Home /News /business /

worlds largest white diamond the rock expected to sell for 30 million arnod

दुनिया का सबसे बड़ा सफेद हीरा ‘द रॉक’ की होने जा रही नीलामी, 2 अरब रुपये से ज्यादा में बिकने की उम्मीद

दुनिया का सबसे बड़ा हीरा द रॉक नाशपाती के आकार का है और इसका वजन 228 .31 कैरेट है.

दुनिया का सबसे बड़ा हीरा द रॉक नाशपाती के आकार का है और इसका वजन 228 .31 कैरेट है.

दुनिया के दुर्लभ रत्नों में से एक सबसे बड़ा सफेद हीरा द रॉक की नीलामी अगले हफ्ते जेनेवा में होने जा रही है. उम्मीद जताई जा रही है इसकी नीलामी से 2.30 अरब रुपये से भी ज्यादा मिलेंगे. इसके साथ द रेड क्रॉस डायमंड की भी नीलामी की जाएगी.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दुनिया का सबसे बड़ा सफेद हीरा ‘द रॉक’ की अगले हफ्ते जेनेवा में नीलामी होने जा रही है. इसका वजन 200 कैरेट से भी ज्यादा है. यह नीलामी क्रिस्टीज की ओर से की जानी वाली बिक्री का हिस्सा है. इस नीलामी में द रॉक के अलावा द रेड क्रॉस डायमंड की भी नीलामी की जाएगी.

उम्मीद जताई जा रही है कि द रॉक की नीलामी 3 करोड़ डॉलर (करीब 2.30 अरब रुपये) तक में हो सकती है. इसका वजन 228.31 कैरेट है. नाशपाती के आकार वाला यह सफेद हीरा गोल्फ की गेंद जितना बड़ा है. क्रिस्टी के आभूषण विभाग के प्रमुख मैक्स फॉसेट ने रॉयटर्स को बताया, “यह पूरी तरह से नाशपाती के आकार का है. अक्सर इस तरह के बड़े स्टोन्स के वजन को बनाए रखने के लिए आकार में कुछ कटौती करनी पड़ती है. यह दुनिया के सबसे दुर्लभ रत्नों में से एक है जिसकी नीलामी होने जा रही है.”

ये भी पढ़ें- सोना हुआ सस्ता, चांदी के भी गिरे भाव, खरीदारी से पहले फटाफट चेक करें नए भाव

दक्षिण अफ्रीका के खदान से निकला है यह दुर्लभ हीरा
यह दुर्लभ सफेद हीरा दक्षिण अफ्रीका की खदान से निकाला गया था. इसे इसके पूर्व मालिक ने कार्टियर हार के रूप में पहना था. इससे पहले 163.41 कैरेट का सफेद हीरा 2017 में नीलाम किया गया था. उस समय इसकी नीलामी का रिकॉर्ड बना था. हीरे के प्रमुख उत्पादक देश रूस पर प्रतिबंधों के साथ-साथ महामारी की पाबंदियों में छूट से वीआईपी कार्यक्रमों की फिर से शुरुआत हो गई है. इससे हीरे की ग्लोबल कीमतों में तेजी आई है.

द रेड क्रॉस डायमंड की भी होगी नीलामी
इस नीलामी में “द रेड क्रॉस डायमंड” की भी बिक्री की जाएगी. यह 205.07 कैरेट का पीला कुशन के आकार का स्टोन है. इस नीलामी से होने वाली आमदनी का एक हिस्सा जिनेवा स्थित रेड क्रॉस की अंतर्राष्ट्रीय समिति (आईसीआरसी) को जाएगा. इस बहुमूल्य रत्न को पहली बार क्रिस्टीज द्वारा ही लंदन की नीलामी में 1918 में बेचा गया था. तब विश्व युद्ध चल रहा था और लंदन के लोगों ने ब्रिटेन की मदद करने के लिए अपने कीमतों सामानों को नीलामी के जरिये बेचा था. उस नीलामी से 10,000 पाउंड मिले थे जिससे ब्रिटिश रेड क्रॉस सोसाइटी की मदद की गई थी. इस बहुमूल्य रत्न के निचले हिस्से में माल्टीज क्रॉस बना हुआ है.

ये भी पढ़ें- LIC IPO में करना चाहते हैं निवेश, SBI दे रहा है सस्ते में 20 लाख रुपये तक का लोन

आईसीआरसी के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस बार की नीलामी से होने वाली आय का एक हिस्सा संघर्ष से प्रभावित लोगों को स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने में किया जाएगा.

Tags: Auctioning, Diamond, Diamond mining, International Auction

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर