होम /न्यूज /व्यवसाय /हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयर खरीदे, बेचें या होल्ड करें, निवेशकों के लिए ये है प्रमुख ब्रोकरेज हाउस की राय

हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयर खरीदे, बेचें या होल्ड करें, निवेशकों के लिए ये है प्रमुख ब्रोकरेज हाउस की राय

मार्च 2022 तिमाही में  हिंदुस्तान यूनिलीवर के शुद्ध मुनाफे में 8.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

मार्च 2022 तिमाही में हिंदुस्तान यूनिलीवर के शुद्ध मुनाफे में 8.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

एचयूएल का परिचालन राजस्व मार्च तिमाही में 11 फीसदी बढ़कर 13,462 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. कंपनी के तिमाही नतीजों के ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. एफएमसीजी दिग्गज हिंदुस्तान यूनिलिवर लिमिटेड (HUL) ने 27 अप्रैल को मार्च तिमाही के नतीजों की घोषणा कर दी है. जनवरी-मार्च 2022 में एकल आधार पर कंपनी का शुद्ध मुनाफा 8.6 फीसदी बढ़कर 2,327 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. जनवरी-मार्च 2021 में कंपनी को 2,143 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था.

एचयूएल का परिचालन राजस्व मार्च तिमाही में 11 फीसदी बढ़कर 13,462 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. कंपनी के तिमाही नतीजों के बाद निवेशकों के लिए यह जानना जरूरी है कि वे इसके शेयर खरीदें, बेचें या होल्ड करें. आईए जानते हैं एचयूएल में निवेश संबंधी विभिन्न ब्रोकरेज फर्मों की राय.

ये भी पढ़ें- Stock Market Opening : बाजार में जबरदस्‍त तेजी, सेंसेक्‍स फिर 57 हजार के पार, निफ्टी ने भी लगाई छलांग

प्रभुदास लीलाधर
ब्रोकरेज हाउस प्रभुदास लीलाधर के मुताबिक, एयचयूएल ने यह संकेत दे दिया है कि लागत में बढ़ोतरी और महंगाई की वजह से इस साल की पहली छमाही में वॉल्यूम ग्रोथ और मार्जिन पर दबाव बना रहेगा. वित्त वर्ष 2022-23 में बिक्री में 11 फीसदी और शुद्ध मुनाफे में 13.6 फीसदी की वृद्धि की उम्मीद है. इस दौरान प्रति शेयर आमदनी (ईपीएस) में ब्रोकरेज फर्म ने थोड़ी बढ़त की उम्मीद जताई है और अपना अनुमान बढ़ाकर 0.7-1.2 फीसदी प्रति शेयर कर दिया है. फर्म ने इसकी खरीद रेटिंग बरकरार रखी है. यानी निवेशक इसके शेयर खरीद सकते हैं. साथ ही इसका टारगेट प्राइस पहले के 2,356 रुपये से बढ़ाकर 2,384 रुपये कर दिया है.

मोतीलाल ओसवाल
इस ब्रोकरेज फर्म ने एचयूएल के ईपीएस अनुमानों को पूर्व के स्तर पर ही रखा है. मोतीलाल ओसवाल ने भी बाय यानी खरीद रेटिंग बरकरार रखी है. ब्रोकरेज फर्म ने इसका टारगेट प्राइस 2,500 रुपये प्रति शेयर रखा है.

शेयरखान
शेयरखान का कहना है कि एचयूएल के मजबूत ब्रांड पोर्टफोलियो ने प्रमुख श्रेणियों में बाजार हिस्सेदारी हासिल करने में मदद की है. प्रमुख श्रेणियों में पैठ बढ़ाने के लिए एचयूएल प्रीमियम प्रॉडक्ट और मार्केट डेवलपमेंट पर ध्यान केंद्रित कर रही है. साथ ही लंबी अवधि में लगातार कमाई में वृद्धि करने के लिए डिजिटलाइजेशन पर फोकस कर रही है. शेयरखान ने भी इसकी बाय रेटिंग बरकरार रखी और टारगेट प्राइस पहले की तरह 2,456 रुपये रखा है.

क्रेडिट सुईस एवं मॉर्गन स्टेनले
सीएनबीसी टीवी18 की रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रोकिंग फर्म क्रेडिट सुईस ने इसके टारगेट प्राइस में बड़ी कटौती कर दी है. पहले के 2,800 रुपये के मुकाबले टारगेट प्राइस अब 2,550 रुपये कर दिया है. क्रेडिट सुईस का कहना है कि कमोडिटी की कीमतों में बढ़ोतरी का असर EBITDA मार्जिन पर पड़ेगा. इसी तरह रिचर्स हाउस मॉर्गन स्टेनले ने 2,381 रुपये का अपना टारगेट प्राइस बरकरार रखा है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी की बढ़त सकारात्मक है. बढ़ती महंगाई, कमजोर वॉल्यूम ग्रोथ और मार्जिन पर दबाव को लेकर मैनेजमेंट सतर्क है.

ये भी पढ़ें- Cryptocurrency Rate Today : बिटकॉइन और इथीरियम में तेजी, डॉजकॉइन में गिरावट जारी

गुरुवार को दोपहर के कारोबार के दौरान एनएसई पर एचयूएल का शेयर 4.05 फीसदी की तेजी के साथ 2,232 रुपये पर पहुंच गया था.

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित हैं. यदि आप इनमें पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह के लाभ या हानि के लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Hindustan Unilever, HUL, Stock market, Stock tips

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें