होम /न्यूज /व्यवसाय /विप्रो करेगी अमेरिकी कंपनी राइजिंग का अधिग्रहण, 4 हजार करोड़ में खरीदेगी पूरी सौ फीसदी हिस्सेदारी

विप्रो करेगी अमेरिकी कंपनी राइजिंग का अधिग्रहण, 4 हजार करोड़ में खरीदेगी पूरी सौ फीसदी हिस्सेदारी

भारतीय आईटी कंपनी विप्रो ने अमेरिकी एसएपी कंपनी राइजिंग को खरीदने की घोषणा की है.

भारतीय आईटी कंपनी विप्रो ने अमेरिकी एसएपी कंपनी राइजिंग को खरीदने की घोषणा की है.

विप्रो की ओर से मंगलवार को जारी एक बयान में इस बात की जानकारी दी गई. बयान में कहा गया है कि विप्रो एसएपी परामर्श में सक ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. अजीम प्रेमजी की सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी विप्रो लिमिटेड अपनी एसएपी परामर्श क्षमता का विस्तार करेगी. इसके लिए विप्रो अमेरिकी कंपनी राइजिंग इंटरमीडिएट होल्डिंग्स की सौ प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदेगी.

विप्रो की ओर से मंगलवार को जारी एक बयान में इस बात की जानकारी दी गई. बयान में कहा गया है कि विप्रो एसएपी परामर्श में सक्रिय अमेरिकी कंपनी राइजिंग का अधिग्रहण करेगी. यह सौदा करीब 54 करोड़ डॉलर (लगभग 4,135 करोड़ रुपये) में होगा. यह सौदा पूरी तरह से नगद होगा. विप्रो ने इस साल 30 जून तक यह अधिग्रहण पूरा हो जाने की उम्मीद जताई है.

ये भी पढ़ें- अडानी एक और बड़ी डील की तरफ, अंबुजा सीमेंट को खरीदने की बातचीत एडवांस स्टेज में

एसएपी परामर्श सेवा में आएगी मजबूती
विप्रो ने कहा है कि इस सौदे से एसएपी परामर्श सेवा में उसकी स्थिति मजबूत होगी. इस सौदे को अभी अमेरिका, जर्मनी एवं कनाडा में प्रतिस्पर्द्धा कानूनों के तहत मंजूरी लेनी होगी. विप्रो लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) थिएरी डेलपोर्ट ने कहा, ‘‘इस अधिग्रहण के बाद हम एक साथ मिलकर  ज्यादा वृद्धि वाले क्षेत्रों में अपनी मौजूदगी का विस्तार करने में सफल होंगे.’’

बनी रहेगी स्वतंत्र कंपनी
हालांकि, अधिग्रहण के बाद भी राइजिंग विप्रो के बैनर तले एक अलग कंपनी के रूप में काम करती रहेगी.  इसकी कमान राइजिंग के मौजूदा सीईओ माइक माएलो के पास ही रहेगी. माएलो ने कहा कि विप्रो का साथ मिलने से राइजिंग अपने मौजूदा ग्राहकों को अधिक मूल्यवर्द्धक सेवा दे पाएगी. इससे कारोबार का दायरा भी बढ़ेगा.

ये भी पढ़ें- रेनबो चिल्ड्रेन्ज़ मेडिकेयर IPO: निवेश के लिहाज से कैसा रहेगा यह इश्यू, ये है विशेषज्ञों की राय

अमेरिका के स्टैमफोर्ड में स्थित राइजिंग के 1,300 से अधिक कर्मचारी हैं. ये कर्मचारी उत्तर अमेरिका, यूरोप, एशिया एवं ऑस्ट्रेलिया के 16 देशों में तैनात हैं.

Tags: IT Companies, IT industry, Wipro, Wipro Company

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें