स्वेज नहर में फंसे जहाज से महंगी हो सकती है आपकी कॉफी, इन चीजों पर भी पड़ सकता है असर

आपकी कॉफी हो सकती है महंगी.

मिस्र की स्वेज नहर में लगे जाम से अब जल्द ही छुटकारा मिलने की उम्मीद है. खबर है कि वहां करीब एक हफ्ते से फंसा जहाज एवरगीवेन आंशिक रूप से दोबारा तैरने लगा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. स्वेज नहर में एक मालवाहक जहाज के फंसने से पूरी दुनिया काफी परेशान है. क्योंकि इस समुद्री रास्तें के जरिए विश्व के कई बड़े देश जरूरी सामान का आयात और निर्यात करते है. ऐसे में स्वेज नहर में मालवाहक जहाज के फंसने से 450 से ज्यादा जहाज इस रास्ते में फंस गए हैं और जिन देशों तक जरूरी सामन समय पर पहुंचना था. वह नहीं पहुंच पा रहा. ऐसे में कई चीजों की कीमत में उछाल आ सकता है. जिससे भारत में इम्पोर्ट की जाने वाली कॉफी की कीमत में बढ़ोतरी हो सकती हैं.

    कॉफी की कीमत में इसलिए हो सकती है बढ़ोतरी - इसका असर न सिर्फ पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर पड़ेगा बल्कि इससे आपकी कॉफी भी महंगी हो सकती है. मिस्र की स्वेज नहर में सोमवार को सातवें दिन मालवाहक जहाज को निकालने में आंशिक सफलता मिली है. लेकिन अभी भी रास्ता पूरी तरह से क्लियर नहीं हुआ हैं. बताया जा रहा है कि रोबस्टा कॉफी के भी कई जहाज फंसे हुए हैं. रोबस्टा कॉफी का इस्तेमाल नेस्कैफे में होता है.

    यह भी पढ़ें: सिर्फ 15000 रुपये में शुरु करें तुलसी की खेती, होगी 3 लाख रुपये की कमाई

    करीब 12 व्यापार के लिए स्वेज नहर रूट का होता है इस्तेमाल - एशिया से यूरोप के बीच माल ढुलाई करने वाला पनामा का 'द एवर गिवन' जहाज स्वेज नहर में मंगलवार को फंस गया था, जिससे यातायात बाधित हो गया. यह बहुत बड़ा जहाज है, जिस पर तेल लदा है. 'एवर गिवन' की तकनीकी प्रबंधक बर्नहार्ड शुल्त शिपमैनमेंट ने कहा कि शुक्रवार को नहर का रास्ता खुलवाने के प्रयास विफल रहे. मिस्र के अधिकारियों ने जहाज फंसने की जगह पर मीडिया को जाने की इजाजत नहीं दी है.

    भारत के साथ इन देशों पर भी होगा असर - स्वेज नहर से जहाजों की आवाजाही बाधित होने का सबसे ज्यादा असर यूरोप पर पड़ा है. लेकिन जल्द इसका असर पूरी दुनिया पर पड़ने की आशंका है. इसकी वजह यह है कि खाने-पीने की उन चीजों की कमी हो सकती है, जिनकी ढुलाई इस रास्ते से होती है. दुनिया में करीब 12 व्यापार के लिए स्वेज नहर रूट का इस्तेमाल होता है. सप्लाई में देरी की आशंका से लंदन में रोबस्टा के फ्यूचर्स में 2.8 फीसदी का उछाल आया. शुक्रवार को मई डिलीवरी और जुलाई डिलीवरी के फ्यूचर्स के बीच फर्क 30 फीसदी से ज्यादा बढ़ गया. अगर यह रूट जल्द नहीं खुलता है तो कॉफी के फ्यूचर्स में और उछाल दिख सकता है.

    यह भी पढ़ें: नौकरी के अवसर! कोरोना के बावजूद अपने रेस्टोरेंट नेटवर्क का विस्तार करेगी KFC

    जहाज को निकालने में मिली आंशिक सफलता - मिस्र की स्वेज नहर में लगे जाम से अब जल्द ही छुटकारा मिलने की उम्मीद है. खबर है कि वहां करीब एक हफ्ते से फंसा जहाज एवरगीवेन आंशिक रूप से दोबारा तैरने लगा है. समाचार एजेंसी ब्लूमबर्ग ने यह जानकारी दी है. इस विशालकाय जहाज को हटाने के काम में दो विशेष नौकाएं (जहाजों को खींचने में इस्तेमाल आने वाली शक्तिशाली नौकाएं) लगायी गईं थी. यह विशालकाय दोबारा भले आंशिक रूप से दोबारा तैरने लगा है, लेकिन फिलहाल यह साफ नहीं यह नहर समुद्री ट्रैफिक के लिए कब तक पूरी तरह खुल पाएगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.