• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • बाजार की अगली रैली को कौन से सेक्टर लीड करेंगे, विशेषज्ञों से समझिए मार्केट सेंटिमेंट

बाजार की अगली रैली को कौन से सेक्टर लीड करेंगे, विशेषज्ञों से समझिए मार्केट सेंटिमेंट

 अगले चरण की रैली में metals, IT और healthcare का अहम योगदान होगा

अगले चरण की रैली में metals, IT और healthcare का अहम योगदान होगा

कोरोना के बावजूद पिछले 7 महीनें में सेंसेक्स में 6,000 अंकों की बढ़त देखने को मिली है. इंडेक्स 55,000 के पार चला गया है. वहीं, निफ्टी नें इस महीनें के शुरुआत में 16,700 का स्तर पार कर लिया.

  • Share this:

    मुंबई . भारतीय शेयर बाजार इस समय रिकॉर्ड हाई पर चल रहे हैं. करेक्शन की आशंकाओं को धता बताते हुए सेंसेक्स, निफ्टी नए कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं. एक तरफ जहां कुछ जानकार करेक्शन की बात कह रहे वहीं दूसरी तरफ तमाम एक्सपर्ट बाजार में नई रैली की संभावना देख रहे हैं.

    कोरोना के बावजूद पिछले 7 महीनें में सेंसेक्स में 6,000 अंकों की बढ़त देखने को मिली है. इंडेक्स 55,000 के पार चला गया है. वहीं, निफ्टी नें इस महीनें के शुरुआत में 16,700 का स्तर पार कर लिया. अलग-अलग सेक्टरों पर नजर डालने से पता चलता है कि बाजार की इस तेजी में मेटल ने सबसे बड़ा योगदान दिया है.

    Metal index में 70 फीसदी से ज्यादा की तेजी देखने को मिली है 
    जनवरी 2021 से अब तक S&P BSE Metal index में 70 फीसदी से ज्यादा की तेजी देखने को मिली. वहीं, सेंसेक्स इसी अवधि में Utilities (34%),power(27%) और Industrials(up 27%) के सपोर्ट से 50000 के पार चला गया.

    यह भी पढ़ें- Cryptocurrency की बढ़ती लोकप्रियता के बीच जानिए Blockchain टेक्नोलॉजी, करेंसी का बैकबोन क्यों कहते हैं?

    ब्रॉडर मार्केट पर नजर डालें तो जनवरी 2021 से अब तक S&P BSE midcap index में 21 फीसदी और smallcap में 40 फीसदी की बढ़त देखने को मिली है. इन दोनों ने सेंसेक्स-निफ्टी से बेहतर प्रदर्शन किया है.

    अगले चरण की रैली में metals, IT और healthcare का अहम योगदान होगा 
    एक्सपर्ट्स का कहना है कि D-Street के अगले चरण की रैली में metals, IT और healthcare का अहम योगदान होगा. इनमें देखने के मिली अब तक की तेजी आगे भी कायम रहेगी. निवेशकों के इन सेक्टरों के क्वालिटी शेयरों पर नजर रखनी चाहिए. इसके साथ ही घरेलू इकोनॉमी से जुड़े बैंकिंग (banking) और सीमेंट (cement) जैसे सेक्टर भी निवेश के नजरिए से आकर्षक दिख रहे हैं.

    यह भी पढ़ें- शेयर बाजार की चमक देख कर अगर आप भी पैसा लगा रहे हैं तो 5 बातों को जान लें, वरना होगा नुकसान

    Choice Broking के सचिन गुप्ता का कहना है कि Nifty Bank में पिछले कुछ दिनों से सुस्ती देखने को मिल रही है. लेकिन अभी भी ये अपने 21 और 50 DMA (daily moving average) से ऊपर है जो आगे इसमें तेजी आने का संकेत दे रहा है. उन्होंने आगे कहा कि Nifty Infra ओर cement sector के इंडेक्स भी हायर हाई और हायर लो फार्मेशन के साथ कारोबार कर रहे हैं. ये इन सेक्टरों में तेजी का संकेत है.

    सचिन गुप्ता की राय है कि आगे के कारोबारी सत्रों में हमें बैंकिंग (banking),मेटल ( metal),इंफ्रा (infra) और सीमेंट (cement) सेक्टर में अच्छी तेजी आती नजर आ सकती है जिससे निफ्टी में हमें और तेजी देखने को मिलेगी.

    Hem Securities के मोहित निगम का भी कहना है कि बाजार के अगले चरण की रैली में मेटल, IT,हेल्थ केयर, केमिकल और कैपिटल गुड्स का अहम योगदान होगा. मोहित निगम के मुताबिक रिकॉर्ड घरेलू डिमांड की उम्मीद और चीन की तरफ से पर्यावरण से जुड़ी चिंता के चलते मेटल पर लगाए जाने वाले प्रतिबंधों के चलते आगे भी मेटल में तेजी जारी रहेगी. देश में इंफ्रा पर फोकस के चलते steel, zinc और aluminium प्रोडक्ट्स की मांग में तेजी देखने को मिलेगी.

    मोहित निगम का कहना है कि आगे आईटी कंपनियों को डिमांड में तेजी और मार्जिन में मजबूती का फायदा मिलेगा. आईटी कंपनियों को सुधरते कैश फ्लो का भी फायदा मिलेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज