Home /News /business /

what is the gmp of ethos ipo listing will benefit investors or will be disappointed jst

क्या है ETHOS IPO का जीएमपी, लिस्टिंग पर निवेशकों को होगा लाभ या हाथ आएगी निराशा?

इथोस के आईपीओ को मिली ठंडी प्रतिक्रिया.

इथोस के आईपीओ को मिली ठंडी प्रतिक्रिया.

ETHOS IPO को 1.04 गुना सब्सक्रिप्शन मिला है. यह 18 से 20 तक सब्सक्रिप्शन के लिए ओपन था. कंपनी ने इसके जरिए 472 करोड़ रुपये जुटाए हैं. गौरतलब है कि बीते वित्त वर्ष की शुरुआती 3 तिमाहियों में कंपनी की कुल आय 420 करोड़ रुपये रही थी.

नई दिल्ली. ETHOS के IPO को निवेशकों ने मिलाजुला रिस्पॉन्स दिया है. इसे 39.79 लाख शेयरों की पेशकश के मुकाबले 41.38 लाख शेयरों के लिए बोलियां मिली है. यानी यह आईपीओ कुल 1.04 गुना सब्सक्राइब हुआ है. आईपीओ का प्राइस बैंड 836-878 रुपये के बीच रखा गया था. फिलहाल इसका ग्रे मार्केट प्रीमियम -5 रुपये चल रहा है.

इसका मतलब है कि ग्रे मार्केट का अनुमान लगा रहा है कि यह आईपीओ डिस्काउंट के साथ शेयर बाजार में लिस्ट होगा. प्राइस बैंड के ऊपरी छोर पर 5 रुपये का डिस्काउंट किया जाए तो इस कंपनी के शेयर 873 रुपये पर सूचीबद्ध हो सकते हैं. गौरतलब है कि जीएमपी कोई औपचारिक या आधिकारिक आंकड़े नहीं होते. यह बाजार सूचीबद्ध होने से पहले शेयरों को लेकर बाजार में हो रही हलचल पर आधारित होते हैं. विशेषज्ञ जीएमपी की बजाय कंपनी की बैलेंस शीट और उसके कारोबार की स्टडी करने की सलाह देते हैं.

ये भी पढ़ें- बाजार के हालात थोड़े सुधरते दिख रहे, लगातार दूसरे हफ्ते रही तेजी, जानिए कैसा चल रहा ट्रेंड?

ETHOS IPO पर एक्सपर्ट्स की राय

जीसीएल सिक्योरिटीज के वाइस चेयरमैन रवि सिंघल ने कहा है कि ETHOS Limited के शेयर सोमवार को प्रीमियम के साथ सूचीबद्ध हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि अगर बाजार लुढ़का तब भी इसे 885-900 रुपये के बीच लिस्ट हो सकते हैं. वहीं, अगर बाजार में बुल की पकड़ रही तो यह 930 रुपये तक जा सकते हैं. शेयर इंडिया के उपाध्यक्ष रवि सिंह का कहना है कि कंपनी की आय के मुकाबले इसका इश्यू प्राइस थोड़ा ज्यादा है और मार्केट के सेंटीमेंट्स को देखते हुए ये शेयर थोड़े डिस्काउंट पर सूचीबद्ध होने का अनुमान है. उन्होंने कहा कि शेयर प्रीमियम पर सूचीबद्ध होगा या डिस्काउंट पर यह बहुत हद तक बाजार की ओपनिंग पर निर्भर करेगा.

आईपीओ संबंधी जानकारी

यह आईपीओ 18 मई से 20 मई तक सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था. इसके जरिए कंपनी ने 472 करोड़ रुपये जुटाए. इसमें एनआईआई के लिए आरक्षित हिस्सा 1.48 गुना, क्यूआईबी के लिए आरक्षित हिस्सा 1.06 गुना और रिटेल इंडिविजुअल इन्वेस्टर (आरआईआई) के लिए आरक्षित हिस्सा 84 फीसदी सब्सक्राइब हुआ. यह पूरा आईपीओ 1.04 गुना सब्सक्राइब हुआ. कंपनी को वित्त वर्ष 22 के पहले 9 महीनों में 420 करोड़ रुपये की आय प्राप्त हुई थी. कंपनी का एबिट्डा मार्जिन 10.8 फीसदी रहा था.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर