Zomato पर पड़ी महंगे पेट्रोल की मार, बढ़ानी पड़ी डिलिवरी पार्टनर्स की सैलरी

जोमैटो

जोमैटो

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम जन के साथ कंपनियों को भी काफी प्रभावित की है. यही वजह है कि पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बाद अब ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो (Zomato) पे-स्ट्रक्चर को संशोधित करने का ऐलान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 6:14 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम जन के साथ कंपनियों को भी काफी प्रभावित की है. यही वजह है कि पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बाद अब ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो (Zomato) पे-स्ट्रक्चर को संशोधित करने का ऐलान किया है. फ्यूल की ऊंची कीमतों की वजह से कंपनी डिलिवरी पार्टनर्स को ज्यादा भुगतान करेगी. कंपनी का यह फैसला डिलिवरी पार्टनर्स द्वारा वेतन में वृद्धि को लेकर देशभर में हड़ताल करने के बाद आई है. इसमें कहा गया है कि ईंधन की कीमतें अपनी इनकम को प्रभावित कर रही है.

जानें क्या कहा कंपनी ने?
Zomato ने गुरुवार को कहा कि संशोधित वेतन स्ट्रक्चर में दूरी के वेतन का एक एडिशनल कंपोनेंट शामिल होगा जो ईंधन की कीमतों में बदलाव के अनुकूल आंका जाएगा. यह संरचना मौजूदा Remuneration के ऊपर लागू होगी. इसे ईंधन की कीमतों में परिवर्तन के आधार पर समायोजित किया जाएगा ताकि डिलीवरी भागीदारों को फूड डिलिवरी करने के लिए होने वाली लागत के लिए क्षतिपूर्ति की जा सके.

ये भी पढ़े- PUBG Mobile 2: आ रहा है PUBG का नेक्स्ट वर्जन, जानिए भारत में लाॅन्च होगा या नहीं?
लंबी दूरी वाले डिलिवरी पाटर्नस को मिलेगी मदद


रिपोर्ट के मुताबिक, जोमैटो ने कहा कि कंपनी ने यह देखा कि लंबी दूरी पर पेट्रोल की बढ़ती कीमत का ज्यादा असर पड़ता है. ऐसे में अतिरिक्त पेमेंट करने से लंबी दूरी की डिलिवरी करने वाले डिलिवरी पाटर्नस को जल्द से जल्द ग्राहकों तक पहुंचने में मदद मिलेगी. वर्तमान में जोमैटो के पास 1.5 लाख से अधिक डिलिवरी पार्टनर्स हैं. कंपनी इस संख्या को और ज्यादा मजबूत करने की योजना बना रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज