Yes Bank बेचेगा ई कॉमर्स कंपनी Magnum Solutions की प्रोपर्टी, आज होगी ऑनलाइन नीलामी

यस बैंक (Yes Bank)

यस बैंक (Yes Bank)

Yes Bank अपने 345 करोड़ रुपये का कर्ज वसूलने के लिए ई कॉमर्स कंपनी मैग्नम सॉल्यूशंस लिमिटेड (Magnum Solution Ltd) की अचल संपत्तियों की नीलामी करेगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. निजी क्षेत्र का यस बैंक (Yes Bank) अपना 345 करोड़ रुपये का कर्ज वसूलने के लिए ई कॉमर्स कंपनी मैग्नम सॉल्यूशंस लिमिटेड (Magnum Solution Ltd) की अचल संपत्तियों की नीलामी कर रहा है. यह नीलामी 15 मई को ऑनलाइन की जाएगी. अपने E-Auction नोटिस में यस बैंक ने कहा कि उसने मैग्नम सॉल्यूशंस लिमिटेड की फिजिकल प्रोपर्टीज का पोसेशन 29 अगस्त 2020 को ले लिया था.

यस बैंक ने बताया कि मैग्नम सॉल्यूशंस लिमिटेड की अचल संपत्तियों की नीलामी सिक्योरिटाइजेशन एंड रीकंस्ट्रक्शन ऑफ फाइनेंशियल ऐसेट्स एंड इंफोर्समेंट ऑफ सिक्योरिटी इंटरेस्ट एक्ट (Sarfaesi Act) के तहत होगा.

270 करोड़ रुपये रखा रिजर्व प्राइस

यस बैंक ने मैग्नम सॉल्यूशंस लिमिटेड की संपत्ति का रिजर्व प्राइस 270 करोड़ रुपये रखा है. यानी इस की बोली 270 करोड़ रुपये से लगनी शुरू होगी. यह संपत्ति इस रिजर्व प्राइस से नीचे नहीं बिकेगी, जिसे अथॉराइज्ड ऑफिसर ने तय किया है.
ये भी पढ़ें : किसानों के लिए खुशखबरी! अब बिना गारंटी ले सकेंगे 1.60 लाख रुपये का लोन- जानें कैसे

स्टॉक मार्केट में यस बैंक के शेयर आज 0.75% की गिरावट के साथ 13.20 रुपये पर बंद हुए. कंपनी के शेयर आज तेजी के साथ 13.40 रुपये पर खुले. बैंक के शेयर में 28 अप्रैल के बाद से ही गिरावट आ रही है, जिससे कंपनी का मार्केट कैप गिरकर 33 हजार करोड़ रुपये रह गया है.

मार्च तिमाही में हुआ घाटा



कोरोना की दूसरी लहर ने बैंक की चुनौतियों को और बढ़ा दिया है. यस बैंक (Yes Bank) को मार्च 2021 को समाप्त तिमाही में एकल आधार पर 3,788 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध घाटा हुआ. आय कम होने तथा फंसे कर्ज के एवज में प्रावधान बढ़ने से बैंक का घाटा बढ़ा है.

ये भी पढ़ें: Indian Railways: रेलवे ने आज से कैंसिल कर दी 1 दर्जन से ज्यादा ट्रेनें, कई की टाइमिंग में किया बदलाव, यहां चेक करें पूरी लिस्ट

इधर बैंक के टॉप इनवेस्टर बे ट्री इंडिया होल्डिंग्स (Bay Tree India Holdings) ने भी बैंक में अपनी 2.1 फीसदी हिस्सेदारी बेच दी है. इस प्राइवेट इक्विटी फर्म ने बीते मंगलवार को एक बयान में यह जानकारी दी. कंपनी की बैंक में अब 5.4 फीसदी हिस्सेदारी रह गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज