होम /न्यूज /व्यवसाय /

क्या है कोविड पासपोर्ट और कब तक होगा लॉन्च? जानिए इसके बारे में सबकुछ

क्या है कोविड पासपोर्ट और कब तक होगा लॉन्च? जानिए इसके बारे में सबकुछ

ब्रिटेन की सभी फ्लाइट्स पर 22 से 31 दिसंबर तक रोक रहेगी.  (Photo- Reuters)

ब्रिटेन की सभी फ्लाइट्स पर 22 से 31 दिसंबर तक रोक रहेगी. (Photo- Reuters)

कोविड पासपोर्ट (Covid Passport) को एक तरह से हेल्थ पास कह सकते हैं. ग्लोबल एयरलाइन (Global Airline) लॉबी एक मोबाइल ऐप (Mobile app) पर काम कर रही है जो एक डिजिटल पासपोर्ट (Digital Passport) की तरह काम करेगा.

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flight) के लिए जल्द ही 'कोविड पासपोर्ट' (Covid Passport) जारी किया जाएगा. इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) ने एक बयान जारी कर कहा है कि वो इंटरनेशनल एयरलाइंस ग्रुप (IAG) के साथ मिलकर इस तरह की योजना पर काम कर रहा है. गौरतलब है कि इस हेल्थ पास (Health Pass) का बहुत जल्द ट्रायल शुरू किया जाएगा. इसमें यात्रियों (Passengers) को विदेश से आने या जाने के बाद 14 दिन के लिए क्वारंटीन (Quarantine) की शर्तों को भी पूरा करने की जरुरत नहीं होगी. क्वारंटीन के डर से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में भारी कमी आई है, जिसके कारण देश-विदेश की एयरलाइंस पर आर्थिक रूप से बड़ा असर पड़ा है. आइए जानते हैं आखिर क्या है कोविड पासपोर्ट.

    क्या है कोविड पासपोर्ट ?- कोविड पासपोर्ट को एक तरह से हेल्थ पास कह सकते हैं. ग्लोबल एयरलाइन लॉबी एक मोबाइल ऐप पर काम कर रही है जो एक डिजिटल पासपोर्ट (Digital Passport) की तरह काम करेगा. एप में कोविड-19 (Covid-19) का टेस्ट और वैक्सीनेशन सर्टिफिकेशन होगा, जिससे यात्रियों को विदेशी यात्रा करने में किसी तरह के प्रतिबंध का सामना नहीं करना पड़ेगा. इसके अलावा इस एप में यात्री के पासपोर्ट की एक इलेक्ट्रॉनिक कॉपी होगी जिससे उनकी असल पहचान की जा सकेगी.

    यह भी पढ़ें: नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर: 12 घंटे की हो सकती है आपकी शिफ्ट, बदलेगा छुट्टी का नियम! जानिए सबकुछ

    यह एप आईएटीए के टाईमेटिक सिस्टम पर आधारित होगा जो यात्री के डॉक्यूमेंट को वेरीफाई करने के लिए होता है. इस सिस्टम का इस्तेमाल यह सुनिश्चित करने के लिए भी किया जाता है कि यात्री बॉर्डर कंट्रोल रूल्स और रेगुलेशन के अनुरूप हैं. आईएटीए के मुताबिक, यह ऐप ब्लॉक-चेन तकनीकी पर काम करेगा जिसमें यात्रा की जानकारी लंबे से तक स्टोर नहीं रहेगी. आईएटीए का कहना है इस ऐप को पहले एप्पल के स्मार्टफोन के लिए लॉन्च किया जाएगा. यह ऐप साल 2021 की पहली तिमाही तक लॉन्च होगा. वहीं, अप्रैल 2021 तक सभी एंड्रॉयड फोन यूजर्स इस ऐप का इस्तेमाल कर सकेंगे.  

    यह भी पढ़ें: 26/11 हमले के बाद अर्श से फर्श पर आया Yes Bank, इस तरह हुई आपसी कलह की शुरुआत

    घाटे में चल रही एयरलाइन इंडस्ट्री- आईएटीए के मुताबिक, कोविड पासपोर्ट का बहुत जल्द ट्रायल किया जाना है. आईएटीए ने कोविड पासपोर्ट का ऐसे समय में ऐलान किया है जब दुनिया में कोरोना की तीन वैक्सीन फाइजर, मॉडर्न और ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका के ट्रायल की बात चल रही है. मंगलवार को आईएटीए की एजीएम मीटिंग 2020 में एयरलाइन इंडस्ट्री की समीक्षा की गई. आईएटीए ने एयरलाइन इंडस्ट्री में 2020 तक 118.5 बिलियन डॉलर के नुकसान का अनुमान लगाया है. वहीं, साल 2021 में 38.7 बिलियन डॉलर के नुकसान की बात कही है. बता दें कि एयरलाइन इंडस्ट्री साल 2019 के मुकाबले 90 फीसदी घाटे में चल रही है.undefined

    Tags: Airline, Business news, COVID 19, Passport

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर