विधवा महिलाओं को 5 लाख रुपये और सिलाई मशीन दे रही केंद्र सरकार? यहां जाने कितनी सच है ये बात

एक वीडियो में विधवा महिलाओं को सरकार की तरफ से 5 लाख रुपये और फ्री सिलाई मशीन देने का दावा किया जा रहा है.

एक वीडियो में विधवा महिलाओं को सरकार की तरफ से 5 लाख रुपये और फ्री सिलाई मशीन देने का दावा किया जा रहा है.

Youtube पर वायरल हो रहे एक वीडियो में दावा किया गया है कि मोदी सरकार विधवा महिलाओं के​ लिए 'विधवा महिला समृद्धि योजना' चला रही है. इस योजना के तहत सरकार इन महिलाओं को 5 लाख रुपये नकद और फ्री में एक सिलाई मशीन दे रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 11, 2020, 10:59 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकारी योजनाओं और नीतियों को लेकर केंद्र सरकार आधिकारिक माध्यमों से जानकारी देती रहती है. लेकिन अब एक यूट्यूब वीडियो (Youtube Viral Video) में दावा किया गया है कि केंद्र सरकार 'विधवा महिला समृद्धि योजना' (Vidhva Mahila Samriddhi Yojna) लेकर आई है. इस योजना के तहत केंद्र सरकार विधवा महिलाओं को 5 लाख रुपये नकद और फ्री में एक सिलाई मशीन (Sewing Mahine) दे रही है. ऐसे में आम लोगों के लिए यह जानना जरूरी हो गया है कि क्या केंद्र सरकार वाकई में ऐसी स्कीम चला रही है? अगर सरकार की तरफ से ऐसे किसी स्कीम का ऐलान नहीं हुआ है तो इस दावे की सच्चाई क्या है?

केंद्र सरकार की प्रसे इनफॉर्मेशन ब्यूरा (PIB) के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर इस यूट्यूब वीडियो और इसमें किए गए दावों को फर्जी बताया गया है. इसलिए जरूरी है कि आप इस तरह की किसी भी फर्जी खबरों से बच कर रहें, वरना भारी नुकसान भी उठाना पड़ सकता है.


इस वीडियो में क्या दावा किया जा रहा है?
इस वीडियो में दावा किया गया है कि मोदी सरकार विधवा महिलाओं के लिए '​विधवा महिला समृद्धि योजना' लेकर आई है. इस योजना के तहत केंद्र सरकार सभी विधवा महिलाओं को 5 लाख रुपये नकद राशि और मुफ्त में एक सिलाई मशीन दे रही है.



यह भी पढ़ें: IRCTC को पहले दिन मिला दोगुना सब्‍सक्रिप्‍शन, आज रिटले इंवेस्‍टर्स के पास है सस्‍ते में शेयर खरीदने का मौका

क्या है असली सच्चाई?
पीआईबी के एक आधिकारिक ट्वीटर हैंडल - पीआईबी फैक्टचेक पर वायरल हो रहे इस पोस्ट फर्जी बताया गया है. इस ट्वीट में बताया गया है कि यह दावा फर्जी है. केंद्र सरकार द्वारा 'विधवा महिला समृद्धि योजना' जैसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है.

इसके पहले भी कई यूट्यूब वीडियो और दूसरे ​सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सरकारी योजनाओं के नाम पर फर्जी बातें वायरल कर लोगों को ठगने की कोशिश की गई है. कुछ दिन पहले ही एक यूट्यूब वीडियो में दावा किया गया था कि केंद्र सरकार 'महिला शक्ति योजना' के तहत सभी महिलाओं के बैंक अकाउंट में 60,000 रुपये ट्रांसफर कर रही है. पीआईबी फैक्टचेक ने इस वायरल वीडियो को भी फर्जी करार दिया था. पीआईबी स्पष्ट किया कि केंद्र सरकार द्वारा महिलाओं के लिए ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है.

यह भी पढ़ें: 3 दिन बाद से 24 घंटे मिलेगी बैंक की ये सर्विस, घर बैठे सबसे तेजी से भेज सकेंगे पैसे

आपको भी मिले कोई मैसेज तो करवा सकते हैं फैक्ट चेक
अगर आपको भी कोई ऐसा मैसेज मिलता है तो फिर उसको पीआईबी के पास फैक्ट चेक के लिए https://factcheck.pib.gov.in/ अथवा व्हाट्सऐप नंबर +918799711259 या ईमेलः pibfactcheck@gmail.com पर भेज सकते हैं. यह जानकारी पीआईबी की वेबसाइट https://pib.gov.in पर भी उपलब्ध है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज