लाइव टीवी

14 फीसदी लुढ़कने के बाद Zee एंटरटेनमेंट के शेयरों में जोरदार तेजी, इस वजह से दिखी बढ़त

News18Hindi
Updated: October 7, 2019, 8:01 PM IST
14 फीसदी लुढ़कने के बाद Zee एंटरटेनमेंट के शेयरों में जोरदार तेजी, इस वजह से दिखी बढ़त
सोमवार को जी एंटरटेनमेंट के शेयरों में तेजी दर्ज की गई

सोमवार को कारोबार के दौरान जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइज (Zee Entertainment Enterprice) के शेयरों में जोरदारी तेजी देखने को मिली. कंपनी के शेयरों में यह तेजी तब देखने को मिली जब एक दिन पहले खबर आई थी कि प्रोमोटर्स ने 90 फीसदी हिस्सेदारी प्लेज की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2019, 8:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जी एंटरटनेमेंट एंटरप्राइज (Zee Entertainment Enterprise) के शेयर्स में 14 फीसदी की गिरावट के बाद सोमवार को शानदार रिकवरी देखने को मिली. कंपनी के शेयरों में इतनी तेज उछाल प्रोमोटर्स द्वारा 7,000 करो रुपये की लोन देनदारी के साथ 90 फीसदी हिस्सेदारी प्लेज करने की खबरों के बाद आई. सोमवार को दिनभर के कारोबार के बाद जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज के शेयर्स बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर 250.15 रुपये प्रति शेयर के भाव पर बंद हुए.

मीडिया व एनलिस्ट्स के साथ कॉन्फ्रेंस कॉल के बाद मोतीलाल ओसवाल (Motilal Oswal) ने कंपनी के शेयर्स का टार्गेट प्राइस 265 रुपये प्रति शेयर ही रखा. मनीकंट्रोल की एक रिपोर्टमें  मोतीलाल ओसवाल ने मुख्यत: तीन कारणों से यह टार्गेट प्राइस रखा.

ये भी पढ़ें: बैंक डूबने के बाद आपको मिल सकती है ज्यादा रकम, SBI ने नियम बदलने के ​सुझाव दिए


1. इसमें से पहला कारण तो यह है कि प्रबंधन कंट्रोल प्रोमेाटर्स (ZeePromoters) के हाथ से निकलता जा रहा क्योंकि शेयरहोल्डिंग की मौजूदा वैल्यू 5,000 करोड़ रुपये है, जबकि प्लेजड शेयरों के लिए कुल लोन 6,500 करोड़ रुपये है. यह इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि मौजूदा समय में जी इकलौती ब्रॉ​डकास्टिंग कंपनी है जो लगातार मुनाफे में रही है.

2. दूसरी कारण है कि नॉन-मीडिया इन्फ्रा एसेट्स (Non-Media Infra Assets) की वैल्यू भी लगातार खराब हो रही है. इसको लेकर ऑपरेटिंग कंपनियों पर करीब 12,000 करोड़ रुपये का कर्ज है. इससे कंपनी को फंड जुटाने की संभावना पर असर पड़ेगा और आगे भी कर्ज का बोझ बढ़ता जाएगा.

3. इस ब्रोकरेज कंपनी ने सन टीवी से इनलाइन वैल्युएशन को तीसरा कारण बताया. मोतीलाल ओसवाल ने कहा कि वित्त वर्ष 2021 के में सन टीवी का P/E 12x है, वहीं जी का P/E 11x गुना के करीब है. ऐसे में इंडस्ट्री का कुल वैल्युएशन कम हो जाता है क्योंकि अन्य कंपनियों की तुलना में Zee निवेशकों को कम आकर्षित करेगा.
Loading...

ये भी पढ़ें: कालाधन: स्विस बैंक में किसके कितने पैसे, सरकार को मिली खाताधारकों की लिस्ट

14 फीसदी लुढ़के थे जी के शेयर्स
इसके पहले सोमवार को ही जी एंटरटेनमेंट के शेयर्स 14 फीसदी तक लुढ़कने के बाद BSE पर 203.70 रुपये प्रति शेयर के भाव पर ट्रेड करते हुए नजर आए, जोकि बीते 6 साल का न्यूनतम स्तर है. सोमवार को कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया था कि जी प्रोमोटर्स ने वित्तीय संस्थानों को अपनी हिस्सेदारी के 90 फीसदी हिस्सा प्लेज किया है. शनिवार को जी के प्रबंध निदेशक पुनी​त गोयनका ने कहा ने यह जानकारी दी थी. प्रोमोटर्स की 90 फीसदी शेयर्स कंपनी के कुल शेयर्स का 22 फीसदी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2019, 7:58 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...