Zomato ने महिला कर्मचारियों को दिया तोहफा! साल में 10 दिन देगी Menstrual Leaves

Zomato ने महिला कर्मचारियों को दिया तोहफा! साल में 10 दिन देगी Menstrual Leaves
Zomato ने महिला कर्मचारियों को दिया तोहफा! साल में 10 दिन देगी Menstrual Leaves

भारत की फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो (Zomato) की बड़ी पहल. इस पहले के तहत Zomato ने महिला कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. कंपनी अब अपनी महिला कर्मचारियों को माहवारी अवकाश (Period leave) की व्यवस्था देने जा रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत की फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो (Zomato) की बड़ी पहल. इस पहले के तहत Zomato ने महिला कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. कंपनी अब अपनी महिला कर्मचारियों को माहवारी अवकाश (Period leave) की व्यवस्था देने जा रही है. इसका फायदा कंपनी में काम करने वाली महिलाओं के साथ ट्रांसजेंडरों को भी मिलेगा. Zomato ने अपने इस नए नियम को पीरियड पॉलिसी नाम दिया है. कंपनी ने कहा कि इसका उद्देश्य संगठन में अधिक समावेशी कार्य संस्कृति को बढ़ावा देना है.

पीरियड लीव लेने के लिए आप पूरी तरह स्वतंत्र
Zomato के सीईओ दीपेंदर गोयल ने ईमेल के जरिए अपने सभी महिला कर्मचारियों से कहा कि पीरियड लीव के लिए अप्लाई करते हुए किसी भी प्रकार की शर्म महसूस नहीं होनी चाहिए. यह लीव लेने के लिए आप पूरी तरह स्वतंत्र हैं. ईमेल में कहा गया है कि पीरियड लीव के लिए अपने साथियों को ईमेल और फोन पर सूचना देते हुए बिल्कुल फ्री महसूस होना चाहिए कि आप छुट्टी पर हैं.

ये भी पढ़ें:- लैप्स हो गई है बीमा पॉलिसी? आज से मिल रहा रिवाइव करने का शानदार मौका
गोयल ने कहा, Zomato समझती है कि महिला और पुरुष अलग-अलग बायोलॉजिकल रियलिटी के साथ पैदा होते हैं. यह समझना हमारा काम है कि हम अपनी जरूरतों के लिए जगह बनाएं. गोयल ने अपने पुरुष कर्मचारियों के लिए लिखा कि उन्हें कतई शर्मिंदा नहीं होना चाहिए जब एक महिला कर्मचारी कहती है कि वह पीरियड लीव पर है. साथ ही किसी महिला कर्मचारी को यह अवकाश लेने में असहज महसूस नहीं होना चाहिए. इस अवकाश के लिए आवेदन करना कलंक वाली बात नहीं होनी चाहिए.



ये भी पढ़ें:- सिलेंडर मैन अगर आपको देता है कम गैस तो करें यहां शिकायत, होगी तुरंत सुनवाई

5 हजार से अधिक लोग करते हैं काम
Zomato की स्थापना वर्ष 2008 में हुई थी. इसका हेड ऑफिस गुरुग्राम में है. कम समय में ही कंपनी ने भारतीय बाजार में अपनी अलग पहचान बना ली है. भारत के अलावा दूसरे देशों में भी कंपनी अपनी सेवाएं देती है. Zomato में पांच हजार से ज्यादा लोग काम करते हैं. भारत में लाखों महिलाओं और लड़कियों को अभी भी मासिक धर्म के बारे में जागरूकता की कमी के कारण भेदभाव और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. ऐसे में Zomato के इस फैसले की हर तरफ प्रशंसा हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज