होम /न्यूज /व्यवसाय /Year Ender: म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के लिए फीका रहा साल 2022, नए साल में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

Year Ender: म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के लिए फीका रहा साल 2022, नए साल में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

म्यूचुअल फंड एक ऐसा फंड है, जो एसेट मैनेजमेंट कंपनीज ऑपरेट करती है. (फाइल फोटो)

म्यूचुअल फंड एक ऐसा फंड है, जो एसेट मैनेजमेंट कंपनीज ऑपरेट करती है. (फाइल फोटो)

इंडस्ट्री बॉडी एम्फी (Amfi) के आंकड़ों के मुताबिक साल 2022 में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) में ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री साल 2022 में धीमी गति से बढ़ा.
साल 2021 में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के एयूएम में लगभग 22% की बढ़ोतरी हुई थी.
साल 2023 के अंत में एयूएम के लगभग 44 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान.

नई दिल्ली. म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री (Mutual Fund Industry) पिछले साल के शानदार प्रदर्शन को वर्ष 2022 में दोहरा नहीं सका. पूरे साल बाजार में उतार-चढ़ाव रहने से इंडस्ट्री अपने एसेट बेस और निवेशकों की संख्या में बढ़ोतरी की रफ्तार बरकरार नहीं रख सका. हालांकि एक्सपर्ट को उम्मीद है कि नया साल इस इंडस्ट्री के लिए अपेक्षाकृत बेहतर साबित होगा.

म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री साल 2022 में धीमी गति से बढ़ा. इस दौरान रूस-यूक्रेन युद्ध, सप्लाई चेन की बाधाओं और बढ़ती ब्याज दरों के कारण इंडस्ट्री के लिए हालात विपरीत रहे. इंडस्ट्री बॉडी एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया यानी एम्फी (Amfi) के आंकड़ों के मुताबिक साल 2022 में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के एसेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) में 7 फीसदी या 2.65 लाख करोड़ रुपये की वृद्धि हुई. इससे पहले साल 2021 में उसके एयूएम में लगभग 22 फीसदी की बढ़ोतरी हुई थी.

ये भी पढ़ें- म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री को चाहिए ऐसा टैलेंट, जो खर्चों के मामले में ‘पत्नी’ की तरह सोचे, एक्सपर्ट ने दिया उम्दा उदाहरण

2023 के अंत में AUM के 44 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान
नियो के हेड ऑफ स्ट्रेटजी स्वप्निल भास्कर ने कहा कि 2023 में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री की वृद्धि मौजूदा रुझान के अनुरूप ही रहने की उम्मीद है और 2023 के अंत में एयूएम के लगभग 44 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच जाने का अनुमान है.

2023 में 16-17 फीसदी की दर से बढ़ सकता है म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री
हालांकि, एम्फी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर एन एस वेंकटेश का मानना है कि 2023 में इंडस्ट्री 16-17 फीसदी की दर से बढ़ेगा. उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री को भारत की वृद्धि संभावनाओं और आगामी बजट घोषणाओं से समर्थन मिलेगा.

ये भी पढ़ें- Mutual Funds: साल 2022 में इन म्यूचुअल फंड स्कीम्स ने दिया 78% तक रिटर्न, क्या आपका भी था निवेश?

मॉर्निंगस्टार इंवेस्टमेंट एडवाइजर इंडिया के डायरेक्टर मैनेजर रिसर्च कौस्तुभ बेलापुरकर ने कहा कि म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री को अगले साल निवेशकों के बीच एक बेहतर निवेश विकल्प के तौर पर म्यूचुअल फंड के बारे में बढ़ती जागरुकता का फायदा मिल सकता है.

नवंबर 2022 तक म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का आकार 40.37 लाख करोड़ रुपये
आंकड़ों के मुताबिक, इस साल नवंबर तक म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का आकार 40.37 लाख करोड़ रुपये हो चुका है जो इसका सर्वोच्च स्तर है. साल 2021 के अंत में इस इंडस्ट्री का आकार 37.72 लाख करोड़ रुपये था जबकि साल 2020 में इसका आकार 31 लाख करोड़ रुपये था.

Tags: Business news, Business news in hindi, Mutual fund, Mutual funds, Share market, Year Ender, Year ender list

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें