होम /न्यूज /व्यवसाय /नियोक्ता की तरफ से NPS में योगदान पर मिलेगी Income Tax छूट, जानिए कैसे?

नियोक्ता की तरफ से NPS में योगदान पर मिलेगी Income Tax छूट, जानिए कैसे?

एनपीएस (NPS)

एनपीएस (NPS)

NPS: अगर आपका नियोक्ता चाहे तो अपनी तरफ से एनपीएस में योगदान कर आपको टैक्स बचाने में मदद कर सकता है. अगर आप इस बारे में ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

आपका नियोक्ता भी एनपीएस के जरिए टैक्स बचाने में मदद कर सकता है.
टैक्स बचत के कुछ वैकल्पिक उपाय अपना कर आप इसे और कम कर सकते हैं.

नई दिल्ली. अगर आप भी नौकरीपेशा है तो आप भी टैक्स (Income Tax) बचत के उपाय के बारे में जानने के इच्छुक होंगे. बहुत से लोगों का सैलरी स्ट्रक्चर ऐसा होता है, जिसमें टैक्स फ्री भत्ते का प्रावधान नहीं होता. अगर आपकी टैक्स (Income Tax) देनदारी कम है, तब भी टैक्स बचत के कुछ वैकल्पिक उपाय अपना कर आप इसे और कम कर सकते हैं. क्या आप यह जानते हैं कि अगर आपका नियोक्ता चाहे तो अपनी तरफ से एनपीएस (NPS) में योगदान कर आपको टैक्स बचाने में मदद कर सकता है. जी हां अगर आप इस बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपको विस्तार से इस बारे में जानकारी दे रहे हैं.

अपने एनपीएस खाते में कर्मचारी का स्वयं का योगदान धारा 80सीसीडी (1) के तहत कटौती के लिए पात्र है, न कि धारा 80सी के तहत. रुपये की सीमा धारा 80CCE के तहत 1.50 लाख निर्धारित है जो धारा 80C, 80CCC और 80 CCD (1) के तहत कटौती के लिए पात्र सभी वस्तुओं को कवर करता है.

ये भी पढ़ें: आईपीओ लाने की तैयारी कर रही ओयो की निजी बाजार में वैल्यू गिरी, जानिए क्या है इसकी वजह

जानिए क्या हैं नियम
कर्मचारी के एनपीएस अकाउंट में एम्‍पलायर के योगदान के संबंध में धारा 80CCD (2) के तहत कटौती कर्मचारी के लिए उपलब्‍ध कराया जाता है. यह कटौती 1.50 लाख रुपये तक दी जाती है, जो धारा 80 सी, 80 सीसीसी और 80 सीसीडी (1) के तहत है. वहीं धारा 80CCD (2) के तहत कर्मचारी के मूल वेतन और महंगाई भत्ते के 10 फीसदी तक की कटौती उपलब्ध है. केंद्र और राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए मूल वेतन के प्रतिशत के रूप में योगदान के 14 फीसदी तक की उच्च कटौती उपलब्ध है.

हालांकि धारा 80सीसीडी (2) के तहत किसी कर्मचारी के एनपीएस खाते में नियोक्ता के योगदान के संबंध में कटौती की कोई सीमा नहीं है, लेकिन आयकर अधिनियम की धारा 17 (2) में प्रावधान है कि कर्मचारी के कर्मचारी भविष्य निधि के लिए नियोक्ता के कुल योगदान के मामले में, राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली और अधिवर्षिता एक वर्ष में 7.50 लाख से अधिक है, कर्मचारी के हाथ में अतिरिक्त पर अनुलाभ के रूप में कर लगाया जाएगा.

एनपीएस खाते में 1.50 लाख तक की कटौती के अलावा सभी करदाता धारा 80सीसीडी (1बी) के तहत 50,000 रुपये तक की अतिरिक्त कटौती का लाभ उठा सकता है. कुल मिलाकर आपके एनपीएस खाते में 2 लाख रुपये तक का योगदान कर सकते हैं और कर कटौती का लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

Tags: Business news in hindi, Income tax

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें