Home /News /business /

Yes Bank के पूर्व MD राणा कपूर को दिल्ली की अदालत ने नहीं दी जमानत, क्या कहा? जानिए

Yes Bank के पूर्व MD राणा कपूर को दिल्ली की अदालत ने नहीं दी जमानत, क्या कहा? जानिए

विशेष न्यायाधीश संजीव अग्रवाल ने राना कपूर को राहत देने से इनकार करते हुए कहा कि उनके खिलाफ बहुत ही गंभीर और संगीन किस्म के आरोप हैं.

विशेष न्यायाधीश संजीव अग्रवाल ने राना कपूर को राहत देने से इनकार करते हुए कहा कि उनके खिलाफ बहुत ही गंभीर और संगीन किस्म के आरोप हैं.

Money Laundering Case में यस बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (former MD and CEO of YES Bank) राणा कपूर (Rana Kapoor) की जमानत अर्जी खारिज हो चुकी है. हालांकि 15 अन्य आरोपियों को जमानत दे दी गई.

नई दिल्ली. दिल्ली की एक अदालत ने बैंक को 466.51 करोड़ रुपये के नुकसान से जुड़े धन शोधन के मामले (Money Laundering Case) में यस बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (former MD and CEO of YES Bank) राणा कपूर (Rana Kapoor) की जमानत अर्जी गुरुवार को खारिज कर दी.

न्यूज़ एजेंसी भाषा की एक खबर के अनुसार, विशेष न्यायाधीश संजीव अग्रवाल ने राना कपूर को राहत देने से इनकार करते हुए कहा कि उनके खिलाफ बहुत ही गंभीर और संगीन किस्म के आरोप हैं. अदालत ने कहा, ‘‘वर्तमान मामले के समग्र तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए, चूंकि आरोपी के खिलाफ आरोप गंभीर प्रकृति के हैं, इसलिए इस चरण में उनकी जमानत का कोई आधार नहीं बनता है. आरोपी राणा कपूर की जमानत अर्जी खारिज की जाती है.’’

ये भी पढ़ें – Share Market : इन स्‍टॉक्‍स पर बाजार एनालिस्ट्स भी हैं लट्टू, 45 फीसदी तक दे सकते हैं रिटर्न

क्या कहा था राणा कपूर ने
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के आरोप पत्र पर संज्ञान लेने वाली अदालत द्वारा तलब किए जाने के बाद कपूर ने अर्जी दायर की थी. कपूर ने अदालत को बताया कि जांच के दौरान उन्हें ईडी ने गिरफ्तार नहीं किया था और चूंकि आरोप पत्र पहले ही दाखिल किया जा चुका है, इसलिए मामले में उन्हें हिरासत में भेजने से कोई उद्देश्य पूरा नहीं होगा.

राणा कपूर फिलहाल ईडी के एक अन्य मामले में न्यायिक हिरासत में मुंबई की तलोजा जेल में बंद है. ईडी के विशेष लोक अभियोजक एन के मट्टा ने अर्जी का विरोध करते हुए अदालत को बताया कि कपूर ने अपराध में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

ये भी पढ़ें – Share Market में चौथे दिन भी गिरावट, छोटे निवेशकों के लिए जरूरी है ये ख़बर

15 आरोपियों को मिली जमानत
हालांकि, अदालत ने मामले में 15 अन्य आरोपियों- बी हरिहरन (B Hariharan), अभिषेक एस पांडे (Abishek S Pandey), राजेंद्र कुमार मंगल (Rajendra Kumar Mangal), रघुबीर कुमार शर्मा (Raghubir Kumar Sharma), अनिल भार्गव (Anil Bhargava), तापसी महाजन (Tapsi Mahajan), सुरेंद्र कुमार खंडेलवाल (Surendra Kumar Khandelwal), सोनू चड्ढा (Sonu Chadha), हर्ष गुप्ता (Harsh Gupta), रमेश शर्मा (Ramesh Sharma), पवन कुमार अग्रवाल (Pawan Kumar Agarwal), अमित ममतानी (Amit Mamtani), आशीष अग्रवाल (Ashish Agarwal), अमित कुमार (Amit Kumar) और विनोद बाहेती (Vinod Bahety) को जमानत दे दी.
न्यायाधीश ने कहा कि शिकायत के तथ्यों से प्रतीत होता है कि ये 15 आरोपी मामले में अन्य आरोपियों गौतम थापर (Gautam Thapar) अथवा राणा कपूर (Rana Kapoor) के निर्देश के तहत काम कर रहे थे. अदालत ने यह भी कहा कि इन आरोपियों ने हमेशा जांच के दौरान सहयोग किया और जांच एजेंसी द्वारा बुलाये जाने पर वे जांच में शामिल हुए.

एक निचली अदालत ने इससे पहले अवंता समूह के प्रवर्तक व्यवसायी गौतम थापर की जमानत याचिका खारिज कर दी थी. थापर की जमानत याचिका दिल्ली उच्च न्यायालय में लंबित है. ईडी ने थापर को पिछले साल अगस्त में गिरफ्तार किया था और फिलहाल वह न्यायिक हिरासत में हैं.

Tags: Rana Kapoor, Yes Bank

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर