लाइव टीवी

यस बैंक घोटाला: विशेष अदालत ने राणा कपूर समेत 8 लोगों को जारी किया समन, ED ने फाइल की थी चार्जशीट

पीटीआई
Updated: May 23, 2020, 6:49 PM IST
यस बैंक घोटाला: विशेष अदालत ने राणा कपूर समेत 8 लोगों को जारी किया समन, ED ने फाइल की थी चार्जशीट
राणा कपूर

Yes Bank Scam: यस बैंक घोटाले में विशेष अदालत ने राणा कपूर (Rana Kapoor) को समन जारी किया है. Yes Bank द्वारा फाइल की गई चार्जशीट के आधार पर कपूर की पत्नी और तीन बेटियों को भी 5 जून को कोर्ट में पेश होना है.

  • Share this:
मुंबई. यस बैंक मामले (Yes Bank Case) में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा फाइल किए गए चार्जशीट का संज्ञान लेते हुए विदेश अदालत ने राणा कपूर (Rana Kapoor) को समन जारी किया है. विशेष अदालत ने राणा कपूर के अलावा 7 अन्य लोगों को भी समन जारी किया है. प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने इसी महीने की शुरुआत में चार्जशीट फाइल किया था, जिसमें राणा कपूर के अलावा उनकी पत्नी, बेटियों और 3 अन्य एसोसिएट को मुख्य आरोपी ठहराया गया है.

5 जून को विशेष अदालत में पेशी
ED के वकील हितेन वेनेगावोकर ने कहा कि इस मामले का संज्ञान लेते हुए शनिवार को प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के लिए विशेष अदालत ने यह समन जारी किया है. उन्होंने बताया कि आरोपियों को 5 जून को कोर्ट में पेश होना है.

प्रवर्तन निदेशालय ने पहले ही यस बैंक के पूर्व प्रोमोटर राणा कपूर को न्यायिक हिरासत में लिया है. एजेंसी ने इस मामले में 5,050 करोड़ रुपये के हेराफेरी का अनुमान लगाया है.



यह भी पढ़ें: 200 Special Trains में खाना, बेड शीट, कंबल, लॉगेज के नए रेलवे ने बनाए नए नियम



DHFL से जुड़ा है लिंक
ED ने शुरुआती जांच में राणा कपूर, उनकी पत्नी और तीन बेटियों को 600 करोड़ रुपये के फ्रॉड का दोषी पाया था. जाचं में पाया गया है कि इन्होंने कथित तौर पर एक ऐसे फर्म के जरिए पैसों का हेरफेर किया है,​ जिसका लिंक दिवान हाउिसंग फाइनेंस लिमिटेड (DHFL) से है.

व्यक्तिगत फायदे के बदले जारी किया गया यस बैंक से लोन
ED के आरोपों के मुताबिक, राणा कपूर और उनके परिवार को इन कंपनियों के जरिए कुल 4,300 करोड़ रुपये का लाभ मिला है. इसके बदले में राणा कपूर के कार्यकाल में यस बैंक से बड़े स्तर पर इन कंपनियों को लोन जारी किया गया है.

राणा कपूर पर इस बात का भी आरोप लगा है कि कुछ बड़े कॉरपोरेट ग्रुप्स को लोन जारी करने की प्रक्रिया को आसान किया गया. ये लोन पर गैर-निष्पादित आस्तिायां यानी फंसा कर्ज (NPA) घोषित किया ज चुका है. इस संबंधित एक मामले की जांच केंद्रीय अन्वेष्ण ब्यूरा भी कर रहा है.

यह भी पढ़ें: हवाई यात्रा करने के बाद घर की जगह क्या क्वारंटाइन करना होगा?सरकार ने दिया जवाब

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 6:45 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading