होम /न्यूज /व्यवसाय /क्या आप भी जानना चाहते हैं ETF के बारे में सबकुछ? यहां मिलेगा आपके हर सवाल का जवाब

क्या आप भी जानना चाहते हैं ETF के बारे में सबकुछ? यहां मिलेगा आपके हर सवाल का जवाब

एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF)

एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF)

एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड यानी ETF एक प्रकार का निवेश है जिसे स्टॉक एक्सचेंजों पर खरीदा और बेचा जाता है. ETF में बांड, या स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

ETF यानी एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड के बारे में सुना होगा.
म्‍यूचुअल फंड कंपनियां भी लगातार नए-नए ETF बाजार में लांच कर रही हैं.
आज हम आपको ETF के बारे में बताने जा रहे हैं... सबकुछ

नई दिल्ली. आज कल हर व्यक्ति ज्यादा से ज्यादा रिटर्न पाना चाहता है लेकिन आपको बता दें कि कम समय में ज्यादा रिटर्न पाने वाली स्कीम में रिस्क भी होता है. ऐसे तो निवेशकों के पास अपना पैसा निवेश करने के कई ऑप्शन हैं. जैसे कि FD, Mutual Funds, ETF, Share Market, saving schemes आदि. लेकिन निवेश करने से पहले जरूरी है आपको उसकी पूरी जानकारी होना ताकि आप आसानी निवेश विकल्प का चुनाव कर सकें. आज हम आपको ETF के बारे में बताने जा रहे हैं…

शेयर बाजार और म्‍यूचुअल फंड में निवेश करने वालों ने अक्‍सर ETF यानी एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड के बारे में सुना होगा. यह काफी लोकप्रिय है और म्‍यूचुअल फंड कंपनियां भी लगातार नए-नए ETF बाजार में लांच कर रही हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर ETF क्‍या है और यह कैसे काम करता है.

ये भी पढ़ें: 5 Multibagger Stock: इन स्टॉक्स ने कम समय में दिया बेहतरीन रिटर्न, मालामाल हुए निवेशक, देखें लिस्ट

सबसे पहले जानते हैं ETF क्या है?
एक्‍सचेंज ट्रेडेड फंड यानी ETF एक प्रकार का निवेश है जिसे स्टॉक एक्सचेंजों पर खरीदा और बेचा जाता है. ETF में बांड, या स्टॉक खरीदे बेचे जाते हैं. एक एक्सचेंज ट्रेडेड फंड एक म्यूचुअल फंड की तरह है, लेकिन म्यूचुअल फंड के विपरीत, ईटीएफ को ट्रेडिंग अवधि के दौरान किसी भी समय बेचा जा सकता है.

कैसे करता है काम?
ईटीएफ का रिटर्न और रिस्क बीएसई सेंसेक्स जैसे इंडेक्स या सोने जैसे एसेट में उतार-चढ़ाव पर निर्भर करता है. जिस तरह दूध के दाम बढ़ जाने से पनीर और घी महंगे हो जाते हैं वैसे ही ईटीएफ में भी इंडेक्स के चढ़ने-उतरने का असर होता है.

कितने प्रकार के होते हैं?
ETF को म्‍यूचुअल फंड स्‍कीम की तरह ही पेश किया जाता है. यह गोल्ड ETF, इंडेक्स ETF, बॉन्ड ETF, करेंसी ETF के रूप में हो सकते हैं.

किस तरह करें निवेश?
ईटीएफ में निवेश के लिए डीमैट के साथ ट्रेडिंग अकाउंट का होना जरूरी है. कोई व्यक्ति 3-इन-1 अकाउंट खोलने का भी विकल्प चुन सकता है. इसमें बैंक अकाउंट के साथ डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट की सुविधा मिलती है.

जानें निवेश के फायदे?
ईटीएफ हर रोज निवेश की जानकारी देते हैं, जिससे इसमें निवेश ज्यादा पारदर्शी होता है. इन्हें आसानी से बेचा जा सकता है. ईटीएफ में निवेश करके अलग-अलग सेक्टर में निवेश किया जा सकता है. बता दें कि ETF डिविडेंड पर आयकर नहीं लगता है.

Tags: Business news, Business news in hindi, Earn money, ETF, Gold ETF, Mutual funds

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें