Home /News /business /

बेतहाशा बढ़ रही बेटिकट यात्रियों की संख्‍या, जानें रेलवे ने वसूला कितना जुर्माना

बेतहाशा बढ़ रही बेटिकट यात्रियों की संख्‍या, जानें रेलवे ने वसूला कितना जुर्माना

बिना टिकट या गलत टिकट के साथ यात्रा पर रेलवे जुर्माना वसूलता है.

बिना टिकट या गलत टिकट के साथ यात्रा पर रेलवे जुर्माना वसूलता है.

रेलवे ने महामारी संक्रमण के दौरान सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुकिंग की सुविधा दी थी. ज्‍यादातर स्‍टेशनों पर अब भी खिड़की से टिकट नहीं मिल रहा जिससे ग्रामीण क्षेत्र के यात्रियों को सबसे ज्‍यादा मुश्किल होती है और वे बिना टिकट ही यात्रा को मजबूर हो रहे.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. महामारी ने जेब पर बोझ बढ़ाया तो लोग इसकी भरपाई रेलवे से करने लगे. 2021-22 के शुरुआती नौ महीनों में बिना टिकट रेलवे में यात्रा करने वालों की संख्‍या बेतहाशा रूप से बढ़ी है. सूचना के अधिकार (RTI) के तहत एक जवाब में रेलवे ने बताया कि अप्रैल-दिसंबर, 2021 में 1.78 करोड़ यात्री बिना टिकट के पकड़े गए.

रेलवे ने बताया कि यह संख्‍या कोरोना पूर्व समय (2019-2020) से 79 फीसदी ज्‍यादा है. इसमें बिना टिकट यात्रा करने वालों के साथ अनबुक्‍ड लगेज ले जाने वालों की संख्‍या भी शामिल है. 2020-21 में जब महामारी की वजह से रेलवे का यातायात प्रभावित था, तब बिना टिकट यात्रा करने वालों की संख्‍या महज 27 लाख थी.

ये भी पढ़ें – Stock Market : बाजार की आज भी हो सकती है कमजोर शुरुआत, ये फैक्‍टर तय करेंगे शेयरों की चाल

रेलवे ने वसूला 1,017.48 करोड़ जुर्माना
बेटिकट यात्रा अथवा गलत टिकट पर यात्रा करने के मामले में रेलवे ने चालू वित्‍तवर्ष के शुरुआती नौ महीनों में ही 1,017.48 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूल किया. 2019-2020 में बिना टिकट यात्रा करने वालों की कुल संख्‍या 1.10 करोड़ थी और जुर्माने के रूप में 561.73 करोड़ रुपये की वसूली की गई थी.

ऑनलाइन बुकिंग की बाध्‍यता है बड़ा कारण
मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि संक्रमण में कमी आने पर रेलवे ने ज्‍यादातर एक्‍सप्रेस और सुपरफास्‍ट ट्रेनों का संचालन का दोबारा शुरू कर दिया है. साथ ही रेलवे ने सिर्फ ऑनलाइन बुकिंग का विकल्‍प दे रखा है, जिससे ग्रामीण क्षेत्र के यात्रियों को सबसे ज्‍यादा मुश्किल हो रही. जब तक खिड़की से सभी तरह के टिकट मिलने की सुविधा नहीं शुरू होती, ये सिलसिला बढ़ता जाएगा.

ये भी पढ़ें – Petrol Diesel Prices Today: लखनऊ-नोएडा सहित कई शहरों में बदले पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें आपके शहर में आज का रेट

वेटिंग यात्रियों पर सबसे ज्‍यादा संकट
चालू वित्‍तवर्ष के शुरुआती 6 महीनों में वेटिंग टिकट वाले यात्रियों पर सबसे ज्‍यादा संकट दिखा है. इस दौरान 52 लाख यात्रियों को अपना सफर रद्द करना पड़ा. ज्‍यादातर रूटों पर यात्रियों की संख्‍या बढ़ रही है, जबकि ट्रेन की संख्‍या कोरोना के दौरान घटा दी गई थी. अब रेलवे को इन रूटों पर ट्रेनों की संख्‍या में भी इजाफा करना पड़ेगा.

Tags: Indian railway, Indian Railway news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर