कोलकाता को मिली देश की पहली ट्राम कार लाइब्रेरी, 18 साल तक के बच्चे मुफ्त सवारी के साथ करेंगे पढ़ाई

ये है देश की पहली ट्राम कार लाइब्रेरी
ये है देश की पहली ट्राम कार लाइब्रेरी

देश की पहली ट्राम कार लाइब्रेरी (Tram Car Library) में 18 साल तक के बच्चे मुफ्त सवारी करते हुए पढ़ और कई गतिविधियां सीख सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 3:06 PM IST
  • Share this:
कोलकाता (Kolkata) में बाल पाठकों के लिए एक ‘ट्राम-कार’ लाइब्रेरी (Tram Car Library) की शुरुआत की गई. इसमें 18 साल की उम्र से कम के बच्चे पुस्तक पढ़ सकते हैं. देश में यह पहली लाइब्रेरी है. दुनिया की इस तरह की पहली ‘ट्राम-कार’ चलाने के लिए पश्चिम बंगाल परिवहन निगम (WBTC) ने एपीजे आनंद बाल पुस्तकालय के साथ साझेदारी की है. इसका नाम ‘कोलकाता यंग रीडर्स ट्राम-कार’ (Kolkata Young Readers Tram Car) रखा गया है. डब्ल्यूबीटीसी देश का अकेला एक्टिव ट्रामवेज है. ट्राम कार को डब्ल्यूबीटीसी के एमडी राजनवीर सिंह कपूर और एपीजे सुरेंद्र ग्रुप की डायरेक्टर प्रीति पॉल द्वारा लॉन्च किया गया है.

ट्राम कार का लक्ष्य
WBTC के प्रबंध निदेशक आर एस कपूर ने कहा, ‘कोलकाता यंग रीडर्स ट्राम-कार का लक्ष्य है कि सभी बच्चों को अच्छी और ज्ञानवर्धक पुस्तकें पढ़ने को मिलनी चाहिए.’ बता दें कि ट्राम कार श्यामबाजार-एस्प्लेनेड और एस्प्लेनेड-गरियाहाट के बीच चलेगी. कपूर ने बताया कि इसमें 18 साल तक के बच्चे मुफ्त सवारी करते हुए पढ़ और कई गतिविधियां सीख सकते हैं.

ये भी पढ़ें : विदेशों में कसे जा रहे हैं हरियाणा के इस शहर में बने नट-बोल्ट, NASA-ISRO भी हैं इसके ग्राहक
ट्राम कार एक निशुल्क सेवा


यह बच्चों के लिए बिल्कुल निशुल्क सेवा है. 18 साल से अधिक उम्र के बच्चे भी निश्चित रूप से ट्राम कार का आनंद ले सकते हैं. हम इस परियोजना के साथ जुड़ने के लिए एपीजे आनंद चिल्ड्रन्स लाइब्रेरी टीम के प्रयासों और उत्साह का धन्यवाद करते हैं. यह कोलकाता के लिए बाल दिवस पर का बड़ा उपहार है.

कोलकाता को नसीब हुई ट्रम कार
प्रीति पॉल के अनुसार, एक समूह के रूप में कोलकाता की विरासत और प्रगतिशील भविष्य दोनों इसी में निहित है, हम निगम के साथ इस साझेदारी को लेकर बहुत सकारात्मक और खुश हैं. यह दुनिया की पहली ऐसी लाइब्रेरी होगी जो कोलकाता के बच्चों को नसीब हुई है. हम मानते हैं कि प्रत्येक बच्चे के समग्र विकास के लिए एक पुस्तकालय आवश्यक है क्योंकि किताबें ही बच्चों का भविष्य तय करती हैं.'

ये भी पढ़ें : मोदी सरकार छात्रों के खाते में जमा कर रही है 7 लाख रुपए? जानिए क्या है सच

बता दें कि ट्राम कार में बच्चों के लिए साल भर की गतिविधियां, जैसे कि युवा मन को लुभाने के लिए कहानी, नाटक, कविता, पुस्तक लॉन्च, संगीत और बहुत कुछ मौजूद है. ट्रम कार के जरिए इस वर्ष सभी को साहित्य उपलब्ध कराना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज