तावेज होता है. यह इनकम टैक्स भरने के लिए, बैंक अकाउंट खुलवाने के लिए या लोन लेते वक्त जरूरी होता है. यह आपके बैंक अकाउंट से भी लिंक होता है. किसी के मरने के बाद पैन कार्ड का दुरुपयोग भी हो सकता है. इसलिए उसका पैन कार्ड इनकम टैक्स विभाग में जमा करा देना चाहिए. हालांकि, सरेंडर करने से पहले सभी बैंक अकाउंट बंद करा लेना चाहिए.

ये भी पढ़ें-  फेस्टिव सेल को ग्राहकों से मिल रहा है जबरदस्त रिस्पॉन्स, ई-कॉमर्स कंपनियां उत्साहित

आधार कार्ड का क्या करें?

आज के समय में आधार कार्ड बेहद जरूरी दस्तावेज हो गया है. इसलिए कोई भी इसकी जानकारी लेकर फ्रॉड कर सकता है. इसलिए मृतक के कार्ड का गलत उपयोग ने हो ,उसके लिए इसे UIDAI वेबसाइट के माध्यम से लॉक कराया जा सकता है. आधार कार्ड सिर्फ लॉक हो सकता है. इसे रद्द कराने के लिए को प्रोसेस नहीं है. इसके अलावा अगर किसी मृतक के आधार कार्ड से कोई सरकारी लिंक है तो उसकी जानकारी संबंधित विभाग को देनी होगी.

वोटर आईडी

चुनाव में कोई व्यक्ति तभी वोट डाल सकता है, जब उसके पास वोटर कार्ड हो. वोटर कार्ड 18 साल की उम्र पूरी करने पर बनता है. हालांकि, किसी की मौत हो जाने के बाद उसके वोटर आईडी कार्ड को आप रद्द करवा सकते हैं. वोटर कार्ड रद्द कराने के लिए आपको चुनाव कार्यालय में जाकर फॉर्म-7 भरना होगा. इसके बाद ये कार्ड रद्द हो जाएगा. वोटर आईडी को रद्द करवाने के लिए व्यक्ति का डेथ सर्टिफिकेट की जरूरी होगा.

Tags: Aadhar card, Business news, Business news in hindi, Pan card, Passport

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें