Home /News /business /

खाने-पीने की चीजें सस्‍ती होने के बाद भी नवंबर में बढ़ी महंगाई, 9 महीने में रही सबसे ज्‍यादा

खाने-पीने की चीजें सस्‍ती होने के बाद भी नवंबर में बढ़ी महंगाई, 9 महीने में रही सबसे ज्‍यादा

 महंगाई दर में बढ़ोतरी

महंगाई दर में बढ़ोतरी

थोक महंगाई दर (WPI) में नवंबर 2020 के दौरान 1.55 फीसदी की तेज बढ़त हुई. हालांकि, खाद्य महंगाई दर (Food Inflation) इस दौरान घटकर 3.94 फीसदी पर आ गई, जो अक्‍टूबर में 6.37 फीसदी पर थी. सब्जियों की थोक महंगाई (Vegetables Prices) भी अक्‍टूबर के 25.23 फीसदी से घटकर 12.24 फीसदी पर पहुंच गई.

अधिक पढ़ें ...
    नई दिल्‍ली. किसान आंदोलन (Farmers' Protest) के बीच खाने-पीने की चीजों के दामों में गिरावट के बाद भी थोक महंगाई आम आदमी के लिए परेशानी का कारण बन गई है. थोक महंगाई दर (WPI) नवंबर 2020 में बढ़कर 9 महीनों में सबसे ज्‍यादा हो गई है. नवंबर 2020 के दौरान थोक महंगाई दर में अक्‍टूबर के मुकाबले डेढ़ फीसदी से ज्‍यादा की बढ़त हुई है. अक्‍टूबर 2020 में थोक महंगाई दर 1.48 फीसदी थी. इस दौरान मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्ट्स के दामों (Manufactured Products Prices) में तेज बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

    खाद्य महंगाई दर में आई शानदार गिरावट
    नवंबर 2020 के दौरान खाद्य महंगाई दर (Food Inflation) अक्‍टूबर की 6.37 फीसदी से कम होकर 3.94 फीसदी रह गई. वहीं, मैन्युफैक्चर्ड प्रोडक्‍ट्स की थोक महंगाई दर अक्टूबर के 2.12 फीसदी से बढ़कर 2.97 फीसदी पर पहुंच गई. नवंबर में प्रमुख वस्‍तुओं की थोक महंगाई दर 2.72 फीसदी रह गई, जो अक्टूबर में 4.74 फीसदी थी. नवंबर में फ्यूल एंड पावर प्रोडक्‍ट्स की थोक महंगाई दर में एक फीसदी से ज्‍यादा की बढ़ोतरी हुई है. अक्‍टूबर में ये आंकड़ा -10.95 फीसदी था, जो नवंबर में बढ़कर -9.87 फीसदी पर पहुंच गया. गैर-खाद्य वस्‍तुओं की महंगाई दर नवंबर में 8.43 फीसदी रही.

    ये भी पढ़ें- अगले साल जनवरी से 50 हजार से ज्यादा पेमेंट करने पर लागू होगी RBI की ये शर्त

    नवंबर में ज्‍यादा रहे कुछ सब्जियों के दाम
    आलू और प्‍याज समेत ज्‍यादातर सब्जियों के दाम नवंबर में भी ज्यादा बने रहे. हालांकि, इस दौरान सब्जियों की थोक महंगाई में तेज गिरावट दर्ज की गई. सब्जियों की थोक महंगाई दर अक्‍टूबर की 25.23 फीसदी से नवंबर में घटकर 12.24 फीसदी रही. नवंबर में दूध की थोक महंगाई दर अक्टूबर की 5.54 फीसदी से घटकर 5.53 फीसदी रही. अंडे, मांस की थोक महंगाई 1.65 फीसदी से घटकर 0.61 फीसदी रही. नवंबर में महंगाई दर अक्टूबर के 1.7 फीसदी से बढ़कर 2.6 फीसदी पर पहुच गई. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी हाल में मॉनेटरी पॉलिसी में कहा था कि महंगाई दर बढ़ रही है, लेकिन सर्दियों के मौसम में इस पर काबू पा लिया जाएगा.

    Tags: Consumer price index, Good prices of vegetables, Inflation, Wholesale Price Index

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर