सावधान! स्विगी, जोमैटो से ऑर्डर करते हैं खाना तो कट सकती है आपकी जेब, जानें वजह?

News18Hindi
Updated: June 26, 2019, 3:13 PM IST
सावधान! स्विगी, जोमैटो से ऑर्डर करते हैं खाना तो कट सकती है आपकी जेब, जानें वजह?
सावधान! स्विगी, जोमैटो से खाना ऑर्डर करना पड़ सकता है महंगा

ऑनलाइन फूड एग्रीगेटर्स Swiggy, Zomato जैसी कंपनियों से भोजन मंगाने वालों को अपनी जेब थोड़ा ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है.

  • Share this:
अगर आप भी ऑनलाइन कंपनियों से भोजन ऑर्डर करते हैं तो ये खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है. ऑनलाइन फूड एग्रीगेटर्स Swiggy, Zomato जैसी कंपनियों से भोजन मंगाने वालों को अपनी जेब थोड़ी ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है. क्योंकि ऑनलाइन फूड एग्रीगेटर्स ने कई प्रोडक्ट्स पर रेस्टोरेंट्स के दाम के मुकाबले 5 रुपये से लेकर 50 रुपये या उससे अधिक बढ़ा दिए हैं.

कंपनियां बढ़ा रही हैं ओरिजनल प्राइस
ऑनलाइन फूड एग्रीगेटर्स अपने कोष की भरपाई करने के लिए देश भर के आउटलेट्स से खाद्य पदार्थों के ओरिजनल प्राइस बढ़ा रहे हैं. कोई आइटम आउटलेट के आधार पर 5 रुपये से लेकर 50 रुपये या उससे अधिक महंगा हो सकता है. दिलचस्प बात ये है कि ज्यादातर मामलों में ग्राहकों को यह पता भी नहीं है कि वे इस आइटम का प्रीमियम भुगतान कर रहे हैं, जिसका उन्होंने ऑर्डर किया है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार की इस स्कीम में मिलेगी अब ज्यादा पेंशन



अगर हम थोड़ा गूगल चेक करें तो पाएंगे जोमैटो में दी गई कीमत और उस होटल के मेन्यू में दी गई कीमत में अंतर है. लेकिन जब ग्राहक वेबसाइट के ऑर्डर ऑनलाइन टैग पर क्लिक करता है, तो कीमतें अपने आप बढ़ जाती हैं.


Loading...

हालांकि रेस्टोरेंट के मालिक डिलिवरी कंपनियों को कुछ कमीशन देते हैं. जिसकी वजह से दाम में 15-35 फीसदी के बीच अंतर बढ़ जाता है. जबकि ज्यादातर बडे ब्रांड के रेस्टोरेंट्स ने एग्रीगेटरों को ऑनलाइन ग्राहकों के लिए अपने मेन्यू को बढ़ाने का अधिकार दिया है. लिहाजा एक बार रेस्टोरेंट्स के मालिक प्राइस बढ़ाने की मंजूरी मिलने पर स्विगी और जोमैटो जैसी कंपनियों को दाम बढ़ाना आसान हो जाता है.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार ने इन सरकारी कंपनियों को बंद करने का दिया आदेश, यहां देखें पूरी लिस्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 26, 2019, 2:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...