Home /News /business /

why it stocks are under pressure despite a weak rupee mlks

रुपया भी कमजोर और आईटी स्टॉक भी गिर रहे! लेकिन ये उलटी चाल क्यों? ये है वजह

रुपये के गिरने पर आईटी स्टॉक बढ़ते हैं, लेकिन इस बार उलट हो रहा है.

रुपये के गिरने पर आईटी स्टॉक बढ़ते हैं, लेकिन इस बार उलट हो रहा है.

आम तौर पर ज्यों-ज्यों भारतीय करेंसी (रुपया) डॉलर के मुकाबले कमजोर होता है, आईटी कंपनियों के शेयर अच्छा प्रदर्शन करते हैं, लेकिन इस बार यहां भी उलटा ही हो रहा है. पिछले हफ्ते टीसीएस, इंफोसिस, विप्रो, माइंडट्री, बिरलासॉफ्ट समेत कई बड़ी आईटी कंपनियों में 2 फीसदी से लेकर 5 फीसदी तक की गिरावट देखी गई.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारतीय शेयर बाजार फिलहाल काफी ज्यादा वोलाटाइल है. कभी ऊपर तो कभी नीचे. किसी भी निवेशक को इसका ट्रेंड समझने में परेशानी हो सकती है. निवेशकों को परेशानी यहीं खत्म नहीं होती. आम तौर पर ज्यों-ज्यों भारतीय करेंसी (रुपया) डॉलर के मुकाबले कमजोर होता है, आईटी कंपनियों के शेयर अच्छा प्रदर्शन करते हैं, लेकिन इस बार यहां भी उलटा ही हो रहा है.

पिछले दिनों भारतीय रुपये ने डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड लो (Low) लगा दिया था. अगर हम बात करें पिछले एक सप्ताह की तो आईटी के दिग्गज स्टॉक अभी भी दवाब में चल रहे हैं. पिछले हफ्ते टीसीएस, इंफोसिस, विप्रो, माइंडट्री, बिरलासॉफ्ट समेत कई बड़ी आईटी कंपनियों में 2 फीसदी से लेकर 5 फीसदी तक की गिरावट देखी गई.

ये भी पढ़ें – रिजल्ट्स के बाद ब्रोकरेज हाउसेज ने इस स्टॉक का टारगेट प्राइस बढ़ाया

एक्सपर्ट ने बताई ये वजह
इस बारे में शेयर इंडिया के रिसर्च हेड और वाइस प्रेसीडेंट रवि सिंह ने लाइव मिंट को बताया कि सप्लाई का दबाव और कार्यान्वयन (Implementation) में गिरावट के चलते मार्जिन में कमी आने की वजह से आईटी स्टॉक प्रेशर में हैं. मैनपावर पर बढ़ते खर्च, हाई एट्रीशन रेट के चलते मार्जिन में गिरावट इत्यादी की वजह से रेवेन्यू ग्रोथ के मुकाबले प्रॉफिट में ग्रोथ की गति में कमी आई है. आईटी सेक्टर की गिरावट की एक अन्य वजह है अमेरिकी फेड द्वारा अपनी मॉनिटरी पॉलिसी को कड़ा करना, जिसकी वजह से अमेरिकी इंडाइसिस पर प्रेशर आया और FIIs ने भारतीय बाजार से पैसा निकाला.

ये भी पढ़ें – आज ऑल टाइम हाई पर पहुंचा यह Multibagger Stock, एक साल में दिया तगड़ा रिटर्न

अभी और गिरने की आशंका
प्रॉफिशिएंट इक्विटीज़ के फाउंडर और डायरेक्टर मनोज डालमिया ने बताया कि आईटी इंडेक्स अभी और गिर सकता है. उन्होंने बताया, आईटी स्टॉक्स में आ रही गिरावट के तीन मुख्य कारण हैं. पहला कमजोर मार्जिन और अर्निंग रिपोर्ट, दूसरा कर्मचारियों की हायरिंग और उन्हें रिटेने करने की ऊंची लागत, और तीसरा पिछले 10 सालों के मुकाबले आईटी स्टॉक्स की P/E रेश्यो हाई है (पहले ये 18 पर थी और अब 28 है), जोकि कंपनियों की ऊंची वैल्यूएशन की तरफ इशारा करती है. लगता है कि आईटी इंडेक्स 27,500 के स्तर तक आ सकता है. लम्बे समय के लिए निवेश करने वाले निवेशकों को इस स्तर से आईटी स्टॉक्स को खरीदना शुरू कर देना चाहिए.

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक्‍स ब्रोकरेज हाउसेज की सलाह पर आधारित हैं. यदि आप इनमें से किसी में भी पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह के लाभ या हानि के लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Share market, Stock tips

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर