आम आदमी को मिली बड़ी राहत! 10 रुपए किलो तक सस्ता हुआ प्याज, चेक करें आज क्या है 1 किलो का रेट

आवक बढ़ने से प्याज के भाव में करीब 10 रुपए तक की गिरावट आई है.
आवक बढ़ने से प्याज के भाव में करीब 10 रुपए तक की गिरावट आई है.

Onion Price: सरकार की ओर से उठाए गए कड़े कदम के बाद प्याज के भाव में करीब 10 रुपए तक की गिरावट आई है. देश की राजधानी दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में थोक मंडी में प्याज के दाम करीब 10 रुपए प्रति किलो तक लुढ़क गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 9:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: सरकार की ओर से उठाए गए कड़े कदम के बाद प्याज के भाव में करीब 10 रुपए तक की गिरावट आई है. देश की राजधानी दिल्ली, मुंबई और चेन्नई में थोक मंडी में प्याज के दाम करीब 10 रुपए प्रति किलो तक लुढ़क गए हैं. सरकार ने प्याज की जमाखोरी कर रहे लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाया है, जिसके बाद ही रेट्स में गिरावट देखने को मिली है. बता दें इस तरह की जमाखोरी को रोकने के लिए सरकार ने ट्रेडर्स के लिए स्टॉक लिमिट बढ़ा दी थी. आपको बता दें सरकार की ओर से लिमिट तय कर देने के बाद महाराष्ट्र के लासलगांव में प्याज की कीमतें 5 रुपए प्रति किलो तक गिरकर 51 रुपए पर पहुंच गए हैं. लासलगांव एशिया में प्याज की सबसे बड़ी थोक मंडी है.

चेन्नई, मुंबई, बेंगलुर में कितना नीचे आया भाव
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, चेन्नई में प्याज की थोक कीमतें 24 अक्टूबर को गिरकर 66 रुपए प्रति किलो थीं, जो 23 अक्टूबर को 76 रुपए प्रति किलो पर चल रही थीं. इसी तरह मुंबई, बेंगलुरु और भोपाल में एक दिन के अंदर प्याज की थोक कीमतें 5-6 रुपए प्रति किलो गिरकर क्रमश: 70 रुपए प्रति किलो, 64 रुपए प्रति किलो और 40 रुपए प्रति किलो पर आ गई हैं. इन खपत वाले बाजारों में प्याज की सप्लाई बढ़ने से भी कीमतों में गिरावट आई.

यह भी पढ़ें: दुनिया के इन 5 देशों में मिलता है सबसे सस्ता सोना, भारत से इतने कम हैं दाम, जानिए क्यों
जानिए कहां-कहां बढ़ा प्याज


आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली की आजादपुर मंडी में प्याज की दैनिक आवक बढ़कर 530 टन हो गई, जबकि मुंबई में यह 885 टन से सुधरकर 1560 टन पर पहुंच गई. चेन्नई में दैनिक आवक 1120 टन से बढ़कर 1400 टन हो गई. बेंगलुरु की मंडियों में यह 2500 टन से बढ़कर 3000 टन पर पहुंच गई. हालांकि लखनऊ, भोपाल, अहमदाबाद, अमृतसर, कोलकाता और पुणे में आवक बढ़ना अभी बाकी है.

कहां बिक रहा 100 रुपए किलो प्याज
सरकार ने 23 अक्टूबर को एसेंशियल कमोडिटीज अमेंडमेंट एक्ट लागू किया था और 31 दिसंबर तक रिटेलर्स के लिए प्याज की स्टॉक लिमिट 2 टन व थोक विक्रेताओं के लिए 25 टन तय की. यह कदम प्याज की जमाखोरी रोकने और इसकी आसमान छूती कीमतों पर अंकुश लगाने के​ लिए उठाया गया. प्याज की कीमत कुछ रिटेल मार्केट्स में 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है.

यह भी पढ़ें: इस शहर में सिर्फ 35 रुपये मिल रहा प्याज़, खरीदने के लिए दिखाना होगा ID कार्ड

21 रुपए किलो के रेट से प्याज भेजेगा NAFED
NAFED के डायरेक्टर अशोक ठाकुर ने न्यूज18 इंडिया से एक खास बातचीत में बताया कि जल्द ही 21 रुपए प्रति किलो के रेट से राज्यों को प्याज़ भेजे जाएंगे. इसके बाद ट्रांसपोर्ट और दूसरे खर्च जोड़कर राज्य अपने हिसाब से उस प्याज़ को बाज़ारों में बेच सकेंगे. वहीं, दिल्ली में हम सफल के स्टोर पर 28 रुपए किलो के रेट से प्याज़ बिकवा रहे हैं. जानकारों की मानें तो NAFED से 21 रुपए किलो प्याज़ मिलने के बाद राज़्य अपने खर्चें जोड़कर ज़्यादा से ज़्यादा 30 रुपए प्रति किलो की रेट से प्याज़ को आराम से बेच सकेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज