Home /News /business /

Zomato IPO की ग्रे मार्केट में क्या है स्थिति, निवेश करने से पहले जान लें आईपीओ का हर पहलू

Zomato IPO की ग्रे मार्केट में क्या है स्थिति, निवेश करने से पहले जान लें आईपीओ का हर पहलू

जोमैटो ipo

जोमैटो ipo

आने वाले हफ्ते में जोमैटो का आईपीओ चर्चा में है. ऑनलाइन फूड ऑर्डर लेने वाली कंपनी जोमैटो (Zomato) का IPO 14 जुलाई को ओपन होने की संभावना है.यह IPO 16 जुलाई को बंद होगा. कंपनी ने 72 से 76 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है.

अधिक पढ़ें ...
    मुंबई . आने वाले हफ्ते में जोमैटो का आईपीओ चर्चा में है. ऑनलाइन फूड ऑर्डर लेने वाली कंपनी जोमैटो (Zomato) का IPO 14 जुलाई को ओपन होने की संभावना है.यह IPO 16 जुलाई को बंद होगा. कंपनी ने 72 से 76 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया है.

    ग्रे-मार्केट में भी कंपनी के आईपीओ को लेकर हलचल शुरू हो गई है. ग्रे मार्केट (Grey Market) में Zomato के शेयर 14 रुपये के प्रीमियम पर, यानी करीब 90 रुपये पर ट्रेड कर रहा है.

    IPO के बारे में

    Zomato के IPO का साइज 9,375 करोड़ रुपये है. जोमैटो के मुताबिक, इसमें 9 हजार करोड़ रुपये के नए शेयर हैं और इंफो एज(इंडिया) के द्वारा 375 करोड़ रुपये का ऑफर-फॉर-सेल (OFS) शामिल है.

    यह भी पढ़ें - Market Update: ये 7 महत्वपूर्ण बातें तय करेगी अगले सप्ताह बाजार की चाल, जानिए डिटेल

    ऑफर का लक्ष्य

    IPO के पेपर्स के मुताबिक, इस इश्यू से जुटाई गई धनराशि का उपयोग कंपनी के ग्रोथ और उसकी सामान्य कॉरपोरेट जरूरतों को पूरा करने के लिए किया जाएगा.

    वैल्यूएशन

    जानकारों के अनुसार, आईपीओ (IPO) पूरा होने के बाद कंपनी (Zomato) का वैल्यूएशन 64,365 करोड़ रुपये हो जाएगा, जो कि इस सेगमेंट की दूसरी लिस्टेड कंपनियों की तुलना में कहीं ज्यादा है. जूबिलेंट फूडवर्क्स का कैपिटेलाइजेशन करीब 41 हजार करोड़ रुपए जबकि बर्गर किंग इंडिया का 6,627 करोड़ रुपये है. पिछले कुछ अरसे में ऑनलाइन फूड डिलीवरी बाजार तेजी से बढ़ रहा है. जौमेटो (Zomato) और स्विगी (Swiggy) इस क्षेत्र की प्रमुख कंपनियां हैं.

    यह भी पढ़ें- इलेक्ट्रिक होते वाहनों के दौर में ये 5 बैटरी स्टॉक 1 साल में 80-650% भागे, जानिए निवेश को लेकर जरूरी बातें

    रिपोर्ट कार्ड

    वित्त वर्ष 2020 में जोमैटो (Zomato) की आमदनी, पिछले वित्त वर्ष की तुलना में, दोगुनी उछलकर 2,960 करोड़ रुपये रही, जबकि EBITDA लॉस 2,200 करोड़ रुपये का रहा. फरवरी में कंपनी ने टाइगर ग्लोबल, कोरा और अन्य फर्मों से करीब 1,800 करोड़ रुपये का फंड जुटाया था. इस तरह कंपनी का वैल्यूएशन लगभग 40 हजार करोड़ रुपये हो गया.

    IPO के लीड मैनेजर

    कोटक महिंद्रा कैपिटल, मॉर्गन स्टेनली इंडिया, क्रेडिट सुईस सिक्योरिटीज इस इश्यू के ग्लोबल को-ऑर्डिनेटर और लीड मैनेजर हैं. BofA सिक्योरिटीज और सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट मर्चेंट बैंकर हैं.

    ग्रे मार्केट प्रीमियम

    अनलिस्टेड एरीना के फाउंडर अभय दोशी ने Money9 को बताया कि ग्रे मार्केट में जोमैटो (Zomato) 13.40 से 14 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है.

    क्या आपको इसे सब्सक्राइब करना चाहिए?

    ब्रोकरेज वेंचुरा सिक्योरिटीज ने इस इश्यू को सब्सक्राइब करने की सलाह दी है. इसका कहना है कि देश में तेजी से स्मार्टफोन बढ़ रहे हैं और लोगों की लाइफस्टाइल ऐसी है कि वे ऑनलाइन फूड ऑर्डर (online food ordering) करने में दिलचस्पी ले रहे हैं.

    वेंचुरा का यह भी मानना है कि जोमैटो (Zomato) वित्त वर्ष 2023 में 227 करोड़ रुपये और वित्त वर्ष 2024 में 479 करोड़ रुपये मुनाफा कमा सकती है. हालांकि, बीते तीन वर्षों से कंपनी को 2304 करोड़, 816 करोड़ और 577 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है.

    Tags: BSE Sensex, Business news in hindi, How to earn money, IPO, RBI, SEBI, Share market, Zomato

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर