लाइव टीवी

25 सितंबर से शुरू होगा जन आरोग्य अभियान, जानें आपको क्या मिलेगा फायदा

News18Hindi
Updated: August 15, 2018, 11:30 AM IST
25 सितंबर से शुरू होगा जन आरोग्य अभियान, जानें आपको क्या मिलेगा फायदा
पीएम मोदी ने लाल किले से देश को संबोधित किया.

प्रधानमंत्री ने बताया कि जन आरोग्य अभियान की शुरुआत 25 सितंबर से होगी. इस योजना के तहत गरीब लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधाएं मिलेंगी. इसके लिए ज़रूरी टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग जारी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 15, 2018, 11:30 AM IST
  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से आयुष्मान योजना के दूसरे चरण का ऐलान किया. प्रधानमंत्री ने बताया कि जन आरोग्य अभियान की शुरुआत 25 सितंबर से होगी. इस योजना के तहत गरीब लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधाएं मिलेंगी. इसके लिए ज़रूरी टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग जारी है. आपको बता दें कि आयुष्मान भारत योजना के तहत जन आरोग्य अभियान की शुरुआत होगी. पहले चरण की शुरुआत हो चुकी है. इसके तहत हेल्थ सेंटर्स खोले गए है. इसके बाद अब 25 सितंबर से इंश्योरेंस स्कीम शुरू होगी. इसके तहत मुफ्त में हेल्थ बीमा मिलेगा.

25 सितंबर से होगी शुरुआत-25 सितंबर के दिन पंडित दिनदयाल उपाध्याय का जन्मदिन है. इसी दिन से प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना जिसे मोदी केयर भी कहा जाता है लागू होगी. इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए का हेल्थ बीमा मिलेगा. ये कैशलेस सुविधा होगी. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 15 अगस्त से आने वाले 6-7 सप्ताह तक इसकी टेक्नोलॉजी की टेस्टिंग होगी. इस टेस्टिंग के बाद ही आयुष्मान भारत योजना लागू होगी.

पीएम मोदी ने कहा इससे रोजगार के कई मौके पैदा होंगे. शहरों में हॉस्पिटल बनेंगे और मेडिकल स्टाफ को रोजगार मिलेगा. मोदी के मुताबिक आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी यूरोप की जनसंख्या के बराबर होंगे. सरकारी और चुने हुए निजी अस्पताल में इलाज की सुविधा मिलेगी. परिवार चाहे जितना बड़ा हो, उसके हर सदस्य को राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत लाभ मिलेगा. महिला-पुरुष, बच्चे-बूढे सब इस योजना के लाभार्थी हो सकते है. आयुष्मान भारत योजना में उम्र की भी कोई सीमा नहीं है. इसका प्रीमियम का भुगतान केंद्र और राज्य सरकार करेंगी. केंद्र और राज्य मिलकर इस योजना को लागू करेंगे. इस योजना से उन गरीबों को फायदा मिलेगा जो अपने इलाज का खर्च नहीं उठा सकते हैं. इस योजना को लागू करने का पूरा जिम्मा राज्यों का होगा.



क्‍या है आयुष्‍मान भारत स्‍कीम?-आयुष्‍मान भारत स्‍कीम की घोषणा बजट 2019 के दौरान की गई थी. इस स्‍कीम के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को 5 लाख रुपए तक के फ्री हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जाएगी. इसमें लगभग सभी गंभीर बीमारियों का इलाज कवर होगा. कोई भी व्यक्ति (विशेष रूप से महिलाएं, बच्चे और बुजुर्ग) इलाज से वंचित न रह जाए, इसके लिए स्कीम में फैमिली साइज और उम्र पर कोई सीमा नहीं लगाई गई है. इस स्कीम में हॉस्पिटलाइजेशन से पहले और बाद के खर्च को भी शामिल किया गया है. हर बार हॉस्पिटलाइजेशन के लिए ट्रांसपोर्टेशन अलाउंस का भी उल्लेख किया गया है, जिसका भुगतान लाभार्थी को किया जाएगा. आपको बता दें कि इसके पहले चरण की शुरुआत हो चुकी है. इसके तहत हेल्थ सेंटर्स खोले गए है. इसके बाद अब 25 सितंबर से इंश्योरेंस स्कीम शुरू होगी. इसके तहत मुफ्त में हेल्थ बीमा मिलेगा.



इस स्कीम से लोगों को मिलेंगे ये फायदे-इस स्‍कीम के तहत लगभग 50 करोड़ लोगों को सालाना 5 लाख रुपए के इलाज की मुफ्त सुविधा दी जाएगी. केंद्र सरकार की योजना इस स्‍कीम के तहत देश के लगभग 10 करोड़ परिवारों को कवर करने की है. अभी इस स्‍कीम के तहत देश के सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को मुफ्त इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

सरकार दे रही है बिना गारंटी के 10 लाख तक का लोन!



हर परिवार को मिलेगा 5 लाख सालाना बीमा
>> राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत आने वाले हर परिवार को 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा (health insurance) कराया जाएगा. इस बीमा कवर से आप छोटे और बड़े सभी तरह के अस्पतालों में इलाज करा सकेंगे.

>> परिवार चाहे जितना बड़ा हो, उसके हर सदस्य को राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत लाभ मिलेगा. महिला-पुरुष, बच्चे-बूढे सब इस योजना के लाभार्थी हो सकते है. उम्र की भी कोई सीमा नहीं है.

>> अस्पताल में भर्ती होने के पहले के स्वास्थ्य संबंधी खर्चे (pre hospitalisation expenses) और अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद के खर्चे (post-hospitalisation expenses) भी इसमें शामिल होंगे.
> पॉलिसी लेने के पहले दिन से ही ये सारी सुविधाएं मिलने लगेंगी. अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में आने जाने का भत्ता (निर्धारित दर पर परिवहन भत्ता-transport allowance) भी दिया जाएगा.



(ये भी पढ़ें: 80% डिस्काउंट पर मिल रहे हैं यहां कपड़ें, जल्द उठाएं फायदा)

इस का हो सकता है आयुष्‍मान भारत स्‍कीम का मॉडल  

सूत्रों के मुताबिक देश के तमाम राज्‍यों में इस स्‍कीम को हाइब्रिड मॉडल पर लागू किया जा सकता है. इसके तहत 1 लाख रुपए तक के इलाज का खर्च बीमा कंपनी वहन करेगी. वहीं इलाज का बिल 1 लाख रुपए से अधिक होने पर बिल का भुगतान ट्रस्‍ट करेगा. देश में इस स्‍कीम को लागू करने के लिए 23 राज्‍य सहमत हो गए हैं. लेकिन कई राज्‍य ऐसे हैं जो अपने यहां इस स्‍कीम को इन्‍श्‍योरेंस मॉडल के बजाए ट्रस्‍ट मॉडल पर लागू करना चाहते हैं. हाइब्रिड मॉडल पर ज्‍यादातर राज्‍य सहमत हो सकते हैं. इससे बीमा कंपनियों पर भी कम खर्च आएगा और केंद्र सरकार को भी इस स्‍क्‍ीम के तहत प्रति परिवार कम प्रीमियम देना होना.



(ये भी पढ़ें: 50 हजार रुपए में शुरू करें रक्षाबंधन पर ये खास बिजनेस, होगी मोटी कमाई)

आयुष्मान भारत योजना से जुड़े महत्वपूर्ण घटनाक्रम

>> 21 मार्च 2018 को केंद्र सरकार की कैबिनेट ने आयुष्मान भारत योजना को मंजूरी दे दी.

>> 27 मार्च 2018 को योजना के Chief Executive Officer (CEO) के रूप में इंदु भूषण की नियुक्ति की गई.

>> 14 अप्रैल 2018 को डॉ भीमराव अंबेडकर जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ के बीजापुर में प्रथम Health and Wellness Centre का उद्घाटन करते हुए इस योजना के प्रथम चरण की लांचिंग की.

>> 15 अगस्त को प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम को शुरू करने की घोषणा करेंगे.

ये भी पढ़ें:

बाबा रामदेव दे रहे हैं बिजनेस का मौका, इस तरह फ्रेंचाइजी लेकर कर सकते हैं मोटी कमाई

चंद मिनटों में आपके अकाउंट में आ जाएंगे 10 हजार, बस करना होगा ये काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 15, 2018, 8:30 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading